मोदी सरकार ने 17,938 वेंटिलेटर का आवंटन किया लेकिन राज्यों को मिले सिर्फ 9,150 वेंटिलेटर

सौमित्र रॉय 
मोदी सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने 36 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों तथा केंद्रीय स्वास्थ्य संस्थानों के लिए 17,938 वेंटिलेटर का आवंटन किया था। इसमें से 10 जुलाई 2020 तक में कुल 9,150 वेंटिलेटर दिए गए हैं, जो कुल आवंटन का करीब 50 फीसदी ही है।
पीएम केयर्स फंड के तहत आवंटित कुल 50,000 स्वदेशी वेंटिलेटर्स में से अब तक सिर्फ 2,923 वेंटिलेटर यानी करीब छह प्रतिशत का ही उत्पादन हुआ है। ये बेहद घटिया क्वालिटी के वेंटीलेटर मरीजों की जान लेने वाले हैं।
कोरोना वायरस से मजबूती से लड़ने के लिए मार्च में सरकार ने वेंटिलेटर के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था। 24 मार्च के बाद वेंटिलेटर का निर्यात नहीं किया जा सकता था, लेकिन अब सरकार ने निर्यात की इजाजत दे दी है।
क्या अब भी नहीं कहेंगे कि पीएम केयर्स और इस फण्ड से वेंटीलेटर खरीदी का एक बहुत बड़ा घोटाला हुआ है?अपने मरीज़ों के लिए वेंटीलेटर नहीं, दूसरे देशों में भेजने के लिए है। 

Post a Comment

0 Comments