अमेठी पहुंचे पूर्व सैनिक तेज बहादुर, सैनिक के पिता की हत्या पर शोक संवेदनाएं व्यक्त कीं और उठाये ये सवाल


आदित्य शुक्ला 
अमेठी: बीती 21 जुलाई की देर शाम भारतीय सेना में तैनात जवान सूर्यप्रकाश के पिता राजेंद्र मिश्र की मामूली विवाद के बाद उनके पड़ोसियों ने धारदार हथियार से हत्या कर दी थी साथ ही परिवार के साथ भी मारपीट की थी इस‌ पूरे मामले पर पुलिस ने बेटे के तहरीर पर 6 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया
वहीं आज सेना के जवान के पिता की हत्या के मामले में पूर्व सैनिक और वाराणसी लोकसभा से प्रत्याशी रहे तेज बहादुर यादव आज अमेठी पहुंचे पूर्व सैनिक तेज बहादुर यादव ने अमेठी पहुंचकर मृतक राजेंद्र मिश्रा के परिजनों से मुलाकात की साथ ही उन्होंने घटना पर शोक संवेदना जताते हुए हर संभव मदद का  भरोसा दिलाया
परिवार से मुलाकात करने के बाद पत्रकारों से मुखातिब हुए पूर्व सैनिक तेज बहादुर ने  कहां कि हम प्रशासन की कार्रवाई से संतुष्ट हैं लेकिन उस कार्यवाही से क्या होगा यह बेहद गरीब परिवार से हैं सरकार को इन्हें 20 लाख  रुपए की आर्थिक सहायता देनी चाहिए सरकार का यह फर्ज बनता है सरकार यह कहती है कि हम सैनिकों के साथ हैं लेकिन जब उत्तर प्रदेश में सैनिकों की मदद की बात आती है सैनिक परिवारों की मदद की बात आती है तो सरकार अपना मुंह बंद कर लेती है उन्होंने सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार‌ परिवार के साथ दोहरा व्यवहार क्यों कर रही है उत्तर प्रदेश में बहुत से ऐसे मामले हैं
अभी कुछ दिन पूर्व ही पुलिस की गलती से एक गुंडे की मौत हो गई थी और सरकार ने उस परिवार को 5 लाख रुपए और सरकारी नौकरी दी फिर मैं पूछना चाहता हूं कि सरकार सैनिक के परिवार की मदद क्यों नहीं कर रही है पूर्व सैनिक ने इसके साथ ही कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरीके से चौपट हो गई है आए दिन हत्याएं हो रही हैं कहीं पत्रकारों को मार दिया जा रहा है कहीं और भी  अन्य घटनाए हैं घटित हो रही हैं इसके लिए सरकार पूरी तरीके से जिम्मेदार है

Post a Comment

0 Comments