यूपी में एक और साधु की हत्या, मंदिर परिसर में लटका मिला शव


यूपी के सुलतानपुर जिले में एक बालयोगी का शव मंदिर के परिसर में ही पेड़ से लटकता हुआ पाया गया है। पुलिस पता लगा रही है कि योगी ने आत्महत्या की है या किसी ने उनकी हत्या कर दी है।

उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर जिले के छतौना बाजार के पास पीर बाबा मंदिर परिसर में एक बालयोगी साधू की लाश पेड़ से लटकती हुई पाई गई। बालयोगी की इस तरह लाश लटकी मिलने से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। लोगों ने हत्या करके लाश को लटकाने का आरोप लगाया है।

पुलिस हत्या और आत्महत्या की गुत्थी को सुलझाने में जुट गई है। जानकारी के अनुसार गुरुवार सुबह छतौना बाजार वीर बाबा मंदिर के परिसर संदिग्ध हालात में बालयोगी सत्येंद्र आनंद सरस्वती महाराज नागा बाबा (22) का शव पेड़ से लटकते हुए मिलने पर लोगों में हड़कंप मच गया। ये खबर जंगल में आग की तरह फैली और देखते ही देखते काफी संख्या में स्थानीय लोगों की भीड़ घटना स्थल पर जमा हो गई।

लोग चर्चा कर रहे हैं कि बाबा की हत्या करके लाश को लटका दिया गया है या उसने खुद आत्महत्या कर लिया है? स्थानीय लोगों ने बताया कि बाल योगी आनन्द सरस्वती बाबा हिमाचल प्रदेश से आए हुए थे और सालों से यहां चांदा थाना क्षेत्र के छतौना कला ग्राम के वीर बाबा मंदिर पर रहते थे। फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस ने बाबा के शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस की जांच हत्या या आत्महत्या के बीच केंद्रित है। पुलिस का कहना है कि जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद ही घटना का खुलासा हो पाएगा.

Post a Comment

0 Comments