जौनपुर:EVM के सम्बन्ध में फेसबुक पर अफवाह फैलाना युवक को पड़ा भारी,थाना लाइन बाजार पुलिस व साइबर सेल टीम ने किया गिरफ्तार ,बिना तथ्य के आधार पर न फार्वड करे कोई मैसेज - CARE OF MEDIA

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

Tuesday, May 21, 2019

जौनपुर:EVM के सम्बन्ध में फेसबुक पर अफवाह फैलाना युवक को पड़ा भारी,थाना लाइन बाजार पुलिस व साइबर सेल टीम ने किया गिरफ्तार ,बिना तथ्य के आधार पर न फार्वड करे कोई मैसेज



जौनपुर/मुख्यालय
रियाजुल हक
दिनांक 21.05.2019 आशीष तिवारी पुलिस अधीक्षक जौनपुर के निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक नगर जौनपुर, क्षेत्राधिकारी नगर व प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार मिश्र के नेतृत्व में उप निरीक्षक कौशलेंद्र प्रताप सिंह मय हमराह का0 उमेश कुमार सिंह, हेड कांस्टेबल शिवजी सिंह, का0 ओम प्रकाश जायसवाल के साथ नवीन मंडी स्थल चौकिया जौनपुर में ईवीएम सुरक्षा ड्यूटी एवं भ्रामक सूचना फेसबुक पर प्रसारित करने वाले अभियुक्त के गिरफ्तारी हेतु मामूर थे कि मुखबिर खास द्वारा सूचना मिली कि मु0अ0सं0 270/19 धारा 171 जी भादवि व 67 आईटी एक्ट से संबंधित वांछित अभियुक्त फैजान खान पुत्र इरसाद अली निवासी मुहल्ला मीरमस्त थाना कोतवाली जौनपुर पचहटिया तिराहे पर मौजूद है कहीं जाने की फिराक में है जल्दी किया जाय तो पकड़ा जा सकता है।मुखबिर खास पर विश्वास कर मय फोर्स पचहटिया तिराहे पर पहुचाँ कि मुखबीर अभियुक्त की तरफ इशारा कर हट गया। अभियुक्त हम पुलिस वालों को देखकर भागने का प्रयास किया की एकबारगी घेरकर पकड़ लिया गया जो ईवीएम मशीन बदलने भ्रामक सूचना फेसबुक पर प्रसारित किया था जिसके संबंध में थाना स्थानीय पर मुकदमा अपराध संख्या 270/19 धारा 171 जी भादवि व 67आईटी एक्ट पंजी6oकृत है।

गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण-

1.     फैजान खान पुत्र इरशाद अली निवासी मोहल्ला मिरमस्त थाना कोतवाली जौनपुर।

गिरफ्तारी करने वाली टीम-

1.     निरीक्षक संजीव कुमार मिश्र प्रभारी निरीक्षक थाना लाइन बाजार जौनपुर।

2.     उ0नि0 कौशलेंद्र प्रताप सिंह थाना लाइन बाजार जौनपुर।

3.     हेड कांस्टेबल शिवजी सिंह, का0 रमेश कुमार सिंह, हेड कांस्टेबल बृजनाथ यादव थाना लाइन बाजार जौनपुर।

4.     का0 ओम प्रकाश जायसवाल साइबर सेल जौनपुर।

आप से गुजारिश है कि ऐसी किसी भी  evm या चुनाव से संबंधित किसी भी प्रकार की खबरों, सूचनाओं का आदान प्रदान बिना सोचे समझे बिना किसी तथ्य  के न करें नहीं तो आप मुसीबत मे फंस सकते हैं, आपके द्वारा फैलाए गई  चुनाव के संबध मे भ्रामक सूचना के आधार पर समाज में अराजकता भी फैल सकती है।

इसलिए ऐसी किसी भी घटना के बारे में पूर्ण जानकारी हासिल करने के बाद ही किसी शासन के अधिकारी, पुलिस अधिकारी या प्रशासन के लोगों या पत्रकार, प्रेस रिपोर्टर से उसकी सही जानकारी जरुर हासिल करें।

Post Bottom Ad

MAIN MENU