रेप के दो दोषियों को मिली फांसी की सजा, खुशी में पुलिस स्टेशन को दुल्हन की तरह सजाकर बांटी मिठाइयां


9 साल की मासूम के रेप की वारदात को अंजाम देने वाले दो दरिंदों को जिला कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाया है। बतादे कि 1 साल पहले दो दरिंदों ने मासूम का अपहरण कर उसके साथ बलात्कार किया था।
दरअसल यह मामला महाराष्ट्र के बुलढाणा के चिखली शहर की है। जहां 26 अप्रैल 2019 की रात दो युवकों ने 9 साल की मासूम के साथ हैवानियत की। मासूम अपने माता-पिता के साथ सोई हुई थी तो उसे उठाकर दो युवकों ने शहर की सुनसान जगह पर ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया था।
उल्लेखनीय हैं कि मासूम के साथ रेप की वारदात की खबर सामने आने के बाद लोगो मे जबरदस्त गुस्सा था। विरोध मे शहर बंद भी रखा गया था। जिस पर कार्यवाही करते हुए पुलिस ने आरोपी सागर विश्वनाथ बोरकर और निखिल शिवाजी गोलाइत के खिलाफ रेप, पॉक्सो व एट्रोसिटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था।
वहीं अब केस में जिला कोर्ट ने दोनों को दोषी करार देते हुए फांसी की सजा सुना दी है। दूसरी तरफ इस फैसले से चिखली पुलिस स्टेशन को दुल्हन की तरह सजाया गया और जमकर पटाखे भी फोटे। वहीं नगर वासियों ने मिठाई बांटकर खुशी जाहिर की।

Post a Comment

0 Comments