रायबरेली से बड़ी खबर: सुर्खियों में शिवगढ़ पुलिस: नाबालिग से बलात्कार जैसे गंभीर मामले को मारपीट के एनसीआर में तब्दील।। Raebareli news ।।

शिवगढ़ थाने में तैनात दरोगा राम कृपाल सिंह व महिला कांस्टेबल शिवानी तथा सुनीता ऐसे गंभीर मामलों में हमेशा चर्चा में बनी रहती है
शिवाकांत अवस्थी
शिवगढ़/रायबरेली: बलात्कार जैसे गंभीर मामलों को मारपीट में बदल कर एनसीआर लिखने में माहिर शिवगढ़ पुलिस का एक और सनसनीखेज कारनामा प्रकाश में आया है। आखिरकार भुक्तभोगी नाबालिक लड़की व उसकी मां ने क्षेत्राधिकारी राघवेंद्र चतुर्वेदी की चौखट पर जाकर न्याय की गुहार लगाई है। अब देखना दिलचस्प यह होगा कि, बलात्कार के आरोपी शिवगढ़ थाना क्षेत्र में अवैध शराब का कारोबार भी करते हैं। पुलिस और अवैध शराब के कारोबारी की गल बहिया, की वजह से क्या इस पीड़ित को न्याय प्रिय क्षेत्राधिकारी राघवेंद्र चतुर्वेदी न्याय दिला पाएंगे या एक बार फिर बलात्कार की पीड़िता दर-दर भटकने को मजबूर होगी।
    आपको बता दें कि, मामला शिवगढ़ कोतवाली क्षेत्र के पहाड़गंज मजरे मझगवा गांव का है। जहां एक नाबालिक लड़की की मां ने क्षेत्राधिकारी राघवेंद्र चतुर्वेदी को दिए गए शिकायती पत्र में कहा है कि, उसके ही गांव के रहने वाले विनोद पासी पुत्र खुशीराम जो कि, एक सरहंग किस्म का व्यक्ति है, और अवैध देसी शराब का कारोबार करता है।
      29 जुलाई 2020 को दिन में लगभग 10:00 बजे घर की चारदीवारी फांद कर नाबालिग पुत्री के साथ उसी के घर पर जबरन बलात्कार किया, जोकि नाबालिक घर पर अकेली थी। उक्त घटना की जानकारी जब पीड़िता की मां घर पहुंची तो भुक्तभोगी नाबालिक  बेटी ने आपबीती बताई। आनन फानन नाबालिग पीड़िता व उसकी मां शिवगढ़ कोतवाली पहुंची, जहां पर पूर्व से ही चर्चा का विषय बने हुए एसआई राम कृपाल सिंह व महिला कांस्टेबल सिपाही शिवानी व सुनीता ने उल्टा पीड़िता को ही डांट फटकार कर बलात्कार जैसे गंभीर मामलों को एनसीआर में तब्दील कर दिया और सुझाव दे डाला कि, यदि तुम ऐसे बयान दोगी, तो तुम्हारी और परिवार की बेज्जती और बदनामी होगी।
    विदित हो कि, जहां एक तरफ उत्तर प्रदेश के तेजतर्रार आईजी लक्ष्मी सिंह ने रायबरेली के सलोन कोतवाली क्षेत्र में मारपीट जैसे मामले को संज्ञान में लेते हुए जांच पर यह पाया कि, सलोन कोतवाली पुलिस की संलिप्तता पाई गई, जिस पर आनन-फानन सलोन कोतवाली प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया गया। फिर क्या शिवगढ़ कोतवाली में तैनात एसआई राम कृपाल सिंह व दो महिला कांस्टेबल शिवानी व सुनीता को आईजी का खौफ नहीं! बलात्कार जैसे मामलों में पीड़िता को डरा धमका कर मारपीट जैसे मामलों में तब्दील कर इतिश्री कर ली है। 
     अब देखना यह है कि, क्षेत्राधिकारी राघवेंद्र चतुर्वेदी द्वारा पीड़िता को न्याय मिल सकेगा या नाबालिग पीड़िता दर-दर भटकती रहेगी।

Post a Comment

0 Comments