अम्बेडकरनगर: मामूली विवाद में हुई मारपीट की घटना में घायल हुए युवक की उपचार के दौरान मौत

गणेश मौर्य 
अम्बेडकरनगर: सम्मनपुर थाना क्षेत्र के हजपुरा बाजार में बीती 20 जुलाई को मामूली विवाद को लेकर हुई मारपीट की घटना में एक युवक की उपचार के दौरान मौत हो गई. मृतक के परिजनों आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुक़दमा दर्ज करने की पुलिस से मांग की है.
मिली जानकारी के अनुसार विगत 20 जुलाई 2020 को मामूली बात को लेकर एक युवक की लोहे की रॉड से पिटाई कर दी गई थी। इसके बाद उसे छत से नीचे फेंक दिया गया था।जिससे इसके रीढ़ की हड्डी टूट गई थी, परिजनों द्वारा आनन-फानन में उसे जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया था। जहां से बाद में उसकी नाजुक हालत को देखते हुए चिकित्सकों द्वारा लखनऊ के लिए रेफर कर दिया गया था।   
बताते चलें कि सम्मनपुर थाना क्षेत्र के कजपुरा निवासी संदीप उर्फ दीपू(24) पुत्र वासुदेव विगत 20 जुलाई को हजपुरा बाजार में साग सब्जी व अन्य सामान खरीदने आया था। बाजार में ही दरगाह शाह रमजान रमजान निवासी घनश्याम गुप्ता की चाय की दुकान के सामने एक पिकअप खड़ी थी,
संदीप के मुताबिक उसे लगा कि यह तो वही पिकअप है जिस पर उसने कुछ दिन पहले माल ढुलाई आदि का काम किया था।संदीप पिकअप के पास पहुंचा और उसमे चाबी लगा देखा,उसने चाबी निकाल लिया और चालक का इंतजार करने लगा इसी बीच घनश्याम का लड़का आनंद अपने साथियों सहित चाबी निकालने को लेकर विवाद शुरू करते हुए लाठी-डंडे व राड आदि से संदीप को मारना शुरू कर दिया,
संदीप जब अपनी जान बचाकर छत पर भागा, तो उक्त लोग उसका पीछा छत पर भी नहीं छोड़े और छत पर जाकर संदीप को काफी पीटने के बाद उसे छत से नीचे फेंक दिया। जिससे उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई परिजनों द्वारा आनन-फानन में उसे जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया। लेकिन स्थिति को नाजुक देखते हुए चिकित्सकों ने उसे लखनऊ के लिए रेफर कर दिया। इसके बाद सम्मनपुर थाने में पीड़ित का मुकदमा पंजीकृत नहीं किया जा रहा था,
हालांकि सीओ सिटी अकबरपुर के हस्तक्षेप पर 5 दिन बाद 25 जुलाई को सम्मनपुर पुलिस ने धारा 323 504 व एससी/ एसटी एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत किया था,डाक्टरी रिपोर्ट आने के बाद भी पुलिस ने न तो कोई धारा बढाई और न हीकोई विवेचना ही शुरू की, और ना ही कोई गिरफ्तारी सुनिश्चित की।
अंततः शनिवार को देर शाम करीब 7:00 बजे इलाज के बाद घर लाने पर उसकी मौत हो गई। उसकी मौत के बाद से परिवार में कोहराम मच गया।सूचना पर थानाध्यक्ष सम्मनपुर दयाशंकर सिंह व सीओ सिटी जलालपुर मयफोर्स पहुंचे, और परिजनों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया
इसके बाद रात्रि में ही लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।मृतक अपने पीछे अपनी पत्नी व एक डेढ़ साल के बच्चे को छोड़ गया है। इधर परिजनों ने जिला प्रशासन से उक्त मामले में विपक्षियों क ऊपर हत्या की धारा लगाने के साथ ही कार्यवाही की मांग की है।

Post a Comment

0 Comments