भाजपा नेता ने महिला वर्कर को धर्मशाला में ले जाकर बिस्तर गर्म करने के लिए किया मजबूर, वीडियो हुआ वायरल


भाजपा की एक महिला वर्कर ने भाजपा के ही एक सीनियर नेता के खिलाफ शारीरिक संबंध बनाने व मानसिक तौर पर परेशान करने के आरोप लगाए हैं। यह सारा मामला उस समय गर्मा गया जब महिला वर्कर की तरफ से भाजपा हार्कमान को कार्रवाई के लिए लिखा पत्र और संबंधित भाजपा नेता के साथ हुई फोन पर बातचीत की ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हुई, जिसके बाद बटाला भाजपा में हलचल मच गई और यह पत्र चर्चा का विषय बन गया। सोशल मीडिया पर वायरल पुत्री संबंधी जब महिला वर्कर को संपर्क करके पूछा गया तो उसने कहा कि मेरी तरफ से ही पत्र लिखा गया है और पार्टी हाईकमान से इंसाफ की गुहार लगाई है।
महिला वर्कर ने पंजाब भाजपा के प्रधान को लिखे इस पत्र में कहा कि मैं भाजपा की नीतियों से प्रभावित वर्कर हूं और बटाला की निवासी हूं और उम्मीद करती हूं कि कोरोना काल में आप और आपका परिवार ठीक-ठाक होगा। इस पत्र के द्वारा मैं आपका ध्यान बटाला जिले के एक भाजपा नेता की करतूत की तरफ दिलाना चाहती हूं।
पिछले दिनों पार्टी से संबंधित नेता ने उसके साथ संपर्क किया और पार्टी में काम करने के लिए कहा और कुछ समय बाद उसके घर आना-जाना शुरू कर दिया। कुछ दिनों के बाद संबंधित भाजपा नेता की करतूत और चरित्र सामने आना शुरू हो गया। उसको पार्टी में बड़ा पद दिलाने का लालच दिया गया और बदले में उसको अपने साथ धर्मशाला चलने के लिए कहा। इसके लिए मुझे अपना आधार कार्ड भेजने के लिए कहा ताकि पास बनाया जा सके।
उसने मेरे साथ अश्लील बातें करनी शुरू कर दीं और मानसिक तौर पर परेशान करना शुरू कर दिया। मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए बार-बार फोन करने लगा। मैं पार्टी की इज्जत खराब नहीं करना चाहती, इसलिए गुजारिश करती हूं कि इस तरह के घटिया किस्म के नेता को पार्टी से बाहर निकाला जाए।
मुझे उम्मीद है कि आप इस विषय की गंभीरता को समझोगे और पार्टी की महिला वर्कर के हित के लिए जल्द फैसला करोगे और मेरे मान-सम्मान को ध्यान में रखते हुए इंसाफ करोगे। इस व्यक्ति के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए जो आने वाले समय में वर्करों के लिए मिसाल बने और महिला वर्करों के साथ इस तरह का दुखांत फिर न हो और लोगों में पार्टी की इज्जत न खराब हो। इस पत्र के साथ सबूत के तौर पर मैं बातचीत का ब्यौरा पैन ड्राइव के साथ भेज रही हूं।
इस संबंधी बटाला पुलिस जिले के प्रभारी नरेश शर्मा ने बताया कि भाजपा हाईकमान ने मामले की तह तक जांच की है और पार्टी अध्यक्ष द्वारा पार्टी की छवि खराब करने और राजनीतिक प्रतिद्वंदता के कारण उक्त नेता को बदनाम करने के चलते पार्टी के एक ही नेता को नोटिस जारी किया है और 20 अगस्त तक उससे जवाब मांग है।
पार्टी अध्यक्ष की तरफ से उक्त नेता को पंजाब भाजपा कार्यकारिणी की प्राथमिक सदस्यता से भी फिलहाल निलंबित कर दिया गया है तथा संबंधित उक्त नेता का जवाब आने के बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी। नरेश शर्मा ने आगे कहा कि जो भी व्यक्ति पार्टी का अनुशासन भंग करेगा एवं पार्टी विरोधी गतिविधियां करेगा, उसके विरुद्ध पार्टी के संविधानानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी।
साभार : पंजाब केसरी

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे