भाजपा नेता क्लीनिक में घुसकर मुस्लिम डॉक्टर को पीटा, जय श्रीराम के नारे लगवाए, कहा- नरेन्द्र मोदी हमारे भगवान हैं?


बिहार के छपरा जिले में एक मुस्लिम डॉक्टर को पीएम मोदी पर टिप्पणी करना भारी पड़ गया है। उसने सोशल मीडिया पर पीएम की कुछ आपत्तिजनक तस्वीर पोस्ट कर दी थी। डॉक्टर का पोस्ट देख बीजेपी नेता आगबबूला हो गया और अपने समर्थकों के साथ डॉक्टर के क्लिनिक पर आ धमका। उसके बाद उसने क्लिनिक में ही थप्पड़ जड़ दिया।

दरअसल, पीएम मोदी पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले डॉक्टर की छपरा में एक बीजेपी नेता ने पिटाई की है। पिटाई का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल है। वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि कैसे बीजेपी नेता कानून को अपने हाथ में ले रहा है। पोस्ट डालने वाले डॉक्टर के खिलाफ पुलिस में शिकायत नहीं कर वह कानून को खुद ही अपने हाथ में ले रहा है।

क्लिनक में घुस बीजेपी का स्थानीय नेता सुजीत पूरी डॉक्टर को कहता है कि तुम पागल हो। तुम पीएम की गंदी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट करोगे। हम मोदी जी को भगवान मानते हैं। उसके बाद डॉक्टर की पिटाई करने लगता है। सुजीत पूरी एक के एक थप्पड़ डॉक्टर को दनादन जड़ देता है। उसके बाद उससे माफी मांगने के लिए कहता है। वहीं, डॉक्टर कहता है कि गलती हो गई है, बच्चे इस तरीके से पोस्ट कर दिया है।

लगाए जय श्रीराम के नारे बीजेपी नेता के समर्थक बाहर में जय श्रीराम के नारे लगा रहे थे। साथ ही ये लोग डॉक्टर से बार-बार उठक-बैठक करने को कह रहे थे। डॉक्टर बार-बार कह रहा था कि गलती हो गई भइया, अब आगे से नहीं होगा। फिर भी उससे कान पकड़ लोगों ने माफी मंगवाया। वहीं, सुजीत पूरी डॉक्टर को नसीहत भी दे रहा था कि हम तुम्हारे नेता के खिलाफ ऐसी टिप्पणी करते हैं क्या। तुमको विरोध करना है तो मर्यादा में रह कर करो।

वीडियो वायरल होने के बाद प्रदेश की सियासत गरमा गई है। बीजेपी जिलाध्यक्ष राम दयाल शर्मा ने कहा कि सुजीत पूरी अभी बीजेपी के प्राथमिक सदस्य भी नहीं है लेकिन वे खुद को BJP कार्यकर्ता कहते हैं तो इसकी जांच की जाएगी।

इस मामले में सारण के एसपी हर किशोर राय ने दोनों पक्षों पर प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया है। बीजेपी नेता सहित पूरी पर बनियापुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। वहीं डॉ मुमताज पर जलालपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है। आरोपी डॉक्टर मुमताज को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। इस मामले में एसपी हरकिशोर राय खुद घटना की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि किसी को भी कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है।

Post a Comment

0 Comments