18 जुलाई को लाकडाउन के मध्य प्रधान के नेतृत्व में एक दर्जन लोगों ने किया था नंगा नांच।। Raebareli news ।।

पुलिस प्रधान-परिजनों के गठजोड़ ने ध्वस्त कर दिया मकान-ओ0पी0 यादव
पीड़िता सविता द्विवेदी ने मुख्यमन्त्री से लगायी गुहार
ऊंचाहार थाने के सिपाही ए.के. शुक्ला ने निभायी अहम भूमिका
18 जुलाई को लाकडाउन के मध्य प्रधान के नेतृत्व में एक दर्जन लोगों ने किया नंगा नांच
अवैध असलहों व फावड़ा, बेल्चा से मकान गिराकर किया पांच लाख का नुकसान
शिवाकांत अवस्थी
रायबरेली: ऊंचाहार थाने के सिपाही ए0के0 शुक्ला ने गंगौली निवासी अम्बिका प्रसाद से पैसे लेकर ग्राम प्रधान को साथ लेकर लगभग एक दर्जन लोगों ने 18 जुलाई 2020 को लाकडाउन के मध्य पीड़िता सविता द्विवेदी के मकान को सरहंगी एवं अराजकता के बल पर धराशायी कर दिया। बताया जाता है कि, सभी लोग लाठी, बल्लम, कुल्हाड़ी, फावड़ा, बेल्चा व कट्टा से लैस थे। अहमदाबाद गुजरात की रहने वाली एक शिवकुंवारा नाम की महिला के नाम से एक फर्जी प्रार्थना पत्र थाने में दिलवाया गया। पीड़िता के पति ने मकान अपनी पैतृक भूमि पर बनवाया था, ग्राम समाज की भूमि नहीं है।
       पैतृक जमीन के बंटवारे के कारण नाराज परिजनों ने मकान गिराकर लगभग पांच लाख रूपये का नुकसान किया। पीड़िता सविता द्विवेदी ने न्याय पाने के लिए सूबे के मुख्यमन्त्री के यहां गुहार लगायी है। मकान गिराने में थाना ऊंचाहार के सिपाही ए0के0 शुक्ला, ग्राम प्रधान राजेन्द्र कुमार निर्मल, दीपक, सचिन, अम्बिका प्रसाद, पुष्पलता, गिरिजा प्रसाद, शिवकुंवारा समेत लगभग एक दर्जन लोग शामिल थे, सभी के विरूद्ध मुकदमा लिखकर कार्यवाही की मांग की गयी है। 
      सेन्ट्रल बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व डीजीसी (फौजदारी) ओ0पी0 यादव ने पुलिस अधीक्षक रायबरेली से सम्बन्धित लोगों के विरूद्ध कार्यवाही की मांग की है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post
loading...