Posts

Showing posts from September, 2018

मुठभेड़ के नाम पर हत्याएं करने वाले पुलिस वालों की पीठ थपथपाने का नतीजा है विवेक तिवारी की हत्या- रिहाई मंच

Image
महताब खान ठोक देने और आपरेशन क्लीन कहने वाले योगी और डीजीपी मासूम बच्चियों के पिता के कत्ल के गुनहगार एंटी रोमियो स्क्वायड जैसी हिन्दुत्वादी जेहनियत से लैस पुलिस ने ली विवेक तिवारी की जान पहलू खान मामले के गवाहों की गाड़ी पर हमला सत्ता संरक्षित गौगुंडों को सरकार और पुलिस का पूरा संरक्षण लखनऊ 29 सितम्बर 2018। रिहाई मंच ने लखनऊ में एप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की पुलिस आरक्षी द्वारा गोली मारकर की गई हत्या के लिए योगी सरकार को जिम्मेदार ठहराया। मंच ने बेहरोर हरियाणा में पहलू खान हत्या मामले में अदालत में गवाहों के बयान दर्ज करवाने जाते समय एडवोकेट असद हयात की गाड़ी पर फायरिंग की घटना को सत्ता संरक्षित करार दिया। मंच ने कहा कि पुलिस और सरकारी गुंडे आम नागरिक से लेकर हर उस इंसाफ की आवाज का कत्ल करने पर उतारु हैं तो उसके खिलाफ है। लखनऊ में विवेक तिवारी की हत्या योगी सरकार के उसी आपरेशन क्लीन का हिस्सा है जिसमें आम नागरिकों से उनके जीने का अधिकार छीना जा रहा है। फर्जी मुठभेड़ों के बाद अपराधी पुलिस वालों की पीठ थपथपाने वाले योगी और डीजीपी उन मासूम बच्चियों के पिता के कत्

अब इन 'चुगलखोर' झूठों की क्या सज़ा होगी सरकार...!

Image
खान अशु तालीम, रोजगार, कारोबार, मजहबी मसले, समाज के हमकदमी की तहरीर और तरकीब...! बात करने के लिए उलेमा शहर में जुटने वाले हैं...! अखबार का धर्म और खबरनवीस का कर्म, सबको खबर पहुंचाई गई...! तलवे चाटुओ, मौकापरस्त और बेवजह से वजह निकालने की कोशिश में लगे रहने वालों की पेटदुखाई इस हद पर खत्म हुई कि जिम्मेदारों की कान फुकाई कर, *शहर की शान्ति को खतरा होने वाला है। * जिम्मेदारों पर भी दबाव, बरगलाव और ख़ौफ़ इतना तारी था कि आनन फानन शहर के तीन मोअज्जिज कलमकारों(एक नया, लेकिन दो आधी ज़िंदगी अखबारों में गुजार चुके) को *चाय पर तलब* कर डाला। *5 मिनट की फॉर्मल, लेकिन थाने की चौखट की जलालत* नसीब हो गई। शायद इसी के लिए सारा प्रपंच भी हुआ था...! *न कहीं लिखने और न दिखने वाले स्वयंभू पत्रकार* चटखारे के साथ खबर ब्रेक करते नजर आए...! घटिया शब्दों में उनकी अतिघाटिया मानसिकता परिलक्षित हुई...! रिक्शा, ठेला चलाने वाले और कई लोगों कठपुतली बने हुए जाहिलों ने भी मन की कहानियां परोसने में देर नहीं की...! रविवार गुजर गया, *इत्तेहाद-ए-मिल्लत* का प्रोग्राम हो गया, न शहर भड़का, न शान्ति भंग हुई, न कानून और व्य

मुसलमान रहो मगर काफिर बनकर !!

Image
लेख: गुलाम मुस्तफा नईमी महासचिव तहरीक फरोग़े इस्लाम  दक्षिण अफ्रीका gmnaimi@gmail.com आप को कैसा लगेगा अगर आपके पड़ोस में रहने वाले मुजीब उर रहमान का बेटा "जयराम" के नाम से जाना जाऐ, आपके साथ काम करने वाले ताहिर का बेटा "जय किशन" हो, जिस शकील अहमद से आप दूध खरीदते हैं उसके बेटे का नाम "ओम प्रकाश" हो, खुद आप को अपने बेटे का नाम "शंकर दयाल" रखने के लिए मजबूर होना पड़े। चौंकिए मत!! यह किसी उपन्यास का अंश नहीं है और न ही किसी धर्मनिरपेक्ष मुस्लिम नुमा हिन्दू के घर की कहानी है, यह स्वतंत्र भारत में मुसलमानों के भविष्य की एक झलक है.आप कहेंगे भला यह कैसे संभव है कि मुसलमान अपने बच्चों के हिन्दुवानी नाम रखें?? तो श्रीमान जी !! नींद से जाग जाएं जिस चीज़ को आप असंभव समझ रहे हैं उस पर अमल शुरू हो गया है.हरियाना के रोहतक जिले के टिटोली गांव में एक पंचायत ने मुसलमानों के नमाज़ पढ़ने, टोपी लगाने, दाढ़ी रखने और इस्लामी नामों पर प्रतिबंध लगा दिया है। *असल माजरा क्या है?* राजधानी दिल्ली से महज 66 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद रोहतक जिले में टिटो

बलरामपुर: भ्रष्टाचार महंगाई और उत्पीड़न के खिलाफ सपा के कार्यकर्ताओं ने साइकिल चला किया विरोध प्रदर्शन

Image
इकबाल खान बलरामपुर। वीर विनय चौराहा से हरिहरगंज तक हजारों साइकिल यात्रीयों ने भाजपा के प्रदेश और केंद्र सरकार के जनविरोधी नीतियों के खिलाफ भ्रष्टाचार महंगाई और उत्पीड़न के खिलाफ सपा के कार्यकर्ताओं ने साइकिल चला कर जंन जागरण किया और सपा सरकार द्वारा किए गये जनहित के कार्यो राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी एंव संरक्षक माननीय मुलायम सिंह यादव जी के मुख्यमंत्री काल के जनहित कार्यो का प्रचार प्रसार किया। इस अवसर पर डॉ एस0 पी0 यादव ने कहा केंद्र की मोदी सरकार को सभी मुद्दों पर विफल बताया । उन्होंने कहा कि केंद्र में जब से नरेंद्र मोदी की सरकार बनी है उसी के बाद से लगातार महंगाई आसमान छूती जा रही है ।सरकार का पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों पर कोई नियंत्रण नहीं है । साइकिल यात्रा में पूर्व राज्यमंत्री डा एस पी यादव, जिला अध्यक्ष ओंकार नाथ पटेल, प्रदेश सचिव राशिद अलवी,पूर्व विधायक जगराम पासवान ,पूर्व विधायक अनवर महमूद,युवजनसभा जिला अध्यक्ष राकेश यादव ,जिला महासचिव इकबाल जाबेद फलावर ,विधानसभा अध्यक्ष काजी नुरुलहुदा हुदा, विधानसभा अध्यक्ष सफीउल्ला खाँ, जिला मीडिया प्रभारी बहलोल नियाजी,

रायबरेली की नगर पंचायत महराजगंज पर जल्द ही योगी सरकार करेगी धन वर्षा

Image
शिवाकांत अवस्थी रायबरेली। इतनी कम उम्र में राजनीति की बुलंदियों पर पहुंच कर जो सामाजिक सेवा करने का काम जिला पंचायत सदस्य व चेयरमैन पति प्रभात साहू ने किया है, उसी की बदौलत नगर पंचायत महराजगंज में लगातार तीसरी बार जीत दर्ज कर यह सिद्ध कर दिया है कि विकास के रथ पर बैठा हुआ जनप्रतिनिधि को जनता हमेशा सम्मान देने का काम करती है। जिसका जीता जागता उदाहरण नगर पंचायत महराजगंज का विकास बता रहा है। यह उद्गार आज रायबरेली के एक रेस्टोरेंट में एक कदम स्वच्छता की ओर व साहू समाज द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में एक कदम स्वच्छता की ओर पत्रिका का, विमोचन के दौरान प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी उपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए व्यक्त कर रहे थे।         आपको बता दें कि, कैबिनेट मंत्री नंद कुमार नंदी ने कहा कि, जिस तरह रायबरेली की बेटी सुधा सिंह प्रदेश ही नहीं बल्कि देश में नाम रोशन कर रायबरेली का गौरव बढ़ाने का काम किया है, उसी तरह महराजगंज नगर पंचायत की चेयरमैन सरला साहू व उनके पति जिला पंचायत सदस्य प्रभात साहू पूरे प्रदेश में विकास रूपी चेयरमैन एवं जिला पंचायत सदस्य के रूप मे

निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए भाजपा के कैबिनेट मंत्री ने केयर ऑफ मीडिया के पत्रकार को किया सम्मानित

Image
रायबरेली। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ व हर जगह अपनी जान जोखिम में डालकर कवरेज करने का माजदा रखने वाले हमारे पत्रकार भाई हमेशा समाज को आइना दिखाने का काम करते हैं तथा शासन और प्रशासन को यह बताने का काम करते हैं कि वह समाज को विकास की ओर ले जाने के लिए ऐसे कार्य करें, तथा उनमें कमियों को उजागर कर सरकार और आलाधिकारियों को आईना दिखाने का काम करते हैं और एक नई रूपरेखा देने का काम समाज के सजग प्रहरी लोकतंत्र के चौथे स्तंभ निरंतर करते रहे हैं, हमेशा करते रहेंगे। एक कदम स्वच्छता की ओर पत्रिका का विमोचन करने के पश्चात आयोजित सम्मान समारोह में पत्रकारों को सम्मानित करने के उपरांत प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी उपस्थित जनसैलाब को संबोधित करते हुए व्यक्त कर रहे थे। nbsp;     आपको बता दें कि, सम्मान समारोह के दौरान रायबरेली जिले के वरिष्ठ पत्रकार गौरव अवस्थी, वरिष्ठ पत्रकार मधुकर रसिक द्विवेदी, वरिष्ठ पत्रकार अशोक शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार विजय कुमार द्विवेदी, वरिष्ठ पत्रकार रोहित मिश्रा व महराजगंज क्षेत्र के तेज तर्रार केयर आफ मीडिया के वरिष्ठ पत्रकार शिवाकांत अवस्थी को प्रतीक चिन्ह व

रायबरेली के बछरावां में रेलवे लाइन के पास सिर कटी लाश मिलने से मचा हड़कंप

Image
रायबरेली जिले के बछरावां थाना क्षेत्र के बगाही गांव के निकट रेलवे लाइन के पास 17 वर्षीय युवक की सिर कटी लाश मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। ग्रामीणों ने युवक की हत्या की आशंका जताई है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है।

एक महीने में पांच बार फुंका ट्रांसफार्मर तो बिजली विभाग ने ग्रामीणों को अंधेरे में ही धकेल दिया

Image
तुफैल इदरीसी  केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के दावों को सुल्तानपुर में बिजली विभाग पलीता लगाता नजर आ रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में फुंकने वाले ट्रांसफार्मर को लेकर बिजली विभाग गंभीर नहीं है। महीने भर में पांच ट्रांसफार्मर फुंकने के बाद भी विद्युत विभाग ट्रांसफार्मर बदलने में दिलचस्पी नहीं दिखाता। विभागीय लापरवाही का खामियजा इस समय किसानों को भुगतना पड़ रहा है। किसान सिंचाई को लेकर परेशान हैं। बारिश के मौसम में भी बारिश नहीं हो रही है। खेतों में जो फसल चल रही है उसको पानी की बेहद जरूरत है। मौसम की बेरुखी से किसान परेशान हैं। उनकी परेशानियों को बिजली विभाग और भी बढ़ा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में फुंके ट्रांसफार्मरों को बदलने में विभाग लापरवाही बरतता है। ताजा मामला सुल्तानपुर के सूरापुर का है जहां महीने भर में पांच ट्रांसफार्मरों को विभाग ने बदला फिर भी कामयाबी हासिल नहीं हुई।  विभागीय लापरवाही से इस 1500 आबादी के क्षेत्र के लोग अन्धेरे में रात गुजारने को मजबूर हैं। क्षेत्रों में किसान की फसल सूख रही है। किसानों में विभाग के प्रति आक्रोश भी बढ़ रहा है। गांव में बिजली की लाइने क

अमीरों को प्रेमजाल में फंसाकर अश्लील वीडियो बनाने बाद ब्लैकमेल करने वाले गिरोह का हुआ पर्दाफाश

Image
दीपक कुमार  यूपी के संभल में पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का खुलासा किया है जो लोगों को महिलाओं के जाल में फंसाता था और महिलाओं के साथ लोगों की अश्लील वीडियो बनाकर उनसे मोटी रकम के रूप में रंगदारी मांगा करता था। कुछ दिन पहले ही इस गिरोह ने चंदौसी कोतवाली इलाके के एक युवक को अपने जाल में फंसाया और अपनी जगह बुलाकर गिरोह की एक युवती से उसके जबरन शारीरिक सम्बन्ध बनवाये। जिसके बाद युवक को उसके घर भेजकर उससे 10 लाख के रंगदारी मांगी गयी। युवक ने ये बात अपने परिजनों को बता दी। जिसके बाद परिजनों ने होशियारी दिखाते हुए पूरे गिरोह को पुलिस से गिरफ्तार करवा दिया। पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेज दिया है। यूपी के संभल में पुलिस ने लोगों को ब्लैकमेल कर रंगदारी मांगने वाले गिरोह के 6 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। जिसमें 2 महिला, 1 युवती और 3 युवक शामिल हैं। दरअसल पकड़ा गया गैंग युवाओं को अपना निशाना बनाया करता था। गैंग की महिलाएं और युवती युवाओं को अपने जाल में फंसाती थीं और उनको अपने जगह बुलाकर उनके साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाया करती थी। जिस कमरे में ये सब हुआ करता था उसमे ख़ुफ़िया कैमरे लगे रहते थे। जिससे

अलीगढ़ एनकाउंटर पर उठे सवाल, सोशल मीडिया के कटघरे में पुलिस

Image
Sarfaraz Saifi हमारे लड़के कोई चोर-बदमाश नहीं थे. वो कढ़ाई का काम करते थे. इससे पहले कभी भी कोई पुलिस केस नहीं हुआ और न ही जेल गए. 16 सितंबर को पुलिस पूछताछ के बहाने उन्हें घर से बुलाकर ले गई थी. उसके तीन दिन बाद पुलिस ने कहा कि वो उनकी हिरासत से भाग गए हैं. 20 सितंबर को उनका एनकाउंटर कर दिया गया. ये कहना है अलीगढ़ एनकाउंटर में मारे गए नौशाद और मुस्तकीम की मां का. अभी यूनाइटेड अगेंस्ट हेट की ओर से प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान उन्होंने अलीगढ़ पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए.नौशाद की मां शाहीन ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए सवाल किया, 'अगर पुलिस सही है तो हमें घर में कैद करके क्यों रखा गया है. क्यों हमे किसी से मिलने नहीं दिया जा रहा है? क्यों हमारे घर खाना लेकर आने वाले पड़ोसियों को रोका जा रहा है? हमारे घर के बाहर पुलिस क्यों और किस मंशा से बैठाई गई है? मुस्तकीम की मां ने आरोप लगाते हुए कहा, 'पुलिस 2007 के एक मामले में नौशाद और मुस्तकीम को अपराधी बता रही है. पुलिस कह रही है कि उन्हें इस मामले में डासना जेल में रखा गया था, जबकि मौत के वक्त नौशाद की उम्र

फिर बीजेपी चुनाव कैसे जीतेगी भाई?

Image
नदीम अख्तर  ब्राह्मण नाराज़ है। एससी-एसटी खफा है। ओबीसी मुंह फुलाए बैठा है। मुसलमानों के वोट की इनको घोषित दरकार नहीं। बाकी अन्य अगड़ी जातियां भी खार खाए बैठी हैं। फिर बीजेपी चुनाव कैसे जीतेगी भाई??!! शिवराज सिंह से लेकर रमन सिंह और वसुंधरा राजे से लेकर योगी आदित्यनाथ तक के शासन ने कोढ़ में खाज बढ़ाने का ही काम किया है। खासकर सबसे महत्वपूर्ण यूपी में तो योगी ने जनता को त्राहिमाम करवा दिया है। ये हाल तब है जब यूपी में सीएम के अलावा दो-दो डिप्टी सीएम हैं। वैसे ये होना ही था। सत्ता का नशा ऐसे ही सिर चढ़कर बोलता है। दिल्ली में भी जब शीला दीक्षित सीएम थीं, तो वह और उनके मंत्री इसी गुरूर में बात करते थे। शीला तो इतनी arrogant थीं कि वो अरविंद केजरीवाल को कुछ समझ ही नहीं रही थीं। बाद में उसी केजरीवाल ने शीला को उनके घर में हराया। नौसिखिया जीत गया और अनुभवी महारथियों को जनता ने धूल चटा दी। अब इसी चीज़ को आप राष्ट्रीय फलक पर रख के देखिए। राहुल गांधी पप्पू बना दिए गए हैं पर राफेल पर उनके सवालों से पूरी सरकार बौखलाई हुई है। यही हाल तब था, जब अटल जी पीएम थे और सोनिया गांधी को प्रमोद महाजन ए

मोहम्मद जाहिद ने विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को लिखा खुला खत

Image
मोहम्मद जाहिद  मुझे विवेक तिवारी की विधवा कल्पना तिवारी के साथ पूरी संवेदना और सहानुभूति है , विवेक की दोनों बेटियों प्रियांशी और दिव्यांशी को देखता हूँ तो दिल रोता है कि उनको अपने बचपन में इतना बड़ा दुख भोगना पड़ रहा है। पर क्या कल्पना तिवारी और विवेक तिवारी के अंदर ऐसी संवेदना नहीं थी ? विवेक तिवारी मोदी भक्त था , योगी जी के मुख्यमंत्री बनने पर उसके घर में जश्न मना था। सोच रहा हूँ कि विवेक तिवारी-कल्पना तिवारी को योगी जी के मुख्यमंत्री बनने पर क्युँ खुशी थी ? मुख्यमंत्री योगी जी उनकी पसंद क्युँ थे ? उनके नायक क्युँ थे ? घर मैं जश्न मना , पार्टी हुई तो तिवारी जी सिर्फ़ वोटर तो नहीं रहे होंगे ? योगी जी की कौन सी उपलब्धियाँ या कारनामे थे जो कल्पना तिवारी के अनुसार योगी जी के मुख्यमंत्री बनने पर घर में पार्टी की जश्न मनाया , वह गृहक्षेत्र के थे ऐसा भी नहीं क्युँकि योगी जी ठहरे गोरखपुर के , विवेक तिवारी सुल्तानपुर के और कल्पना तिवारी रायबरेली की। क्या जब कब्र से निकाली महिलाओं के साथ दुष्कर्म का ऐलान किया जा रहा था तब यह तिवारी परिवार योगी जी को नायक माना या दिन प्रतिदिन

थाने पहुंचा पति पत्नी का झगड़ा तो पति ने थाने से आकर पत्नी को पीटा | Raebareli News

Image
रायबरेली जिले के खीरों थाना क्षेत्र के गांव ठकुराइन खेडा मजरे सगुनी में दम्पति के बीच हुए झगड़े में पति ने पत्नी की पिटाई कर उसे गम्भीर रूप से घायल कर दिया। पत्नी की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया और दोनों के बीच सुलह समझौता कराकर मामले को रफा दफा कर दिया लेकिन पुलिस के चंगुल से छूटे पति ने घर पहुंचकर एक बार फिर पत्नी की पिटाई कर डाली। घायल अवस्था में पत्नी थाने पहुंची और पुलिस से न्याय की गुहार लगाई। पुलिस ने मामले में अभियोग पंजीकृत कर पीड़िता को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़िता सुन्दरी देवी के मुताबिक उसका पति कमलेश करीब 15 दिन पहले मुंबई से आया है और वह जब भी परदेश से कमाकर लौटता है उसे प्रताड़ित करता है। इस बार तो उसने प्रताड़ना की हद ही पार कर दी और अपनी पत्नी को पीट पीटकर लहूलुहान कर दिया।

अमरोहा में पुरानी रंजिश को लेकर हुए खूनी संघर्ष में गोली लगने से दो लोग हुए घायल

Image
मोहम्मद आसिफ  अमरोहा जनपद की हसनपुर कोतवाली इलाके के काला खेड़ा गांव में पुरानी रंजिश को लेकर दो पक्षों के बीच जमकर गोलीबारी हुई। इस खूनी संघर्ष में गोली लगने से दोनों पक्षों के दो लोग घायल हुए हैं। जिन्हें गंभीर हालत में हायर सेंटर रेफर किया गया है। जहां घायलों की हालत नाजुक बताई जा रही है। हसनपुर कोतवाली इलाके के काला खेड़ा गांव में पिछले तीन सालों से दो परिवारों के बीच पुरानी रंजिश चली आ रही है। जिसकी वजह से दोनों पक्ष के लोग हमेशा जरा जरा सी बात पर लड़ने मरने को तैयार हो जाते हैं। विगत दिवस भी कुछ ऐसा ही हुआ जब बकरी के बच्चे के घर में घुस जाने की वजह से दोनों पक्ष में मारपीट हो गयी जो थोड़ी ही देर में खूनी संघर्ष में बदल गयी। दोनों पक्षों की ओर से हुई गोलीबारी में एक पक्ष के 55 वर्षीय बहादर अली और दूसरे पक्ष की 25 वर्षीय रुकसार गोली लगने से घायल हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार सिंह दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और स्थिति को काबू में किया।

चार लाख रुपये में ईमानदार थानेदार के जमीर को खरीदने आया बदमाश हुआ गिरफ्तार

Image
अमन पठान  आपने पुलिस की रिश्वतखोरी के तमाम मामले देखे और सुने होंगे लेकिन आज पुलिस की ऐसे ईमानदार पुलिस अफसर की ईमानदारी को भी जान लीजिए जिसकी वजह से पुलिस का सिर गर्व से ऊंचा हुआ है। यूपी के संभल में चार लाख रुपये में एक ईमानदार थानेदार के जमीर को खरीदने आया लुटेरा रिश्वतखोरी के आरोप में गिरफ्तार हो गया। संभल जनपद के रजपुरा थाना क्षेत्र में बीती 12 जुलाई को लाखों रुपयों की पीतल की मूर्तियां लूट हुई थीं। इसी मामले का एक आरोपी चार लाख रुपये की रिश्वत लेकर रजपुरा थानाध्यक्ष प्रवीण सोलंकी का ज़मीर खरीदने पहुंचा और चार लाख रुपये की रिश्वत देते हुए मुकद्दमे में हाईकोर्ट से अरेस्टिंग स्टे का हवाला देकर मुकद्दमे से अपना नाम निकलवाने की पेशकश करने लगा। थाना इंचार्ज प्रवीण सोलंकी ने रिश्वत देने के आरोप में बुलंदशहर के सिकन्दराबाद निवासी मोमिन को गिरफ्तार कर लिया और चार लाख रुपयों से भरा थैला जब्त कर किया। थानाध्यक्ष ने आरोपी की निशानदेही पर लूटी गईं 28 मूर्तियों को भी बरामद कर लिया।

श्रावस्ती में बुखार और गले की सूजन से 3 मासूम बच्चों की मौत, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

Image
अमन पठान  यूपी के श्रावस्ती जिले विकास खण्ड जमुनहा की ग्राम पंचायत हरदत्त नगर गिरन्ट के मजरा अयोध्या पुरवा में बुखार और गले की सूजन से 3 बच्चों की मौत हो जाने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। बीमारी के इस प्रकोप से गांव के दर्जनों लोगों के प्रभावित हो चुके हैं। जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी मौके पर पहुंचे और स्वास्थ्य कैम्प लगवाकर ग्रामीणों का चेकअप करवाया और गांव में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव करवाकर इस बीमारी के फैलने से रोकने का प्रयास किया गया है। अचानक बुखार से तीन बच्चों की मौत हो जाने की खबर मिलते ही जिलाधिकारी दीपक मीणा मौके पर पहुंचे। मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात कर डीएम ने शोक संवेदना व्यक्त की। डीएम ने ग्रामीणों से उनकी समस्याएं जानीं और गांव का निरीक्षण करने के बाद डीएम ने ग्राम प्रधान को गांव को साफ स्वच्छ रखने के निर्देश दिए और डस्टबिन रखवाने के लिए ग्राम प्रधान को निर्देशित भी किया। डीएम ने गांव में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कराने के बाद स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कराकर ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कराकर बीमार लोगों को दवाओं का वितरण कराया। इसके अलावा डीएम ने

सलमान खान बहुत बड़े स्टार हैं पर शादी क्यों नहीं कर पा रहे, इस वीडियो को देखें

Image
नदीम अख्तर  सोशल मीडिया पे दिखावटी खुशी इंसान को अंदर से मार रही है। आप भीड़ से घिरे हैं पर बिल्कुल तन्हा हैं। कम दोस्त बनाइए पर अच्छे बनाइए। उनसे मिलिए, दिल का हाल बताइए। दिखावटीपन में कुछ नहीं रखा। भारत में हीरोइन से लेकर मॉडल तक खुदखुशी कर रही हैं। सलमान खान बहुत बड़े स्टार हैं पर शादी नहीं कर पा रहे। उनके घर में बैठा हूँ, इसलिए बता रहा हूँ। शोहरत है पर मुहब्बत नहीं। इस दुनिया में आपको सब कुछ मिल जाएगा, दौलत, शोहरत, नाम, तारीफ, भीड़, फॉलोवर...मतलब सब कुछ। सिर्फ दो चीज़ नहीं मिलेगी। मुहब्बत और सच्चा दोस्त। ये पैसे से नहीं खरीदे जा सकते। जिनको ये मिल गया, उसको इसी दुनिया में जन्नत मिल गयी। ये सारा पैसा, ये सारी शोहरत, ये सारी दुनियावी कामयाबी, ये सारी दुनिया एक तरफ और मुहब्बत!! असली मुहब्बत एक तरफ। ये चीज़ दुनिया में बाकी सभी चीजों पे भारी है। ऐसे बदनसीब हैं यहां जिनको नरम गद्दों पे AC की हवा में भी नींद नहीं आती और ऐसे खुशनसीब हैं यहां जो ज़मीन पे चैन की नींद सो जाते हैं। ये आपको तय करना है कि आपको क्या चाहिए??!! इस वीडियो को देखिए। समझ जाइएगा।

यह एक बेकसूर ब्राह्मण के मार दिए जाने के कारण है , बाकी बेकसूर मरते हैं तो मरते रहें?

Image
मोहम्मद जाहिद  ब्राम्हण वाकई सर्वश्रेष्ठ होता है। जीवित रहते तो वह अपनी सर्वश्रेष्ठता सिद्ध करता ही है मर कर भी करता है। 16 लाख की एसयूवी से चलने वाला एपल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की विधवा को नौकरी और ₹25 लाख मिल गयी , हालाँकि उनकी माँग एक करोड़ की थी पर ₹25 लाख भी इस संवेदनहीन सरकार ने यदि 12 घंटे के अंदर दे दिया तो वह विवेक तिवारी के ब्राम्हण होने के कारण ही है। नहीं तो पिछले 18 महीने की सरकार में हुए 1100 फर्जी इनकाउंटर में करीब 70 मुसलमान-दलित-ओबीसी वर्ग के लोग पुलिस की गोली से मारे गये। किसे चवन्नी मिली ? विवेक तिवारी भी यदि मुसलमान होता और अमेरिकी कंपनी एपल का अधिकारी ना होता तो पुलिस को उनकी एसयूवी में प्रतिबंधित हथियार रखने में कितने मिनट लगते ? और पुलिस को यह सिद्ध करने और समाचार पत्रों के माध्यम से यह प्रोपगंडा करने में कितने मिनट लगते कि मुठभेड़ में मारा गया शख्स "इंडियन मुजाहिदीन" की स्लीपर सेल का आतंकी था और योगी को मारने आया था। क्या इस देश में हमने ऐसी कहानियाँ नहीं सुनी ? वो तो संयोग से मृतक तिवारी निकल गया जो कभी अपराधी हो ही नहीं सकता , त

एनकाउंटर कर दो योगी खुश होगा और शाबाशी देगा पर वह विवेक तिवारी निकला?

Image
गलती चौधरी जी की नहीं है , उनको पता होता कि एसयूवी ना रोकने वाला एपल कंपनी का एरिया मैनेजर विवेक तिवारी है तो चौबे जी उस पर कभी गोली नहीं चलाते। उन्होंने तो सोचा होगा कि मुसलमान है जो पुलिस से भाग रहा है एनकाउंटर कर दो योगी खुश होगा शाबाशी देगा पर वह विवेक तिवारी निकला। योगी जी ने पुलिसवालों का हाथ खुला छोड़ रखा है कि जो गाड़ी भी ना रोके उसकी कनपटी पर गोली मार दो। वाह योगी जी वाह मोहम्मद जाहिद के फेसबुक पेज जाहिदनामा से साभार 

धार्मिक आधार पर हो पीठ : पाँच सदस्यी पीठ का भी गठन करना चाहिए जिससे न्यायालय की निष्पक्षता पर संदेह ना हो?

Image
मोहम्मद जाहिद  आज के भारत के सांप्रदायिक वातावरण में इस सांप्रदायिक वायरस से कौन अछूता होगा इसकी पहचान असंभव ही है। ज़रा सोचिए कि 1994 के "इस्माईल फारूखी" फैसले को ऊपरी बेंच को ना भेजने का फैसला लेने वाली बेन्च के एक न्यायधीश अब्दुल नज़ीर ने जो टिप्पणी की है क्या वह उन्होंने कोर्ट रूम के इतर अपने समकक्ष दोनों जजों को नहीं समझाया होगा ? चैंबर या इसी केस पर फैसले के संबन्ध में अपने समकक्षों के समक्ष क्या अपनी बात सही साबित करने के लिए दलीलें नहीं दी होंगी ? बिल्कुल दी होंगी पर जब दो अन्य जज यह सोच ही चुके हैं कि मामले को ऊपरी अदालत में नहीं भेजना है तो कोई भी दलील क्या असर कर सकती है ? वहाँ भी जस्टिस अब्दुल नज़ीर अल्पसंख्यक ही होकर रह गये और उनकी दलील बहुसंख्यक के ज़ोर पर 2-1 से खारिज हो गयी। उच्चतम न्यायालय का अब कुछ भी छुपा नहीं है और चार वरिष्ठ जज अपनी अदालत छोड़ कर जनता की अदालत में आकर जब खुद के लिए न्याय माँगने लगे तो कोई भी सामान्य सा व्यक्ति अंदरखाने की स्थीति समझ सकता है। उन चार जजों के बयानों से यह सिद्ध हो गया कि जजों की मानसिकता के आधार पर मुकदमें उन

विवेक तिवारी हत्याकांड : चश्मदीद गवाह सना खान से इसलिए पुलिस ने कोरे कागज़ पर करवाए थे साइन

Image
लखनऊ।  राजधानी लखनऊ के मशहूर गोमतीनगर विस्तार में एप्पल कंपनी के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी की हत्या के वक्त उसकी पूर्व महिला सहकर्मी एसयूवी में मौजूद थी। वारदात के बाद पुलिस ने सना को तत्काल थाने भेज दिया और पूछताछ की गई। इसके बाद पूर्व महिला सहकर्मी की तहरीर पर दो अज्ञात सिपाहियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया। वारदात की एक मात्र चश्मदीद गवाह को पुलिस ने शुक्रवार रात दो बजे से शनिवार शाम पांच बजे तक नजरबंद रखा। इस दौरान उसके आसपास पुलिस का पहरा बैठाए रखा। किसी से मिलने नहीं दिया जा रहा था। जैसे ही वह आजाद हुई तो उसने पुलिस के झूठ की धज्जियां उड़ा दीं। विवेक तिवारी हत्याकांड की इकलौती चश्मदीद गवाह पूर्व महिला सहकर्मी के मुताबिक, आईफोन की लॉन्चिंग शुक्रवार को थी। देर रात उसे छोड़ने के लिए विवेक घर जा रहे थे। इस बीच पुलिस वालों ने उन्हें गोमतीनगर विस्तार में रुकने का इशारा किया, लेकिन विवेक ने एसयूवी नहीं रोकी। इस पर सिपाहियों ने जबरदस्ती शुरू कर दी। इसके बाद भी विवेक ने एसयूवी नहीं रोकी तो सिपाहियों ने बाइक एसयूवी के आगे लगा दी। इसके बाद विवेक बाइक से बचकर निकलने लगा त

विवेक तिवारी हत्याकांड पर पर्दा डालने के लिए FIR दर्ज करने में भी पुलिस ने किया खेल, ये हैं वो 7 सवाल

Image
लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में ऐपल के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी हत्याकांड में पर्दा डालने और आरोपियों को बचाने के लिए पुलिस पर हर तरह की चाल चलने का आरोप लगा है। विवेक को गोली मारे जाने के बाद पुलिस ने परिजनों से तहरीर लेने के बजाए आननफानन उनकी पूर्व सहकर्मी सना से ही मनमाफिक तहरीर लिखवाकर मुकदमा दर्ज कर लिया। तहरीर लिखते समय पुलिसकर्मियों ने साथियों को बखूबी बचाया है। घटनास्थल पर उनके मौजूद होने का जिक्र तक नहीं किया गया। हालांकि, डीएम कौशलराज शर्मा ने घरवालों की तहरीर पर भी केस दर्ज करने का आश्वासन दिया है। सहकर्मी सना के सामने ही गोली मारी न्यू हैदराबाद निवासी विवेक तिवारी को पुलिसकर्मियों ने उनकी सहकर्मी सना के सामने ही गोली मारी थी। पुलिस इस मामले को काफी देर तक दबाए रही। इसी बीच मुकदमा भी दर्ज कर लिया। तहरीर सना से ही ली गई, लेकिन उसका मजमून गोमतीनगर थाने के पुलिसकर्मियों ने खुद लिखा। तहरीर में बाइक से दो पुलिसकर्मियों के आने का जिक्र तो किया गया, लेकिन विवेक पर गोली किसने चलाई? इसका हवाला नहीं दिया गया है। केस कमजोर करने की कोशिश परिजनों को इस बात पर भी आपत्ति

केजरीवाल का सवाल विवेक तिवारी तो हिंदू था, उसे क्यों मार दिया, क्या सत्ता के लिए BJP सबको मार देगी?

Image
नई दिल्ली। लखनऊ के पॉश इलाके गोमती नगर में यूपी पुलिस के एक कॉन्स्टेबल द्वारा ऐपल कंपनी के मैनेजर की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस मु्द्दे पर राजनीति तेज हो गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर हमला बोला है. केजरीवाल ने पूछा कि विवेक तिवारी (मृतक) तो हिंदू था फिर उसे क्यों मारा? केजरीवाल ने ट्वीट किया कि विवेक को आखिर क्यों मारा? केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी नेता पूरे देश में हिंदू लड़कियों का रेप करते घूमते हैं. वो हिंदुओं के हितैषी नहीं हैं. अगर सत्ता पाने के लिए इन्हें सभी हिंदुओं का कत्ल भी करना पड़े तो ये दो मिनट नहीं सोचेंगे. इस ट्वीट पर आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कपिल मिश्रा ने केजरीवाल को घेरा. उन्होंने ट्वीट कर रहा कि, ‘हिंदू को मारा, लड़कियों से रेप किया, हिंदुओं का कत्ल किया. ऐसा करने से क्या मिलेगा? देश में आग लगा देना चाहते हैं? देश जलाकर क्या मिलेगा? सत्ता? पैसा? ईनाम?’ कपिल मिश्रा ने कहा कि आप (केजरीवाल) मोदी और बीजेपी के विरोध में पागल हो चुके हैं, इलाज करवाइये. वहीं दिल्ली बीजेपी के अध्यक्

विवेक की बेटी का आरोप- DM-SSP ने चिल्लाकर मेरी माँ पर मांगों को वापिस लेने का दवाब बनाया था?

Image
लखनऊ। विवेक तिवारी हत्याकांड में लगातार जारी हंगामें के बीच उनकी बेटिया मीडिया के सामने आई हैं। उनकी बड़ी बेटी शिवी ने योगी सरकार से इंसाफ की गुहार लगाई है। सातवीं क्लास में पढ़ने वाली बेटी शिवी ने सरकार पर गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि, ऐसी गंवार सरकार हमें नहीं चाहिए। यहां आए लोग हमारी बात नहीं सुन रहे हैं। शिवी ने कहा कि, सरकार उनकी मम्मी को पुलिस में सरकारी नौकरी दे और हमारे परिवारे परिवार के भरण-पोषण के लिए सरकार हमें मुआवजा दे। डीएम आए तो मेरी मम्मी पर ही चिल्लाने लगे शिवी ने आरोप लगाया कि, उनके पापा की हत्या कर दी गई और प्रशासन आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बजाय हमारे परिवार पर दबाव बना रहा है। उसने कहा कि यहां आए लोग हमारी बात नहीं सुन रहे हैं। विवेक की बेटी ने कहा कि मेरे पापा की हत्या करने वाले आरोपी कुढ़-कुढ़ कर मरें। शिवी ने कहा कि डीएम आए तो मेरी मम्मी पर ही चिल्लाने लगे। अभी तक सीएम योगी मिलने नहीं आए हैं। विवेक की दो बेटियां हैं शिवी और सानू। पापा से बढ़कर दोस्त थे शिवी की मांग है कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनके घर आएं और बाते करें। शिवी ने कहा कि, पाप

विवेक तिवारी मर्डर: इसलिए की थी गिरफ्तार पुलिसवाले ने प्रेस कॉन्फ्रेंस

Image
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के पॉश इलाके गोमती नगर एक्सटेंशन में यूपी पुलिस के कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी ने एप्पल के सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी की गोलीमार कर हत्या कर दी। हत्याकांड के मुख्य आरोपी पुलिसकर्मी प्रशांत चौधरी ने प्रेस कॉफ्रेंस कर अपना मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। इस पूरे घटना क्रम में सबसे अहम बात यह है कि, सुबह खबर आई थी कि प्रशांत को भी इस हादसे में चोटें आईं थी। आरोपी शनिवार सुबह स्टेचर पर लेटे-लेट बयान देते दिखा था। इसी दौरान लखनऊ पुलिस ने बताया था कि, आरोपी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। शाम होते-होते आरोपी मीडिया के सामने आकर प्रेंस कॉन्फ्रेंस करता दिखा इसके बाद शाम होते-होते आरोपी मीडिया के सामने आकर प्रेंस कॉन्फ्रेंस करता दिखा। यूपी पुलिस के उस बयान पर सवाल खड़े हो गए जिसनें उन्होंने कहा था कि उन्होंने अपराधी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है। कैसे एक गिरफ्तार आरोपी मीडिया के सामने आकर बयान दे रहा है। इस पूरे घटनाक्रम में गोमती नगर पुलिस उसका सहयोग करती दिखी। थाने में आरोपी सिपाही और उसकी पत्नी ने मीडिया के सामने आकर बात की और राज्य सर

विवेक तिवारी हत्याकांड पर बोले अखिलेश यादव, परिवार का सुख दुःख तुम क्या जानो योगी बाबू

Image
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बड़ा बयान दिया है. उन्होनें कहा परिवार की जिम्मेदारी परिवार वाले जानते हैं बस सीएम योगी 5 करोड़ मुआवजा दें. लखनऊ में कल सुबह मल्टिनैशनल कंपनी ऐपल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की यूपी पुलिस कॉन्स्टेबल की पिस्टल से गोली लगने से हुई मौत के मामले में प्रदेश की विपक्षी पार्टियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है. प्रदेश की कानून व्यवस्था और सीएम योगी के प्रशासन पर सवाल खड़े करते हुए एसपी समेत अन्य विपक्षी दलों ने सीएम के इस्तीफे की मांग की है. इस घटना के बाद अखिलेश यादव ने एमपी के शहडोल में सभा के दौरान सीएम योगी से इस्तीफा देने की मांग की है. इसके अलावा सरकार पर सवाल उठाते हुए अखिलेश ने अपने ट्वीट में लिखा,’उत्तर प्रदेश सरकार को असंवेदनशील रवैया छोड़कर तत्काल मृतक की पत्नी के लिए सरकारी नौकरी और बच्चियों के भविष्य के लिए 5 करोड़ की आर्थिक मदद की लिखित घोषणा करनी चाहिए. परिवार की ज़िम्मेदारी क्या होती है, ये बात परिवार वाले ही जानते हैं. दुख की इस घड़ी में हम शोकाकुल परिवार के साथ

विवेक तिवारी के घर पहुंचे योगी के मंत्री को लोगों ने घेरकर दिए धक्के तो गाड़ी में बैठकर भाग निकले

Image
लखनऊ। पुलिस के हाथों ऐपल के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक की हत्या की जानकारी होते ही कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन शनिवार दोपहर न्यू हैदराबाद स्थित उनके घर पहुंचे। कुछ देर घरवालों से बात की, फिर विवेक को श्रद्धांजलि देने शव की तरफ मुड़े तो लोगों ने उन्हें घेर लिया और सवालों की झड़ी लगा दी। इस बीच धक्का-मुक्की भी शुरू हो गई। इस पर पुलिस ने लोगों को हटाया। इसके बाद मंत्री पुलिस घेरे में ही गाड़ी तक पहुंचे और वहां से निकल गए। कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन दोपहर करीब डेढ़ बजे विवेक के घर पहुंचे। उनके पहुंचते ही एलयू छात्रों और कांग्रेस महिला प्रकोष्ठ की पदाधिकारियों ने नारेबाजी शुरू कर दी। मंत्री सीधे डीएम कौशलराज शर्मा और एसएसपी कलानिधि नैथानी के साथ एक कमरे में गुफ्तगू करने चले गए। वहां विवेक के परिवारीजन भी थे। बातचीत के बाद करीब साढ़े तीन बजे वह बाहर आए और विवेक के शव की तरफ बढ़े। तभी वहां मौजूद लोगों ने उन्हें घेर लिया। काला फीता बांधे एलयू छात्रों ने नारेबाजी शुरू कर दी तो महिला प्रकोष्ठ सदस्यों ने कानून-व्यवस्था पर सवाल शुरू कर दिए। मीडिया ने भी सवाल किए तो मंत्री आशुतोष टंडन ने कह

बलरामपुर ने भ्रष्टाचार महंगाई और उत्पीड़न के खिलाफ सपा के कार्यकर्ताओं ने साइकिल चला किया विरोध प्रदर्शन

Image
इकबाल खान बलरामपुर। वीर विनय चौराहा से हरिहरगंज तक हजारों साइकिल यात्रीयों ने भाजपा के प्रदेश और केंद्र सरकार के जनविरोधी नीतियों के खिलाफ भ्रष्टाचार महंगाई और उत्पीड़न के खिलाफ सपा के कार्यकर्ताओं ने साइकिल चला कर जंन जागरण किया और सपा सरकार द्वारा किए गये जनहित के कार्यो राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एंव संरक्षक मुलायम सिंह यादव के मुख्यमंत्री काल के जनहित कार्यो का प्रचार प्रसार किया। इस अवसर पर डॉ एस0 पी0 यादव ने कहा केंद्र की मोदी सरकार को सभी मुद्दों पर विफल बताया । उन्होंने कहा कि केंद्र में जब से नरेंद्र मोदी की सरकार बनी है उसी के बाद से लगातार महंगाई आसमान छूती जा रही है ।सरकार का पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों पर कोई नियंत्रण नहीं है । साइकिल यात्रा में पूर्व राज्यमंत्री डा एस पी यादव, जिला अध्यक्ष ओंकार नाथ पटेल, प्रदेश सचिव राशिद अलवी,पूर्व विधायक जगराम पासवान ,पूर्व विधायक अनवर महमूद,युवजनसभा जिला अध्यक्ष राकेश यादव ,जिला महासचिव इकबाल जाबेद फलावर ,विधानसभा अध्यक्ष काजी नुरुलहुदा हुदा, विधानसभा अध्यक्ष सफीउल्ला खाँ, जिला मीडिया प्रभारी बहलोल नियाजी, कोषा अध्यक्ष

पुलिस के संरक्षण में चल रहे अवैध खनन पर खनन अधिकारी की कार्रवाई से खनन माफियाओं में हड़कंप

Image
रिपोर्ट : राजीव कुमार सहारनपुर : तमाम रोकथाम के बाद जनपद में अवैध खनन रुकने का नाम नही ले रहा है । आये दिन खाकी पर इसको बढ़ावा देने की खबरे आती रहती है । ताजा मामला जनपद सहारनपुर थाना मिर्जापुर क्षेत्र का है जन्हा अवैध खनन का धन्धा हथनीकुंड बैराज चौकी पुलिस की मिलीभगत से धड़ल्ले के साथ खूलेआम दिन दहाड़े चल रहा है। जिसका मौके पर पहुंचे जिला खनन अधिकारी ने अवैध खनन-खनिज से लदे एक ट्रैक्टर ट्रॉली व दो बुग्गी को पकड़कर सीज कर दिया है। वहीं जिला खनन अधिकारी के आने की भनक लगते ही अवैध खनन माफियाओं में हड़कंप मच गया है। जिसके चलते हरियाणा की ओर से हथनीकुंड बैराज पुलिस चौकी के सामने से गुजरकर यूपी की सीमा में प्रवेश करने वाले अवैध खनन सामग्री से लदे वाहनो को खाली कर खनन माफिया वापस दौड़ गये। वहीं इस बारे में हथनीकुंड बैराज चौकी पुलिस से बात की गई तो पुलिस का कहना है कि करीब 17 ट्रैक्टर ट्रॉली की कुछ प्रपत्रों के आधार पर खनिज सामग्री लाने की अनुमति दी गई है। सूत्रों की माने तो जिन प्रपत्रों के आधार पर हथनीकुंड चौकी पुलिस खनन सामग्री लाने की बात कर रही वह अनुमति बीते पिछले करीब माह पहले की ब

इलाज कराने गयी युवती के साथ तांत्रिक ने किया बलात्कार का प्रयास

Image
रिपोर्ट : राजीव कुमार सहारनपुर : तमाम सूचनाओ और  अखबार पत्रिकाओ में छपने के बाद भी भोले-भाले गाँव वासी तथाकथित तांत्रिको के चँगुल में फंस जाते है । रोजाना तथाकथित तांत्रिको और ढोंगी बाबाओ के बारे में अखबारों और टीवी चैनेलो में उनके द्वारा की गयी ठगी और दुष्कर्म जैसी घिनोनी घटनाओ के बारे में दिखाया जाता है । बावजूद इसके भोले-भाले लोग इनके षड्यंत्र में फंस जाते है और अपना सब कुछ खो देते है । ताजा मामला जनपद सहारनपुर के कोतवाली बेहट कस्बे का है जन्हा पर इलाज कराने थाना चिलकाना के एक गांव से आयी युवती के साथ तांत्रिक ने  दुष्कर्म का प्रयास किया ।  युवती ने तांत्रिक के चंगुल से छूट बाहर बैठे अपने दो भाइयों को पूरी बात बताई। इस पर उन्होंने आरोपी तांत्रिक को दबोच कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने नामजद तहरीर पर आरोपी तांत्रिक वजीद अहमद पुत्र अब्दुल हक निवासी मोहल्ला गाड़ान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। देखने वाली बात ये होगी के आने वाले समय में पुलिस ऐसे कितने तथाकथित तांत्रिको और बाबाओ को किसी अन्य घटना के होने से पहले दबोच कर जेल भिजवायगी ।

योगी के रामराज्य की असली तस्वीर आई सामने, आप भी देखें

Image
हत्या का आरोपी मीडिया से बात कर सकता है क्या? यूपी में कर सकता है। वो भी पूरी ठसक के साथ। और पुलिस की पूरी फौज लेकर। साथ में उसकी वर्दीधारी बीवी एसपी को भी भला-बुरा कह सकती है। यही है शतप्रतिशत बेमिलावट रामराज्य।

कब्रिस्तान मे रंगरेलियां मना रहे प्रेमी युगल ग्रामीणों ने दबोचा

Image
रिपोर्ट : राजीव कुमार सहारनपुर : थाना देहात कोतवाली के क्षेत्र शेखपुरा कदीम में दरगाह के पास रंगरलिया मनाते प्रेमी युगल को ग्रामीणों ने चेरी के खेत से आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया और  पुलिस को सूचित कर दिया। स्थानीय लोगों ने रोष जताते हुए बताया कि पवित्र कब्रिस्तान में इस प्रकार की घटना को कतई बर्दास्त नही किया जाएगा । इससे पहले भी इस प्रकार की घटना  को इस क्षेत्र में होना बताया गया है । ग्रामीणों ने बताया के पहले भी प्रेमी युगल आपत्तिजनक स्थिति में पकड़े है इस प्रकार की अशोभनीय घटना को बिलकुल भी बर्दाश्त नही किया जाएगा।  लोगों ने रोष ज़ाहिर करते कहा की पुलिस जंगल मे खाली बैठने वालों के खिलाफ कोई कार्यवाही नही करती है जिसका फायदा उठाकर मनचले,नशेड़ी ओर अय्यास किस्म के लोग पवित्र कब्रिस्तान को गन्दा करने का काम करते है। जो कि निंदनीय है। ये देखने वाली बात होगी की आने वाले समय में कितना पुख्ता कदम उठायेगी जिससे की इस प्रकार की घटनाओ पर रोक लग सके । फिलहाल प्रेमी जोड़े को ग्रामीणों ने पुलिस के हवाले कर दिया है ।