पुलिसवालों ने भगवान को लिखी चिठ्ठी- हे महादेव, हमारी कोई नहीं सुन रहा, आप ही कर दो चमत्कार..


उज्जैन। ऐसा तो सुना था कि भक्त लोग मुसीबत में जब पड़ते हैं तो प्रभु के चरणों में अपनी फरियाद लेकर पहुँच जाते हैं , लेकिन ऐसा पहली बार देखा कि अपनी मांगों को मनवाने के लिए पुलिस बाबा महाकाल को चिठ्ठी लिख कर अपना दर्द बताये। जी हैं, बिलकुल ऐसा  ही मामला मध्य प्रदेश में सामने आया है जहां कहीं फरियाद न सुनने पर पुलिस वाले भोलेनाथ को अपना दर्द सुनाने पहुँच गए।
दरअसल मध्य प्रदेश में पुलिस कांस्टेबलों का ग्रेड पे बढ़ाने की मांग का मामला जोर पकड़ता जा रहा है। प्रदेश के कई विधायक पुलिसकर्मियों की मांग का समर्थन पहले ही करते हुए मुख्यमंत्री को पत्र लिख चुके हैं। अब इस मामले में उज्जैन के महाकाल बाबा को चिट्टी लिखी गई है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
बता दें कि महाकाल के लिए लिखी इस चिट्टी में भगवान भोलेनाथ से पुलिसकर्मियों की ग्रेड पे बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार से गुहार लगाई गई है। जिसमें पुलिसवालों का दर्द लिखा हुआ है। हलांकि यह पत्र पुलिस के जरिए लिखी या उनके परिवारवालों ने इस बात की कोई जानकारी सामने नहीं आई है।
इस चिट्टी में बाबा महाकाल से प्रार्थना की है कि हे भोलेनाथ 24 घंटे आम जनता की सुरक्षा में तैनात रहने वाले पुलिसकर्मयों की कोई नहीं सुन रहा है। सालों से पड़ी उनकी मांग अभी तक पूरी नहीं हुई है। अब तो आपका ही एक सहारा है, जिससे कुछ चमत्कार हो सकता है। हमारी मजबूरी है कि हम दूसरे शासकीय कर्मचारियों की तरह अपनी मांगों को पूरा करने के लिए हड़ताल नहीं करते हैं। क्योंकि हम लोग अनुशासन से बंधे होते हैं, हमारे ऊपर लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है।
हम अपने परिवार को छोड़कर दूसरों की सेवा करते हैं, कभी कोई अनुशासनहीनता नहीं करते, कई ऐसे जवान हैं जिन्होंने दुखी होकर सुसाइड तक कर लिया। कई परिवार पीड़ा में जीवन बिता रहे हैं, इसके बावजूद भी कोई हमारी सुध नहीं ले रहा है, वर्षों से लंबित पड़ी मांगें अभी तक पूरी नहीं हुई हैं। अब ऐसे में आप ही कुछ कर सकते हमारे लिए। भोलेनाथ हमारे जवानों के दुखों को दूर करिए, ताकि वह आम नागरिकों की सेवा ठीक से कर सकें।

महाकाल के लिए चिट्ठी में लिखी गई ये मांगें वायरल हो गई हैं  जिसमें लिखा है कि 
- सभी पुलिसवालों को अपने-अपने जिले में तैनाती की जाए।
- वर्तमान ग्रेड पे 1900 से बढ़ाकर 2400 किया जाए।
- आवास भत्ता 500 रुपए से बढ़ाकर 5000 रुपए किया जाए।
- नाइट में गश्त के दौरान मिलने वाला भत्ता भी  300 रुपए किया जाए।
- साइकिल भत्ता 1861 से 18 रुपए महा चल रहा है, जिसकी जगह मोटरसाइकिल भत्ता 3000 रुपए किया जाए।
- पुलिसकर्मियों के बर्खास्त यूनियन को फिर से बहाल किया जाए।
- सशस्त्र पुलिस बल की कंपनी का 10 सालों के स्थाई किया जाए और परिवार को साथ रहने की अनुमति दी जाए।
- इसक अलावा दो हाफ वेतन को फुल किया जाए।

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे