Posts

Showing posts from April, 2019

मोदी जी ने 7 पीएम के बराबर लिया कर्ज, बस देश को बेचना ही बाकी रह गया था क्या मोदी जी ?

Image
नदीम अख्तर  ये क्या खबर आ रही है। जाते-जाते मोदीं जी ने देश का खजाना खाली कर दिया??!! जितना कर्ज़ देश पे 70 साल में चढ़ा, सिर्फ पांच साल में उसमें 50 फीसद की बढ़ोतरी कर दी!! यानी 70 साल में देश पे अगर 1 लाख का कर्ज हुआ तो सिर्फ 5 साल में मोदी जी ने देश पर 1.50 लाख का कर्ज थोप दिया??!! ये बेहद गंभीर मामला है। मैं तो पहले ही कह रहा था कि ये जाते-जाते देश को तगड़ा चूना लगाकर जाने वाले हैं। बतौर एक नागरिक इस कर्ज़ को चुकाने की जवाबदेही मेरी भी बनती है पर आने वाली सरकार से मेरा एक आग्रह है। जितना कर्ज़ मोदी जी ने देश पे लादा है वो सारा पैसा मोदी भक्तों की संपत्ति कुर्क करके जब्त किया जाए और देश का कर्ज सामान्य किया जाए। साथ ही मोदी जी और अरुण जेटली समेत तमाम ज़िम्मेदार मंत्रियों पे देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करके इन लोगों पे देश के साथ आपराधिक षड्यंत्र करने का केस भी चलाया जाए। ये पैसा कहां खर्च हुआ, इसका भी हिसाब मांगा जाए। मतलब ये हुआ कि मोदी जी ने महज पांच साल में देश पे उतना कर्जा लाद दिया, जितना दूसरी सरकारों ने 35 साल में लादा!! यानी देश के सात प्रधानमंत्रियों ने मिलकर देश के लिए जो

देश भक्त बनाम मोदी भक्त यानी बनारस की अग्नि परीक्षा

Image
अमन पठान पुलवामा आतंकी हमले और लोकसभा चुनाव की तारीख मुकर्रर होने के बाद देशभक्ति के मुद्दे ने इतना जोर पकड़ा कि चुनावी माहौल देशभक्ति के रंग में रंग गया। नरेंद्र मोदी ने देशभक्ति के मुद्दे को भुनाने के लिए फर्स्ट टाइम वोटरों से कहा कि क्या वह अपना पहला वोट पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों और सर्जिकल स्ट्राइक करने वाले जवानों को समर्पित कर सकते हैं। इस तरह भाजपा के लिए वोट मांगकर मोदी जी ने आचार संहिता की धज्जियां उड़ा दीं क्योंकि चुनाव आयोग ने सेना के नाम पर सियासत करने पर प्रतिबंध लगा दिया था। चार चरण के मतदान देशभक्ति के मुद्दे के शोर और जोर के साथ शांतिपूर्वक सम्पन्न हो गए लेकिन अब बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव ने देशभक्ति के मुद्दे का गति अवरोधक बनकर मोदी की देशभक्ति एक्सप्रेस की गति को धीमा कर दिया तो सपा बसपा गठबंधन ने तेज बहादुर यादव को टिकट देकर सियासी हलचल को तेज कर दिया है। सपा बसपा गठबंधन का टिकट तेज बहादुर यादव के लिए संजीवनी बूटी की तरह है क्योंकि तेज बहादुर यादव अब तक मोदी के लिए एक चुनौती थे लेकिन वो मोदी को हराने की क्षमता नही रखते थे। अब मुकाबला कांटे

सोनिया गाँधी को भारी बहुमत से विजय दिलाना ही मेरा लक्ष्य-अदिति सिंह ।। Raebareli news ।।

Image
शिवाकांत अवस्थी रायबरेली: सदर विधायक अदिति सिंह ने आम चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी सोनिया गाँधी को जीत दिलाने के लिए लगातार सघन जनसम्पर्क अभियान चला रही हैं। इसी क्रम में अदिति सिंह ने सतांव ब्लाक के मलिकमऊ चौबारा, बरदर, धर्मं सिंह खेड़ा गावों में जनसम्पर्क कर लोगों से सोनिया गाँधी को पांचवी बार भारी बहुमत से वोट देकर जिताने की अपील की है।         अदिति सिंह जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहती है कि, इस चुनाव में आप सभी सोच–विचार कर, सही फैसला करते हुए, विकास को ध्यान में रखकर अपने–अपने मताधिकार का सदुपयोग करें। यह जरूर देख लें कि पिछले 10 वर्षों में निवर्तमान सांसद ने जनपद के लिए विकास की अनगिनत सौगातें दी है।  जिससे जनपद में विकास रूपी अविरल धारा बह रही है। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी पर तीखे प्रहार करते हुए जनता से पूछा कि, पिछले 10 वर्षों से जिले की दो–दो कार्यदायी संस्थाएं; जिला पंचायत और एम0एल0सी0 जब बीजेपी प्रत्याशी पास हैं तो, फिर उन्होंने इस क्षेत्र के लिए या जिले के लिए क्या विकास कार्य किये हैं? वहीं जिले की सांसद सोनिया गांधी ने रायबरेली में एम्स, रेलकोच, एफ.डी.डी.आई, नाई

मतदाता जागरूकता रैली में लोगों ने घर से निकल कर नौनिहालों के जज्बे को किया सलाम।। Raebareli news ।।

Image
शिवाकांत अवस्थी रायबरेली: 30 अप्रैल 2019 को शहर के प्राथमिक विद्यालय केंद्र - जहानाबाद, नगर क्षेत्र- रायबरेली से मतदाता जागरूकता रैली विद्यालय की प्रधानाचार्या सुरभि शर्मा द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना की गई l        आपको बता दें कि, विद्यालय के बच्चों ने बड़े उत्साह के साथ बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया, और मतदाता जागरूकता के नारे, सत्य और ईमान से, सरकार बनी मतदान से,, आओ मिलकर अलख जगाए, शत प्रतिशत मतदान कराएं जैसे गगनभेदी नारों से पूरा जहानाबाद क्षेत्र गुंजायमान हो रहा था। वहीं स्कूली बच्चों द्वारा व अध्यापक अध्यापिकाओं द्वारा लोगों को 100% मतदान करने के लिए प्रेरित किया।        सारे काम छोड़ दो, सबसे पहले वोट दो तथा  " घर-घर में संदेश दो वोट दो वोट दो " लोकतंत्र का सम्मान, करो सब मिलकर मतदान करो जैसे गगनभेदी नारे भी छात्र-छात्राओं द्वारा शहर की सड़कों पर तथा मोहल्ले के अंदर सकरी सकरी गलियों में दोहराए जा रहे थे। कुछ समय के लिए शहर की छोटी-छोटी गलियां स्कूली बच्चों द्वारा लगाए जा रहे गगनभेदी नारों से  गुंजायमान हो रही थी लोग अनायास ही अपने घर से निकल कर बच्चों की तरफ आकर्षित औ

नमामि गंगे और गंगा पुत्र मोदी

Image
मोहम्मद जाहिद  साल 2014 में पीएम पद के प्रत्याशी श्री नरेन्द्र मोदी बनारस पहुचते हैं , वहाँ वह मशहूर बयान देते हैं , मुझे तो माँ गंगा ने बुलाया है, इसके बाद उन्हें माँ गंगा का आशिर्वाद भी मिला। श्री नरेन्द्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री बन गये। बदले में मां गंगा को उनके बेटे से क्या मिला ? यही मूल सवाल है। इसका जवाब ना तो केन्द्र सरकार देती है और ना मुख्यधारा का मीडिया। लेकिन , सूचना के अधिकार (आरटीआई) से मिली जानकारी इस सवाल का जवाब देती है। नमामी गंगे कार्यक्रम नैशनल मिशन फार क्लीन गंगा (एनएमसीजी) के तहत आता है जो पहले नैशनल गंगा रिवर बेसिन अथारिटी(एनजीआरबीए) का इम्प्लीमेंटेशन आर्म था। बाद में एनजीआरबीए को अक्टूबर 2016 में भंग कर इसकी जगह नैशनल गंगा काउंसिल बनाया गया जिसके अध्यक्ष खुद भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी हैं। यह अलग बात है कि उनकी अध्यक्षता में आजतक इसकी एक भी बैठक नहीं हुई। जून 2014 में लाॅन्च नमिमे गंगे कार्यक्रम केन्द्र सरकार का फ्लैगशिप कार्यक्रम है जिसका बजट करीब ₹20000 करोड़ का है। गंगा की सफाई के लिए 2011 में ही विश्व बैंक की तरफ से भी ₹4600 करोड़ से

जानिए "अशोक चक्र" प्राप्त शहीद HEMANT KARKARE से संघ का गिरोह नफरत क्यों करता है ?

Image
मोहम्मद जाहिद  हेमंत करकरे से किसी को क्या शिकायत हो सकती है ? मुंबई के आतंक विरोधी दस्ते के प्रमुख जैसी सबसे ऊँची पोस्ट पर बैठे हेमंत करकरे यदि पुलिस के आम सिपाही की तरह आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हो जाएँ तो इस पर तो देश से प्रेम करने वाले देश वासियों को उनपर गर्व होना चाहिए। फिर क्या कारण है कि इसी देश का एक वर्ग उनसे नफरत करता है ? सोचिएगा कि क्या कारण है कि "अशोक चक्र" प्राप्त इस शहीद से संघ गिरोह नफरत करता है ? इस देश में "शहीद हेमंत करकरे" ऐसे पहले शहीद होंगे जिनसे देश का एक वर्ग बेहद नफरत करता है। और वह वर्ग है "संघ" की विचारधारा वाले लोग क्युँकि हेमंत करकरे ने उनकी आतंकवादी गतिविधियों को दुनिया के सामने लाकर रख दिया। और हेमंत करकरे यदि 10 साल और जीवित रह जाते तो इस संगठन के तमाम लोग आतंकी घटना में शामिल होने के कारण फाँसी पर लटक गये होते। और संघ आतंकी संगठन घोषित हो गया होता। इनको हेमंत करकरे से इसी कारण चिढ़ थी , और 2014 में नरेन्द्र मोदी की सरकार बनने के बाद से आजतक पूरे पाँच साल "एनआईए" , "सीबीआई" और "आईबी&qu

मोदी का एक और झूठ : MODI झूठ बोले बिना एक साँस ले नहीं सकते

Image
मोहम्मद जाहिद  नरेन्द्र मोदी ने एक और झूठ बोला। उन्होंने कहा कि उन्होंने 35 साल भीख माँग कर खाया है। आईए इस झूठ की परतें उधेड़ते हैं। मोदी जी 2001 से गुजरात और देश की सत्ता के शीर्ष पर हैं , लगभग 18 साल से सत्ता के शिर्ष पर रहा व्यक्ति भीख माँग कर तो नहीं खा सकता ? मोदी जी 1990 में लालकृष्ण आडवाणी के सोमनाथ से अयोध्या आ रहे रथ के सारथी बने थे और वह लाउडस्पीकर लिए जनता को संबोधित कर रहे थे , अर्थात देश के शीर्षस्थ नेताओं का इतना करीबी व्यक्ति भीख माँग कर तो नहीं खा सकता ? यह तो हो गये मोदी के जीवन के 18+11= 29 साल। नरेंद्र मोदी के ही अनुसार 1983 में उन्होंने गुजरात विश्वविद्यालय से आर्ट्स में परास्नातक की डिग्री और 1978 में दिल्ली विश्वविद्यालय से आर्ट्स में ही स्नातक की डिग्री हासिल की है। ज़ाहिर सी बात है कि एक भिखारी ना तो दिल्ली आकर दिल्ली विश्विद्यालय से स्नातक कर सकता है और ना ही गुजरात विश्विद्यालय से परास्नातक। खैर चलिए मान भी लिया कि उन्होंने भीख माँग कर खाया हो और पढ़ाई की हो तो भी नरेन्द्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 में हुआ था , अर्थात आज उनकी आयु 70 वर्ष की है जि

ऐसे ना जाने कितने तरीके BJP अपना चुनाव प्रचार कर रही है?

Image
मोहम्मद जाहिद  फिल्म चाईनागेट में जगीरा कहता है कि "मुझसे लड़ने की हिम्मत तो जुटा लोगे पर मुझ जैसा कमीनापन कहाँ से लाओगे ?" वन मैन शो और टू मैन आर्मी वाली भाजपा से लड़ने के लिए हिम्मत के साथ साथ उससे अधिक कमीनेपन की ज़रूरत है। भाजपा और इनके रणनीति कार की षडयंत्र देखिए कि 2019 के लोकसभा चुनाव के प्रचार के लिए जगीरा जैसा कमीनापन 2018 से ही शुरु कर दिया जब एक झूठी सर्जिकल स्ट्राईक पर आधारित फिल्म "उरी" बना कर देश में मोदी और राष्ट्रवाद के पक्ष में वातावरण बनाना शुरू कर दिया। सेंसर बोर्ड के प्रमाणपत्र से रिलीज हुई यह फिल्म शुद्ध रूप से 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए बनाई गयी थी और संसद में यदि प्रधानमंत्री इस फिल्म के डायलाग "हाऊज़ द जोश" को उद्धत करके फिल्म का प्रचार करते हैं तो जगीरा चरित्र समझा जा सकता है। ध्यान रहे कि इस फिल्म को चुनाव आयोग रोक भी नहीं सकता पर यह एजेन्डा वही लेकर चलती है जिससे मोदी और राष्ट्रवाद की हवा बनती रहे। ऐसे ही इसी फिल्म के बाद अगली फिल्म भी रिलीज होकर थिएटर में आ जाती यदि निर्माता निर्देशक ने थोड़ा जगीरा चरित्र और दिखा कर

तेज़बहादुर यादव भी कभी मोदी भक्त था, जानिए अब MODI से इतनी नफरत क्यों?

Image
मोहम्मद जाहिद  बीएसएफ का बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव ने बनारस से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विरुद्ध चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। तेज बहादुर यादव की प्रधानमंत्री के विरुद्ध उम्मीदवारी को हार जीत के आईने से नहीं देखना चाहिए , यह सेना में रहे एक सैनिक की देश के प्रधानमंत्री के विरुद्ध एक प्रतिकात्मक लड़ाई की नज़रिये से देखा जाना चाहिए। देश की व्यवस्था का दोगलापन देखिए कि यही बीएसएफ जवान तेज़बहादुर यादव भी मोदीभक्त था , अपने फेसबुक प्रोफाईल से सेना में रहते हुए मुसलमानों और इस्लाम के खिलाफ आग उगलता था और किसी मौलाना की बेटी के साथ की तस्वीरों को पोस्ट करके गलत संदर्भ में घृणा फैलाने वाले कमेन्ट करता था और यह कोई एक दो दिन किया ऐसा नहीं बल्कि कई वर्ष तक लगातार करता रहा। सेना का एक जवान अपने फेसबुक प्रोफाईल से देश के एक वर्ग के विरुद्ध ज़हर उगलता रहा परन्तु इस कारण वह ना तो सेना के अनुशासन को तोड़ने का दोषी घोषित किया गया और ना ही उसे रोका गया कि वह ऐसी पोस्ट ना करे। शायद सेना के उच्चअधिकारियों को उसकी यह अदा पसंद आती रही इसीलिए उसकी पोस्ट उनके लिए सेना का अनुशासन तोड़ने ल

TEJ BAHADUR YADAV ने मोदी के मुद्दों को भस्म कर दिया

Image
मोहम्मद जाहिद  आप राजनीति समझते नहीं इसीलिए तेज बहादुर यादव को समर्थन के बदले नरेन्द्र मोदी के समर्थन की बात कर रहे हैं। याद कीजिए कि पहले चरण के चुनाव के आसपास भाजपा और संघ के लोग हर भाषण में पाकिस्तान पाकिस्तान की रट लगाए रहते थे , कोई किसी को पाकिस्तान भेज रहा था तो कोई भाजपा और मीदी के हारने पर पाकिस्तान में जश्न की बात कर रहा था। अचानक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने रिवर्स स्विंग फेकी और एक बयान दिया कि "पाकिस्तान और उनकी इच्छा है कि मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनें और भाजपा चुनाव जीते" इसके बाद पाकिस्तान मुद्दा फुस्स हो गया , अब कोई पाकिस्तान का नाम भी नहीं लेता। ऐसे ही राष्ट्रवाद और सेना के सहारे आखिरी 3 चरणों में राजनीति करके वोट पाने की मोदी-भाजपा की रणनीति बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव को सपा प्रत्याशी बनाए जाने से फुस्स हो जाएगी। ध्यान रहे कि अगले 3 चरणों में होने वाली सीटों पर ही भाजपा को सर्वाधिक सीटें प्राप्त हुई थीं। राजनीति सीखिए , वाराणसी में मोदी को कोई नहीं हरा सकता यह तो तय है पर बात तेज बहादुर यादव के ज़रिए शेष लगभग 175 सीटों के लिए

अनियंत्रित होकर टेंपो पलटा एक पुरुष सहित तीन महिलाएं घायल।। Raebareli news ।।

Image
शिवाकांत अवस्थी महराजगंज/रायबरेली: कोतवाली क्षेत्र के महराजगंज रायबरेली रोड पर स्थित सेनपुर गांव के पास टेंपो के सामने अचानक अल्टो कार आ जाने से टेंपो अनियंत्रित होकर पलट गया।  जिससे टेंपो में सवार 4 लोग घायल हो गये। घायलों को राहगीरों की मदद से सीएचसी में भर्ती कराया गया जहां हालत को गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने 3  घायलों को जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया है जबकि, एक का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र महराजगंज में चल रहा है।           आपको बता दें कि, विवरण के मुताबिक मैंसरजहान 40 निवासिनी अहिया रायपुर कोतवाली सदर, शराफत अली 42 निवासी उपरोक्त, छेदाना 30 पुत्री दिनेश निवासी नरई मजरे बावन बुजुर्ग बल्ला, केसरी 30 पुत्री इंद्रेश निवासी सड़कहा यह सभी महराजगंज की तरफ से टेंपो  से रायबरेली जा रही थी कि, सेनपुर गांव के पास सामने से   अल्टो कार आ जाने से टेंपो अनियंत्रित होकर पलट गया। जिससे  टेम्पू सवार  चारों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। राहगीरों के द्वारा घायलों को आनन-फानन में सीएचसी महराजगंज में भर्ती कराया गया। जहां तीन की हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार कर जिला चिकित्सालय रे

दैनिक पंचांग व राशिफल; बुधवार 1 मई 2019

Image
-आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ) पंचांग तिथि द्वादशी 26:04:52 पक्ष कृष्ण नक्षत्र पूर्वभाद्रपदा 10:51:34 योग वैधृति 29:29:27 करण कौलव 13:14:54 करण तैतुल 26:04:52 वार बुधवार माह (अमावस्यांत) चैत्र माह (पूर्णिमांत) वैशाख चन्द्र राशि    मीन सूर्य राशि    मेष रितु वसंत आयन उत्तरायण संवत्सर विकारी संवत्सर (उत्तर) परिधावी विक्रम संवत 2076 विक्रम संवत शाका संवत 1941 शाका संवत राशिफल मेष राशि:     घर गृहस्थी की भागदौड़ में व्यस्त रहेंगे। आप अपना संपर्क बढ़ाने के प्रयास करेंगे। आज का आर्थिक निवेश लाभकारी रहेगा। धन संबंधी काम पूरे होंगे। मानसिक शांति की तलाश में प्रिय से जुड़ने का अवसर मिलेगा। वृष राशि:     दूसरों की जीवनशैली देखकर अपना रहन-सहन बदलने के प्रयास करेंगे। व्यापारिक स्थिति आशाजनक रहेगी। जीवनसाथी की भावनाओं को समझें और उन्हें भी समय दें। परोपकार करके मानसिक सुख अर्जित करेंगे। व्यवसायिक नवीन गतिविधियां लाभकारी रहेंगी। मिथुन राशि:     अपने काम करने के तरीकों को बदलें। घर की साज-सज्जा पर भारी खर्च होने की संभावना है। आज

औरत के गीले बाल और लोकतंत्र...

Image
मोहम्मद जाहिद | सामाजिक कार्यकर्ता राजनैतिक विज्ञान के सेमिनार में राजनैतिक विज्ञान के एक पूर्व विद्यार्थी ने मंच से कहा कि मेरा तो यक़ीन लोकतंत्र पर से सन 1996 में ही उठ गया था.. मैंने पूछा कि इसकी कोई वजह ? वह छात्र अपने बचपन को याद करके कहने लगा कि यह उन दिनों की बात है जब एक शनिवार को मैं और मेरे बाक़ी तीनों बहन भाई, मम्मी पापा के साथ मिलकर रात का खाना खा रहे थे कि पापा ने पूछा "कल तुम्हारे चाचा के घर चलेंगें या मामा के घर ?" हम सब भाइयों बहनों ने मिलकर बहुत शोर मचा कर चाचा के घर जाने को कहा, सिवाय मम्मी के जिनकी राय थी कि मामा के घर जाया जाए। बात बहुमत की मांग की थी और अधिक मत चाचा के खेमे में पड़ा था ...बहुमत की मांग के मुताबिक़ तय हुआ कि चाचा के घर जाना है। मम्मी हार गईं। पापा ने हमारे मत का आदर करते हुए सुबह ही चाचा के घर जाने का फैसला सुना दिया। हम सब भाई बहन चाचा के घर जाने की ख़ुशी में जाकर जल्दी सो गये। रविवार की सुबह उठे तो मम्मी गीले बालों को तौलिए से झाड़ते हुए बमुश्किल अपनी हंसी दबाए ..उन्होंने हमसे कहा कि सब लोग जल्दी से कपड़े बदलो हम लोग मामा के घ

सिख जनसंहार: अदालतें दंगों के आरोपियो को सजा देने में पूरी तरह नाकाम रहीं हैं?

Image
Wasim Akram Tyagi 1984 मे त्रिलोकपुरी मे 350 लोग मारे गए थे, जिसमें से 90 सिखो को मारने वाले 15 मुजरिमों को आज सुप्रीम कोर्ट ने बरी कर दिया है। दिल्ली हाईकोर्ट ने इन्हें मुजरिम मानते हुए सजा सुनाई थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इन्हें बरी कर दिया है। दंगों का  अब तक इतिहास बताता है कि अदालतें दंगों के आरोपियो को सजा देने में पूरी तरह नाकाम रहीं हैं। इसकी क्या वजह हो सकती है ? दंगों मे सबसे अधिक जान माल का नुकसान अल्पसंख्यकों का होता है क्या इस वजह से अदालतें इन मामलो को गंभीरता से नही लेती? अगर दंगो के मामलो मे अदालतें जल्द फैसला सुनातीं और दंगाईयों को सजा दे देतीं तो आज यह देश दंगाईयों को सत्ता की सीढियां चढते हुए नही देख रहा होता। लेकिन आतंकवाद की तरह दंगा भी 'इंडस्ट्री' है, आतंकवाद की जङ में जहां हथियारों के दुकानदारों के हित छिपे हैं वहीं दंगों से वोट की फसल काटने वाले राजनीतिक दल न सिर्फ दंगा कराते हैं बल्कि दंगाईयो को संरक्षण भी देते हैं।

BJP का चुनाव प्रचार करने के आरोप में कुत्ता गिरफ्तार

Image
नई दिल्ली। महाराष्ट्र के नंदुरबार इलाके में पुलिस ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) का प्रचार करते हुए एक कुत्ते को पकड़ा। कुत्ते के साथ उसके मालिक एकनाथ मोतीराम चौधरी भी हिरासत में लिया गया। पुलिस के अनुसार कुत्ते का पूरा शरीर बीजेपी के स्टीकर और चुनाव चिन्ह से भरा हुआ था। उसके शरीर पर 'मोदी लाओ, देश बचाओ' जैसे नारे भी लिखे गए थे। सोमवार को महाराष्ट्र में जारी मतदान के बीच पुलिस को एक शिकायत मिली। स्थानीय पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोपहर के समय अंधेर अस्पताल के पास नवनाथ नगर इलाके में एक आदमी और उसके साथ घूमते एक कुत्ते की शिकायत उन्हें मिली। वहां पहुंचने पर उन्हें कुत्ते का पूरा शरीर बीजेपी के चुनाव चिन्ह और नारों से भरा हुआ दिखा। नियमों के तहत मतदान के दिन प्रचार करने पर रोक रहती है। इस पर एकनाथ चौधरी के खिलाफ चुनाव नियमों को तोड़ने के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 171(ए) के तहत मामला दर्ज किया गया, साथ ही कुत्ते को नगर निगम की देख-रेख में रखा गया है।

राप्ती नदी में मिला लापता बच्चे का शव | SHRAVASTI NEWS

Image
इसरार अहमद | श्रावस्ती संवाददाता  राप्ती नदी में 10 साल के बच्चे का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गयी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर शव की शिनाख्त के प्रयास शुरू किए तो शव की शिनाख्त हो गई। राप्ती नदी में मिले शव की शिनाख्त श्रावस्ती जिले के इकौना थाना क्षेत्र दहावर कला गाँव के निवासी दुखई साहू के पुत्र श्रवण कुमार के रूप में हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक श्रवण कुमार अपने चार साथियों के साथ बीते रोज राप्ती नदी में नहाने चला गया था। जहां नहाते समय उसका पैर फिसल गया। नदी में डूबने से श्रवण कुमार की मौत हो गई। इस हादसे से मृतक के साथी इतने घबरा गए कि उन्होंने इस घटना की जानकारी किसी को नही थी। श्रवण कुमार के लापता हो जाने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की लेकिन लापता बच्चे का कहीं कोई सुराग नही मिला। आज सुबह गांव से पांच किलोमीटर दूर नदी में लापता बच्चे का शव मिला तो पुलिस की जांच पड़ताल में पता चला कि वह नहाने के लिए गया था और नदी में डूबने से उसकी मौत हो गई।

गंदगी और जलभराव की समस्या से परेशान युवाओं ने किया मतदान बहिष्कार का एलान | ELECTION NEWS

Image
इसरार अहमद | श्रावस्ती संवाददाता  जब जनप्रतिनिधियों के वादे पूरे नही होते हैं तो विकास की उम्मीद टूटने लगती है और जब समस्याओं का समाधान नही होता है तो लोगों को आंदोलन करने पड़ते हैं। यूपी के श्रावस्ती में जलभराव और गंदगी की समस्या से परेशान लोगों ने मतदान बहिष्कार का एलान कर दिया है। श्रावस्ती जिले के गिलौला कस्बे में गंदगी की समस्या चरम सीमा पर है। नेहरू स्मारक क्रिकेट ग्राउंड के तालाब में तब्दील हो जाने से युवाओं को सबसे ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सरकारी अस्पताल में होने वाले प्रसव की गंदगी भी इसी ग्राउंड में फेंकी जाती है। जल निकासी की कोई व्यवस्था न होने के कारण खेल का मैदान तालाब बनता जा रहा है। गिलौला के युवाओं ने नेहरू स्मारक क्रिकेट ग्राउंड की समस्या को लेकर कस्बे की अन्य समस्याओं के समाधान की जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों से मांग की लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात ही रहा तो युवाओं ने चुनाव बहिष्कार का ऐलान कर दिया। जिससे चुनाव अधिकारियों में हड़कंप मच गया है।

शायद हम पुरुषों को बनाने में ईश्वर से ही कोई बड़ी त्रुटि हुई है जिसकी सज़ा स्त्रियां ही भोग रही हैं !

Image
ध्रुव गुप्त | पूर्व आईपीएस अधिकारी  इन दिनों राजनीति, प्रशासन, न्यायपालिका, ग्लैमर उद्योग और धर्म-अध्यात्म से जुड़े बड़े-बड़े लोगों पर स्त्रियों के यौन शोषण के लगातार लग रहे आरोपों से बहुत हैरान होने की जरुरत नहीं है। ये घटनाएं पहले भी होती थीं। औरतों के शिक्षित, सजग और मुखर होने के बाद इन दिनों ये घटनाएं प्रकाश में आने लगी हैं। जिन लोगों पर ये आरोप लगते हैं, वे लोग व्यक्ति से ज्यादा हम पुरुषों के भीतर की दमित इच्छाओं और यौन विकृतियों की अभिव्यक्ति हैं। थोड़े-बहुत प्रायः सभी पुरुषों के भीतर ऐसे यौन अपराधी मौजूद हैं। अपवादों को छोड़ दें तो संपति, प्रभुत्व और अवसर प्राप्त होने के बाद आम तौर पर पुरुषों की दो ही प्रबल महत्वाकांक्षाएं होती हैं- ऐश्वर्य के तमाम साधन जुटा लेना और ज्यादा से ज्यादा स्त्रियों से शारीरिक संबंध बनाना। धन, भय या प्रलोभन के बल पर अधीनस्थ या अपने संपर्क में आने वाली जिन स्त्रियों का ये शारीरिक और मानसिक शोषण करते हैं, वे उनके लिए मनोरंजन या पुरुष अहंकार को सहलाने का ज़रिया ही नहीं, स्टेटस सिंबल भी हैं। ठीक वैसे ही जैसे प्राचीन और मध्यकालीन दुनिया में राज्य के आकार

केंद्र में बनेगी कांग्रेस की सरकार-राम उदित चौरसिया।। Raebareli news ।।

Image
शिवाकांत अवस्थी महराजगंज/रायबरेली: जैसे-जैसे मतदान की तिथि नजदीक आ रही है जनपद में चुनाव प्रचार अभियान और भी तेजी पकड़ रहा है। इस चुनावी दौर में रायबरेली से पांचवी बार लोकसभा चुनाव लड़ रही कांग्रेश पार्टी की प्रत्याशी सोनिया गांधी के लिए महराजगंज कस्बे के वार्ड नंबर 6 आजाद नगर में अपने दर्जनों साथियों के साथ जनसंपर्क करते हुए कांग्रेश पार्टी के पूर्व नगर अध्यक्ष राम उदित चौरसिया, जनसंपर्क को विशेष प्राथमिकता दे रहे हैं।        आपको बता दें कि, राम उदित चौरसिया ने कस्बे के वार्ड नंबर 6 आजाद नगर, वार्ड नंबर 5 शांति नगर तथा वार्ड नंबर 1 गांधीनगर में अपने दर्जनों साथियों के साथ जनसंपर्क किया और रायबरेली की लोकप्रिय सांसद सोनिया गांधी के पक्ष में वोट डालने की अपील की। इस दौरान कांग्रेश पार्टी के पूर्व नगर अध्यक्ष राम उदित चौरसिया ने लोगों से व्यक्तिगत जन संपर्क भी किया और उन्हें कांग्रेस के घोषणा पत्र में दिए गए वायदों के महत्व और घोषणाओं के लागू होने से आमजन के जीवन में आने वाले बदलाव के बारे में विस्तार से समझाया तथा उन्हें कांग्रेस के पक्ष में मतदान करने का अनुरोध किया।       गौरत

जोश उमंग और आत्मविश्वास से लबरेज कांग्रेसी सोनिया को जिताने के लिए गर्मी में बहा रहे पसीना।। Raebareli news ।।

Image
शिवाकांत अवस्थी महराजगंज/रायबरेली: ब्लाक क्षेत्र की हरदोई न्याय पंचायत के ठाकुरखेड़ा, करमगंज, चोखे का पुरवा, जोनिहा, कूमे दान का पुरवा, राघवपुर सहित दर्जनों गांव में डोर टू डोर जनसंपर्क कर रायबरेली से पांचवी बार लोकसभा चुनाव लड़ रही सोनिया गांधी के पक्ष में वोट डालने की अपील की और राहुल गांधी द्वारा न्याय योजना के बारे मे लोगो को विष्तार से जानकारी दी गई।         आपको बता दें कि, ब्लाक अध्यक्ष प्रिन्सू वैश्य ने हमारे संवाददाता से बातचीत करते हुए बताया कि, रायबरेली से कांग्रेस पार्टी के लिए लोकसभा चुनाव लड़ रही सोनिया गांधी के पक्ष में मतदान की अपील करने के दौरान लोगो ने बताया कि, इस बार जिले में सोनिया गांधी की आंधी मे कोई चिराग टिक नही पाएगा। क्योंकि चिराग को बुझाने वाले हाथ, कांग्रेस के साथ हैं।        वही कांग्रेस के पदाधिकारी इस कड़ी धूप मे गांव गांव जनसंपर्क कर रायबरेली विकास की अविरल धारा बहने वाली सांसद सोनिया गांधी के लिए लोगो से कांग्रेश के पक्ष में वोट की अपील कर रहे थे। यहाँ यह कहना गलत नही होगा कि, इस बार सोनिया गांधी की जीत में इजाफा होगा वह इस बार रायबरेली संसद

अगर RAHUL GANDHI में थोड़ी भी लाज शर्म और गैरत बची हो तो VARANASI से अपने कैंडिडेट को हटा लें क्योंकि...

Image
नदीम अख्तर  अगर #कांग्रेस अध्यक्ष #राहुल गांधी में थोड़ी भी लाज शर्म और गैरत बची हो तो बनारस से अपने कैंडिडेट अजय राय को तुरन्त चुनाव मैदान से हटा लें। पीएम मोदी और सेना के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव के बीच सीधा मुकाबला होने दें क्योंकि आज आखिरी क्षण सपा-बसपा-रालोद गठबंधन ने तेजबहादुर को अपना उम्मीदवार बना दिया है। देश भी तो देखे कि बनारस की जनता कितनी बड़ी देशभक्त है?? वो पुलवामा में जवानों के मारे जाने के बाद जिम कॉर्बेट पार्क में फोटोशूट करा रहे पीएम मोदी को चुनती है या फिर 20 साल तक भूखे-प्यासे रह मौसम की मार सहकर सरहद की रखवाली करने वाले सेना के जवान तेज बहादुर को??!! मोदी या तेजबहादुर?? और अगर तेजबहादुर के समर्थन में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने प्रत्याशी अजय राय को चुनाव मैदान से नहीं हटाते तो समझ लीजियेगा कि ये आदमी वाक़ई में #पप्पू है और अगर इसके हाथ में देश की बागडोर गयी तो ये मोदी जी से भी बुरा हाल कर देगा देश का। सो राहुल के फैसले पर नज़र रखिए। ये भी हो सकता है कि वो अंदर ही अंदर पीएम मोदी को सपोर्ट कर रहे हों। पर आज अखिलेश और मायावती ने तेजबहादुर को मोदी के मुक

MOHD SHAMI को नही मिलना चाहिए ARJUN AWARD

Image
मोहम्मद आसिफ  अमरोहा: क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने अपनी ससुराल पहुंचकर हाई वोल्टेज हंगामा किया तो ससुरालीजनों को देर रात पुलिस से सहयोग मांगना पड़ा। पुलिस ने हसीन जहां को समझाने का प्रयास किया लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात ही रहा तो पुलिस ने हसीन जहां को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। मीडिया से रूबरू होकर हसीन जहाँ ने अपने पति मोहम्मद शमी पर सनसनीखेज आरोप लगाए और सरकार से मांग की है कि वह मोहम्मद शमी को अर्जुन अवार्ड से सम्मानित न करे क्योंकि मोहम्मद शमी इस लायक नही हैं कि उन्हें अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया जाए। हसीन जहां के इस बयान से मोहम्मद शमी के प्रशंसकों में खासी नाराजगी देखने को मिल रही है।

MOHD SHAMI की पत्नी हसीन जहाँ को पुलिस ने किया अस्पताल में बंद

Image
मोहम्मद आसिफ  अमरोहा: क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने अपनी ससुराल पहुंचकर हाई वोल्टेज हंगामा किया तो ससुरालीजनों को देर रात पुलिस से सहयोग मांगना पड़ा। पुलिस ने हसीन जहां को समझाने का प्रयास किया लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात ही रहा तो पुलिस ने हसीन जहां को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने हसीन जहाँ को स्थानीय सरकारी अस्पताल के एक कमरे में बंद कर दिया और पुलिस अधिकारियों ने वहां हसीन जहां को समझाने का काफी प्रयास किया लेकिन पुलिस अधिकारी सफल नही हो सके तो हसीन जहां के खिलाफ शांति भंग करने की धारा 151 के तहत अभियोग पंजीकृत कर एसडीएम कोर्ट में पेश किया। जहां हसीन जहाँ को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

क्रिकेटर MOHD SHAMI के गांव में हसीन जहां ने किया हंगामा, POLICE ने किया गिरफ्तार

Image
मोहम्मद आसिफ  अमरोहा: क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने अपनी ससुराल पहुंचकर हाई वोल्टेज हंगामा किया तो ससुरालीजनों को देर रात पुलिस से सहयोग मांगना पड़ा। पुलिस ने हसीन जहां को समझाने का प्रयास किया लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात ही रहा तो पुलिस ने हसीन जहां को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। अमरोहा जिले का सहसपुर अलीनगर गांव एक साल से सुर्खियों में बना हुआ हैं, क्योंकि मोहम्मद शमी और हसीन जहां का आपसी विवाद सुलझाने का नाम नही ले रहा है। हसीन जहां जब भी अपनी ससुराल पहुंचती हैं तो हंगामा खड़ा कर देती हैं। जिस कारण मोहम्मद शमी मीडिया की सुर्खी बन जाते हैं। इस बार हंगामा इतना जबरदस्त हुआ कि पुलिस को हसीन जहां को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार करना पड़ा। हसीन जहां को एसडीएम कोर्ट से जमानत पर रिहा कर दिया गया।

क्या RAHUL GANDHI वाकई में पप्पू हैं ?

Image
नदीम अख्तर  मुझे ये कहने में कोई संकोच नहीं कि 2019 के लोकसभा चुनाव की सबसे हॉट सीट बिहार का बेगूसराय है. बिहार सदा से देश और दुनिया को आईना और रास्ता दिखाता रहा है. गौतम बुद्ध से गांधी तक और फिर जयप्रकाश नारायण से बेगूसराय तक. दरअसल कन्हैया मोदी की नीतियों को खारिज करने का प्रतीक बन गया है और यही कारण है कि कन्हैया के समर्थन में पूरे देश से हर वर्ग-पेशे-समुदाय के लोग प्रचार करने बेगूसराय पहुंचे. आप इस गलतफहमी में मत रहिएगा कि बेगूसराय में कन्हैया की टक्कर पाकिस्तान भेजू वीजा मंत्री गिरिराज सिंह से है. बेगूसराय में कन्हैया की सीधी टक्कर पीएम मोदी से है. गिरिराज तो मुखौटा हैं. बीजेपी भी इस लड़ाई को हल्के में नहीं ले रही और यही कारण है कि बीजेपी प्रमुख अमित शाह भी गिरिराज को जिताने के लिए प्रचार करने बेगूसराय पहुंचे और वहां टुकड़े-टुकड़े गैंग का राग दोहराया. पर बेगूसराय ने एक बार फिर मुझे ये सोचने को मजबूर कर दिया कि क्या राहुल गांधी वाकई में राजनीतिक रूप से परिपक्व हैं या फिर वे वाकई में पप्पू हैं. उनको राजनीति, देश और कूटनीति की कोई समझ नहीं. अब देखिए राहुल ने बेगूसराय का खेल क

ichowk के संपादक ने बचकाना ही नहीं बल्कि मानसिक दीवालियापन की निशानी को प्रकाशित किया है?

Image
नदीम अख्तर  ichowk नामक एक वेबसाइट पर अभी एक एनालिसिस देखा कि बिहार में लालू और तेजस्वी यादव, कन्हैया से डरते हैं. उनको डर है कि अगर कन्हैया बेगूसराय से जीत गए तो बिहार से निकलकर एक दमदार यंग आवाज संसद में गूंजेगी और इससे तेजस्वी यादव की अहमियत कम हो जाएगी. पूरे एनालिसिस का सार यही है. मुझे नहीं मालूम इस ichowk का एडिटर कौन है लेकिन अगर मैं एडिटर होता तो इस एनालिसिस को कूड़े के ढेर में फेंक देता. मतलब कहने के लिए कोई कुछ भी बोल देगा और आप छाप दोगे ??!! अबे चिरकुट ! पहले तो राजनीति की थोड़ी समझ पैदा कर लो. आरजेडी बिहार की एक सशक्त पार्टी है और कन्हैया कुमार को पैदा हुए अभी जुमा-जुमा चार दिन ही हुए हैं. दूसरा, उनकी जो लेफ्ट माले वाली पार्टी है ना, वह बिहार में मरी पड़ी है. कन्हैया अगर जीत भी जाएंगे तो वो वन मैन आर्मी रहेंगे. ना बिहार में लेफ्ट की ताकत बढ़ा देंगे और ना तेजस्वी के लिए खतरा बन सकते हैं कभी. अगर कन्हैया इतने ही बाहुबली हैं तो फिर लेफ्ट वालों को उनको पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के खिलाफ उतार देना चाहिए था ना, जहां लेफ्ट के हिस्से का सारा भात ममता दीदी खा रही हैं और

रिटायर्ड सेना अधिकारियों ने दिए सेना भर्ती के टिप्स

Image
यूपी के जौनपुर में बेकन एजुकेशनल साइंटिफिक एवं टेक्नालॉजी ट्रस्ट एवं फेटर एकडेमी आफ इण्डिया ने एनडीए तथा सीडीएस के छात्रों के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में सेवा निवृत्त सेना अधिकारियों ने सेना भर्ती की तैयारी करने वाले युवाओं को सेना भर्ती की महत्वपूर्ण जानकारियां दीं।

ichowk का पोस्टमार्टम: एडिटर बन गए तो कुछ भी लिख-छाप दोगे ?

Image
नदीम अख्तर  ichowk नामक एक वेबसाइट पर अभी एक एनालिसिस देखा कि बिहार में लालू और तेजस्वी यादव, कन्हैया से डरते हैं. उनको डर है कि अगर कन्हैया बेगूसराय से जीत गए तो बिहार से निकलकर एक दमदार यंग आवाज संसद में गूंजेगी और इससे तेजस्वी यादव की अहमियत कम हो जाएगी. पूरे एनालिसिस का सार यही है. मुझे नहीं मालूम इस ichowk का एडिटर कौन है लेकिन अगर मैं एडिटर होता तो इस एनालिसिस को कूड़े के ढेर में फेंक देता. मतलब कहने के लिए कोई कुछ भी बोल देगा और आप छाप दोगे ??!! अबे चिरकुट ! पहले तो राजनीति की थोड़ी समझ पैदा कर लो. आरजेडी बिहार की एक सशक्त पार्टी है और कन्हैया कुमार को पैदा हुए अभी जुमा-जुमा चार दिन ही हुए हैं. दूसरा, उनकी जो लेफ्ट माले वाली पार्टी है ना, वह बिहार में मरी पड़ी है. कन्हैया अगर जीत भी जाएंगे तो वो वन मैन आर्मी रहेंगे. ना बिहार में लेफ्ट की ताकत बढ़ा देंगे और ना तेजस्वी के लिए खतरा बन सकते हैं कभी. अगर कन्हैया इतने ही बाहुबली हैं तो फिर लेफ्ट वालों को उनको पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के खिलाफ उतार देना चाहिए था ना, जहां लेफ्ट के हिस्से का सारा भात ममता दीदी खा रही हैं और

जमीन पर जबरन अवैध कब्जा कर रहे दबंगों ने युवक पर किया धारदार हथियार हमला

Image
इसरार अहमद  श्रावस्ती: भूमाफियाओं की नाक में नकेल डालने के लिए योगी सरकार ने एंटी भूमाफिया स्क्वायड टीम का गठन किया है लेकिन एंटी भूमाफिया स्क्वायड टीम के लापता होने का सुबूत ये तस्वीर दे रही है। श्रावस्ती में पुस्तैनी जमीन पर किए जा रहे अवैध कब्जे को रोकने पहुंचे युवक की दबंगो ने जमकर पिटाई की और धारदार हथियार से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घटना यूपी के श्रावस्ती जिले के सिरसिया थाना क्षेत्र के चैलाही गांव की है। यहां बृजेन्द्र कुमार मिश्रा की जमीन पर अवैध कब्जा करने को लेकर घटी मारपीट की घटना ने योगी सरकार को सवालों के कटघरे में खड़ा कर दिया है। घायल युवक को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है और मामले में पांच लोगों के नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

रायबरेली में ट्रांसफार्मर की चिंगारी ने जलाकर राख कर दिए तीन घर

Image
राम भवन  रायबरेली: ट्रांसफार्मर से उठी एक चिंगारी ने तीन घर और 15 बिस्वा गेंहू की फसल को जलाकर राख कर दिया। विधुत विभाग की लापरवाही का खामियाजा तीन परिवारों को भुगतना पड़ा। घटना रायबरेली जिले के थाना डीह क्षेत्र की ग्राम पंचायत पूरे भूगली के मजरे टेकारी सहन की है। ग्रामीणों के मुताबिक ट्रांसफार्मर से निकली चिंगारी ने देखते ही देखते विकराल रूप धारण कर लिया। अग्निकांड की सूचना फायर ब्रिगेड को दी गई। फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंचती तब तक चन्द्र भान, उदय भान और रामनाथ के घर जलकर राख हो चुके थे। साथ ही 15 बिस्वा गेंहू की फसल भी जल गई। आपको बता दें कि उदय भान की बीती 23 अप्रैल को शादी हुई थी। दहेज में मिला कीमती सामान जलकर राख हो जाने से परिवार का रो रोकर बुरा हाल है।

एक्टरेन्द्र की चिट्ठी, ट्रम्प के नाम

Image
नदीम अख्तर  Dear ट्रम्प, औएए तू कैसा दोस्त है रे !!! तेरे को नहीं मालूम क्या कि अपने गुजरात, I mean इंडिया में अभी चुनाव चल रहे हैं???फिर #F16 पे लफड़ा काहे कर रहे हो dear? F16 के बारे में नहीं बताओगे तो मैं सेना के नाम पे वोट कैसे मांगूंगा? चुनाव जीतना मुश्किल हो जाएगा बे मोटू! देख! तेरे कहने पे हमने ईरान से तेल खरीदना बन्द कर दिया। अब इससे हमारे लोगों का तो तेल निकल जाएगा, हज़ारों करोड़ extra खर्चा बढ़ गया मेरा पर तेरी दोस्ती में ही तो ये सब कुछ कर रिया हूँ ! दोस्ती बनी रहे पर तू ये कर क्या रहा है? सिर्फ चुनाव तक #एफ16 की मेरी बनाई कहानी से छेड़छाड़ मत कर ना !! तू कहेगा तो तेरे #CIA को भी देश बुला लूंगा घूमने-फिरने। अरे जैसे मियां पाकिस्तान की #ISI को बुलाया था अपने एयर फोर्स पर आतँकवादी हमले की जांच के लिए!! एक बार चुनाव जीत जाने दे, फिर तेरे साथ चलकर मियां इमरान खान के घर बिरयानी भी खाएंगे दोस्त! मियां नवाज़ भी आएगा। उसके यहां तो खूब नल्ली-नेहारी उड़ाई है हमने! एक बार तो बिन बुलाए ही चला गया था। surprise visit you know!! हे हे हे!! हम गुजराती होते ही ऐसे हैं। हे हे हे!! तू बता? और

आज भी जनपद की राजनीति में उलटफेर करने का माद्दा रखते हैं पूर्व विधायक रामलाल अकेला।। Raebareli news ।।

Image
शिवाकांत अवस्थी रायबरेली के बछरावां विधानसभा से समाजवादी पार्टी से दो बार विधायक रह चुके पूर्व विधायक रामलाल अकेला आज भी यहां लोगों के दिलों पर राज करते हैं और जनपद की राजनीति में उलटफेर करने का माद्दा रखते हैं। उन्होंने महराजगंज में हमारे संवाददाता से खास बातचीत करते हुए, भारतीय जनता पार्टी की कुरीतियों के खिलाफ शब्दों के तीखे प्रहार किए और समाजवादी पार्टी की पूर्ववर्ती सरकारों में कराए गए विकास कार्यों को एक-एक कर गिनवाया। उन्होंने हमारे संवाददाता से बातचीत के दौरान कहा कि, रायबरेली संसदीय क्षेत्र से समाजवादी पार्टी ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारा है, इसलिए समाजवादी पार्टी का एक-एक कार्यकर्ता कांग्रेस पार्टी की उम्मीदवार सोनिया गांधी के लिए गांव-गांव जाकर लोगों से वोट मांगने का काम करेगा। श्री अकेला ने कांग्रेस पार्टी की रायबरेली सांसद सोनिया गांधी का बखान करते हुए कहा कि, गांधी परिवार की वजह से ही रायबरेली, देश में ही नहीं विदेशों में भी, यहां हुए चौमुखी विकास के लिए जानी जाती है। उन्होंने भाजपा को झूठ और जुमले बाजो तथा आम जन विरोधी पार्टी बताया है।        आपको बता दें कि, नेता ए

अदिति सिंह ने कांग्रेस प्रत्याशी सोनिया गाँधी के लिए मांगे वोट।। Raebareli news ।।

Image
शिवाकांत अवस्थी सरेनी/रायबरेली: सदर विधायक अदिति सिंह ने आम चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी सोनिया गाँधी को रिकॉर्ड तोड़ वोटों से जीत दिलाने के लिए लगातार जनपद में सघन जनसम्पर्क अभियान चला रही हैं। इसी क्रम में अदिति सिंह ने सरेनी विधानसभा क्षेत्र के सिंघौर तारा, हैबतपुर कला, बैरवा, रामपुर कला, सराय, रावतपुर, हरीपुर, फिरोजपुर, आदि दर्जनों गावों में जनसम्पर्क कर लोगों से सोनिया गाँधी के पक्ष में वोंट डालनी की अपील की।            आपको बता दें कि, सदर विधायक आदिति सिंह ने उपर्युक्त सरेनी विधानसभा के गांव सहित नगरपालिका क्षेत्र के आर्य समाज मन्दिर से कैपरगंज, घंटाघर होते हुए सुपर मार्केट तक पैदल मार्च कर व्यापारियों से सोनिया गाँधी को पुनः जनसमर्थन देने की भी अपील की। इस दौरान नगर पालिकध्यक्षा पूर्णिमा श्रीवास्तव भी सम्मिलित हुई।          इस दौरान अदिति सिंह जनता को सम्बोधित करती हुई कहती हैं कि, जनपद में एम्स, रेलकोच, एफ.डी.डी.आई, नाईपर, रिंग रोड, पेट्रोलियम इंस्टिट्यूट, निफ्ट, नेशनल हाईवे, एफएम रेडियो स्टेशन, स्पाइस मिंट पार्क आदि कांग्रेस पार्टी की ही देन है, जिसे कोई झुठला नही स

दैनिक पंचांग व राशिफल; मंगलवार 30 अप्रैल 2019

Image
-आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ) पंचांग तिथि एकादशी 24:17:32 पक्ष कृष्ण नक्षत्र शतभिष 08:14:13 योग इंद्रा 29:08:45 करण भाव 11:13:33 करण बालव 24:17:32 वार मंगलवार माह (पूर्णिमांत) वैशाख चन्द्र राशि    कुम्भ 28:14:35 चन्द्र राशि    मीन   28:14:35 सूर्य राशि    मेष रितु वसंत आयन उत्तरायण संवत्सर (उत्तर) परिधावी विक्रम संवत 2076 विक्रम संवत शाका संवत 1941 शाका संवत राशिफल मेष राशि:     शुभ फल की वृद्दि होगी।नौकरी मे स्थल परिवर्तन ।वाणी पर नियंत्रण।खेल जगत से जुड़े जातकों के लिए समय श्रेष्ठ है। यात्रा से लाभ संभव है। समय पर कार्य करना सीखें। वृष राशि:      वर्तमान समय शुभ फल देने वाला है। अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें। बने काम बिगड़ सकते है। अपनी सोच को बदलें, न की दुसरों को बदलने की कोशीश करें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। इष्ट आराधना सहयाक रहेगी। मिथुन राशि:     संतान के विवाह की चिंता रहेगी। आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। पूंजी निवेश से लाभ संभव है। राज कार्य से जुड़े जातकों के लिए समय मिश्रित फलदाई है। अपने अधिकारों का गलत प्र