भूमि पूजन से पहले ही मिल गई इतनी धन राशि, रातोंरात अरबपति हुए रामलला


रामजन्मभूमि में विराजमान रामलला के मंदिर निर्माण के लिए आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भूमि पूजन करेंगे। इसके पहले निर्माण के लिए दानदाताओं की ओर से दी जा रही धनराशि से रामलला अरबपति की श्रेणी में आ गए हैं।

श्रीरामचरित मानस के प्रतिष्ठित अन्तर्राष्ट्रीय प्रवक्ता संत मुरारी बापू के आह्वान पर उनके अनुयायियों ने चार दिन में 18 करोड़ की धनराशि एकत्र की है। इसमें भारत में निवास कर रहे श्रद्धालुओं ने 11 करोड़ का दान किया है जो कि मंगलवार को रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते में हस्तान्तरित हो गया। शेष सात करोड़ विदेश में रह रहे श्रद्धालुओं द्वारा दिए जाने के कारण उसका भुगतान अभी रोका गया है।

विदेशी मुद्रा विनिमय के प्रावधानों के अन्तर्गत राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का पंजीकरण होने के बाद इसका भुगतान हो सकेगा। यह जानकारी ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष महंत गोविंद देव गिरि ने दी। इस मौके पर बताया गया कि पहले दिन भूमि पूजन अनुष्ठान के यजमान महेश भाग चंदका ने भी एक करोड़ का दान देने की घोषणा की। इसी तरह सजन बंसल नामक श्रद्धालु ने एक करोड़ दान किया। एक अन्य ने एक करोड़ का गुप्त दान दिया।

बताया गया कि पांच-पांच लाख का आनलाइन भुगतान बैंक में सीधे भी आ रहा है और ट्रस्ट को भी भेजा जा रहा है। एक लाख का दान देने वालों की संख्या भी बहुत बड़ी है। इससे नीचे के राशि दान करने वाले अनगिनत हैं। ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष महंत श्री गिरि ने अपने गुरुदेव व भारत माता मंदिर के संस्थापक ब्रह्मलीन संत स्वामी सत्यमित्रानंद महाराज की स्मृति में भी सवा लाख दान घोषित किया। इसके पहले महावीर ट्रस्ट, पटना पहले ही दस करोड़ दान का ऐलान कर चुका है जिसमें दो करोड़ की पहली किश्त ट्रस्ट के खाते में हस्तांतरित कर दी गयी है।

महाराष्ट्र के सीएम उद्वव ठाकरे की ओर से आया एक करोड़

रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले अयोध्या आए शिवसेना प्रमुख उद्वव ठाकरे ने राम मंदिर निर्माण के लिए तीन करोड़ की राशि दान करने का ऐलान किया था। उसकी पहली किश्त के रुप में एक करोड़ की धनराशि ट्रस्ट के खाते में हस्तांतरित हुई है लेकिन यह राशि किसने भेजी है, इसका पता नहीं चल रहा है। भेजने वाले ने शिवसेना, महाराष्ट्र का ही उल्लेख किया है।

Post a Comment

0 Comments