अमरोहा में दरोगा ने पत्रकार को बेरहमी से पीटा, गुनाह पुलिस की गुंडई को कैमरे में कैद करना


मोहम्मद आसिफ 
अमरोहा: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पत्रकारों के प्रति आए दिन कहते रहते हैं कि पत्रकारों के साथ पुलिस व अधिकारी अच्छा बर्ताव करें और उनकी सुरक्षा का भी ख्याल रखें लेकिन उनके ही फरमान को उत्तर प्रदेश की पुलिस अनसुना कर रही है
पत्रकारों के साथ मारपीट तक कर रही है उत्तर प्रदेश में पत्रकार नही सुरक्षित 2 दिन पहले ही गाजियाबाद में विक्रम जोशी को बदमाशो ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया अब अमरोहा में चौकी पर तैनात दरोगा और  सिपाही ने एक स्थानीय पत्रकार के साथ जमकर मारपीट की जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया दरोगा की मारपीट से पत्रकार को चोटें आई है
मामला अमरोहा जनपद के थाना आदमपुर के रहरा चौकी का है जहां पर रहरा चौकी में तैनात दरोगा राहुल चौहान सिपाही अमित बालियान ने मार्केट में जाकर लोगों पर लाठियां भांजनी शुरू कर दी इसी को देखते वहां मौजूद एक स्थानीय पत्रकार ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया जिससे दरोगा ने अपनी दबंगई दिखाते स्थानीय पत्रकार के साथ जमकर मारपीट की और इतना ही नहीं पत्रकार को अपनी गाड़ी में डालने लगा पत्रकार के साथ मारपीट का स्थानीय लोगों ने वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया
 तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि एक बिना वर्दी के दरोगा एक स्थानीय पत्रकार के साथ किस तरह से मारपीट कर रहा है और अपने सिपाही से वीडियो बनवा रहा है इससे साफ है कि चौथे स्तंभ को बदमाशों के साथ पुलिस भी निशाना बना रही है
पुलिस कर्मियों की मारपीट से पत्रकारों में रोष है पुलिस की मारपीट में पत्रकार को चोटें आई हैं सवाल यह है कि आखिर पत्रकारों को ही निशाना क्यों बनाया जा रहा है क्या पत्रकार को सच्चाई दिखाना गलत है अब देखना यह होगा कि क्या उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जिस तरह से पत्रकारों की सुरक्षा और अच्छे बर्ताव की बात करते हैं तो इस पर उत्तर प्रदेश के पुलिस के मुखिया इन पुलिसकर्मियों पर क्या कार्यवाही करते हैं या फिर यूं कहें कि लीपापोती कर के ही मामले को रफा-दफा किया जाए

Post a Comment

0 Comments