सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुँचाने के आरोप में बैंक मैनेजर समेत तीन लोगों पर मुक़दमा दर्ज


गणेश मौर्य 
अम्बेडकरनगर। बीते दिनों से विकास खण्ड बसखारी के अंतर्गत ग्रामसभा बीबीपुर का एक मामला सामने आया है। जिसमे एक महिला गाँव के ही मेवालाल एवं विनय कुमार पुत्रगण भगेलूराम जो पेशे से शिक्षक है।
उनपर आरोप लगाते हुए कहा कि इन्होंने ज़बरन मुझे मेरे घर मे अकेला देख कर मेरे ऊपर हमला कर दिया औऱ जबरन सादे स्टांप पर अंगूठा लगवाने लगे आपत्ति करने पर दोनों भाइयों ने मुझे मारा पीटा और भद्दी भद्दी गालियां दी जिसकी शिकायत बसखारी थाने में दी गई है।
इस मामले की पुष्टि करने के लिए जब मीडिया बीबीपुर गाँव पहुँची तो सबसे पहले  ग्राम प्रधान व गाँव वासिओ से जानने की कोशिश की लोगों ने मीडिया को बताया की धर्मा देवी पत्नी स्वर्गीय ललई ने गाँव के दो सम्मानित लोगो की छवि धूमिल करना चाहती है।
ग्राम प्रधान दिलावती देवी पत्नी मन्नुराम ने बताया कि हम ने खुद धर्मा देवी के खिलाफ इस मामले की शिकायती पत्र बसखारी थाने में दी है। जिस में लिखा है। मैं ग्राम प्रधान होने के कारण सच्चाई बताना चाहती हूँ। कि मेवा लाल एंव विनय कुमार सम्मानित व्यक्ति है। केवल उनकी छवि धूमिल करना चाहती है।
वह विधवा जरूर है। लेकिन उनके साथ धर्मा देवी का दामाद बेटी नाती एवं नतिनी भी रहती है। धर्मा देवी का एक नाती बैंक मैनेजर भी हैं। यह भी पता चला है। कि मेवा लाल एवं विनय कुमार के विरुद्ध थाने में मुकदमा भी पंजीकृत हो गया है। जोकि गलत है। एवं अन्याय पूर्ण है। इस प्रकार धर्मा देवी द्वारा दिया गया प्रार्थना पत्र पूरी तरह से फर्जी है।
मामला बिजली के एक खम्बे से सम्बंधित था चूंकि बिजली का खंम्बा धर्मा देवी के दामाद एवं नाती द्वारा तोड़ा गया था जिस सत्यता को छुपाने के लिए फर्जी पार्थना पत्र दिया गया औऱ मुख्य प्रकरण में मोड़ लाया गया है। शनिवार को मेवालाल एवं विनय कुमार पुत्रगण भगेलूराम के द्वारा दिए गए पार्थना पत्र दिया गया उसके बाद तीन लोगों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया है

Post a Comment

0 Comments