मौत को गले लगाने से पहले नही सोचा होगा कि सत्ता और मीडिया एक लड़की का जीना इस तरह से मुश्किल कर देगी?


आवेश तिवारी 
दुख होता है जब मैं रिया चक्रवर्ती को देखता हूँ। मेरी नजर में इन्होंने केवल एक कुसूर किया कि प्रेम कर लिया और उसके साथ लिव इन में रहना स्वीकार कर लिया जिसने मौत को गले लगाने से पहले नही सोचा कि सत्ता और राजनीति एक लड़की का जीना किंस तरह से मुश्किल कर देगी?
अब प्रेमी का परिवार जो कह रहा है सो कह रहा है। बीजेपी जनता दल यू के नेता इस डायन बता रहे हैं। चूंकि वो बंगाली है बहुतेरों का मानना है कि वो काला जादू भी जानती है।।ऐसा मानने वालों में पढ़े लिखे लोग भी हैं। खैर, बचपन से ही सुनता आया हूँ कि बंगाली लड़कियां काला जादू जानती है।
रिया और उसके परिवार वालों के साथ ईडी जिस तरह से घण्टो पूछताछ कर रही है उससे साफ पता चलता है कि केंद्र सरकार की एजेंसियों के पास और कोई काम नही रह गया है। मुझे लगता है पहली बार देश की कोई एजेंसी यह जांच कर रही है कि प्रेमिका ने प्रेमी के पैसे क्यों खर्च किये? स्थिति यह है कि भविष्य में कोई भी लड़की अपने प्रेमी का धन खर्च करने में डरेगी।
रिया का सबसे अधिक ट्रायल अर्नब के रिपब्लिक, टाइम्स नाऊ , आज तक आदि चैनलों ने किया है। ऐसा करने के पीछे वजह न केवल टीआरपी है बल्कि बिहार चुनाव में  सुशांत  की मौत को मुद्दा बनाना भी है।  दरअसल यह लड़ाई पुरुष बनाम स्त्री ऑयर कमजोर बनाम ताकतवर की भी है।
रिया को सुशांत सब कुछ कहता है अपनी बहन के साथ तल्खियां भी उसने रिया से साझा की। अब उनका परिवार जिस तरह से इस लड़की का सार्वजनिक तौर पर मीडिया ट्रायल कर रहा उससे लगता है जैसे यह सब न्याय पाने की इच्छा से ज्यादा बदला है।

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे