प्रेमी ने मजाक में कहा कि बारात लेकर आओ तो कर लूंगा शादी, प्रेमिका अपनी बारात लेकर पहुंची प्रेमी के घर और फिर शुरू हुआ ड्रामा


मुंगेर। कोरोनाकाल में शादियों को लेकर तरह-तरह की घटनाएं सामने आईं। कहीं टीवी पर एक-दूसरे को देखकर शादी की गई तो कहीं वीडियो कॉलिंग के जरिये शादी की गई। लेकिन शादी का यह नया मामला अन्य घटनाओं से बिल्कुल अगल है। लॉकडाउन मिलने में बाधक बन गया तो प्रेमिका से रहा नहीं गया और बारात लेकर सीधे प्रेमी के दरवाजे पर पहुंच गई। इसके बाद जमकर हाई वोल्‍टेज ड्रामा हुआ। हालांकि बाद में दोनों ने मुंगेर में ही एक मंदिर में शादी कर ली।

मिली जानकारी के अनुसार पश्चिम बंगाल के हुबली स्थित श्रीरामपुर के संतोष गुप्ता की बेटी नेहा गुप्ता को बिहार के मुंगेर स्थित जमालपुर के शिव कुमार चौधरी के बेटे धीरज चौधरी से प्‍यार हो गया था। धीरज का ननिहाल पश्चिम बंगाल में उसी जगह है, जहां नेहा रहती है। वहां दोनों की मुलाकात हुई, फिर धीरे-धीरे प्‍यार हो गया।

दोनों के परिवार वाले इस संबंध के खिलाफ थे, लेकिन दोनों अपनी जिद पर अड़े रहे। इसी दौरान कोरोना महामारी फैलने के बाद लागू लॉकडाउन में ट्रेनें बंद हैं। इससे धीरज प्रेमिका से मिलने नहीं जा पा रहा था। इस दौरान दोनों की मोबाइल पर बातचीत होती रही। इसी बातचीत के दौरान एक दिन धीरज ने मजाक में ही कह दिया कि अगर वह बारात लेकर बिहार आ जाए तो शादी कर लेगा।

प्रेमिका ने भी प्रेमी से घर का पता पूछ लिया। इसक बाद उसने कई बार भाग कर बिहार जाने की कोशिश की, पर स्‍वजनों ने पकड़ लिया। लेकिन अंत में परिवार को झुकना पड़ा। फिर, प्रेमिका परिवार व करीबी लोगों के साथ बंगाल से बिहार के जमालपुर स्थित प्रेमी के घर पहुंच गई।

प्रेमिका को अचानक घर के दरवाजे पर देखकर प्रेमी के पसीने छूट गए। घरवालों ने भी शादी से इनकार कर दिया, लेकिन प्रेमिका अड़ गई। घर के दरवाजे पर इस हाई वोल्‍टेज ड्रामा को देखने भारी भीड़ जुट गई। बाद में भीड़ में शामिल कुछ लोगों के समझाने पर प्रेमी के परिवार वाले शादी के लिए राजी हो गए। फिर आनन-फानन में स्‍थानी नौलक्खा दुर्गा मंदिर परिसर स्थित शिव मंदिर में दोनों की शादी करा दी गई।

Post a Comment

0 Comments