शिक्षकों की समस्याओं के दृष्टिगत कोरोना काल में गूगल मीट पर आयोजित की गई आनलाइन बैठक।। Raebareli news ।।

शिवाकांत अवस्थी

महराजगंज/रायबरेली: राष्ट्रीय शैक्षिक महासंध उत्तर प्रदेश शाखा महराजगंज ने शिक्षकों की समस्याओं के दृष्टिगत कोरोना काल में गूगल मीट पर आनलाइन बैठक आयोजित करके शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं से सम्बन्धित माँगपत्र विभागीय अधिकारियों को निस्तारण हेतु देने का निर्णय लिया है। आज की बैठक की अध्यक्षता मधुकर सिंह ब्लाक अध्यक्ष द्वारा की गई। वहीं आनलाइन बैठक की तकनीकि व्यवस्था आशीष प्रताप सिंह तथा बैठक का संचालन सयुंक्त महामंत्री पंकज सिंह द्वारा किया गया।

     आपको बता दें कि, उपाध्यक्ष आराधना बाजपेयी व सुरेश यादव द्वारा MDM का विषय रखा गया। जिसमे मध्यान्ह भोजन योजना में कनवर्जन कास्ट व खाद्यान्न वितरण करने के लिए मांग-पत्र ब्लॉक संशाधन केन्द्र से समय पर कार्यालय जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को प्रेषित नहीं किया जाता है, जिससे विभाग द्वारा औसत अनुपात में कनवर्जन कास्ट तथा धनराशि प्रेषित किये जाने से विद्यालय के समस्त छात्रों को खाद्यान्न व कन्वर्जन कास्ट का भुगतान नहीं हो पा रहा है।

    कार्यकारी अध्यक्ष हेमन्त सिंह ने शासना से बजट जारी होने व महानिदेशक स्कूली शिक्षा के स्पष्ट आदेश के उपरांत भी शिक्षकों को ब्लॉक संसाधन केंद्र से पाठ्य पुस्तकें विद्यालय ढोकर ले जाने के लिए बाध्य होना पड़ रहा है। साथ ही यह भी है कि, सभी पाठ्य-पुस्तकें विभाग द्वारा उपलब्ध न कराए जाने से शिक्षकों को कई चक्कर ब्लॉक संसाधन केंद्र के काटने पड़ेंगे।

    आलोक द्विवेदी व पुनीत सिंह ने कहां कि, मानव संपदा पोर्टल पर अधिकांश शिक्षकों को लाॅगिन करने में अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। लॉगिन न होने से शिक्षक अपना विवरण जांच करने में असमर्थ हैं।

    वहीं सह मीडिया प्रभारी कुलदीप कुमार व विनोद कुमार ने संयुक्त रुप से कहा कि, विभाग द्वारा व्हाट्सप के माध्यम से एक ही प्रकार की सूचना कई बार मांगी जाती है और सूचना की हार्डकापी की रिसीविंग नहीं दी जाती है जिससे शिक्षकों को अनावश्यक रूप से कोरोना महामारी काल में भी बी०आर०सी० के चक्कर काटने पड़ते हैं।

    मीडिया प्रभारी आलोक सिंह व संयुक्त मंत्री शिल्पी गुप्ता ने बताया कि, कई शिक्षकों के फॉर्म 16 में कटौती न प्रदर्शित होना तथा पैन नंबर पुन: गलत फीड होने की समयस्या प्रमुख है, जिसका निदान ब्लाक लिपिक सन्तोष कुमार द्वारा समय पर नहीं किया जाता है।  महामंत्री दीपक कुमार व मिथलेश भास्कर ने भी अपने विचार प्रस्तुत किए और कहा कि, प्राथमिक विद्यालय महराजपुर के आसिफ हुसैन, मिथलेश भास्कर प्रा०वि०पूरे गरीब, ऊषा प्रा०वि०नरायनपुर, रमेश बहादुर स०अ० क०पू०मा०वि० महराजगंज के एरियर का भुगतान न होना।

       मीडिया प्रभारी आलोक सिंह व रिज़वान अहमद ने जून माह के ग्रीष्मावकाश में शिक्षकों ने शिक्षा विभाग द्वारा निर्धारित विभिन्न कार्यों का संपादन किया गया। अतएव उक्त कार्य दिवसों के सापेक्ष प्रतिकर/अर्जित अवकाश प्रदान किया जाये।

   संयुक्त मंत्री अंकित यादव व उपाध्यक्ष छोटेलाल ने विगत 2 वर्षों से 2018-19 में 85₹ प्रति छात्र तथा 2019-20 में 155₹ प्रति छात्र की दर से निःशुल्क यूनिफॉर्म वितरण की अवशेष धनराशि बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा विद्यालय प्रबन्ध समिति के खातों में नहीं भेजी गई। किन्तु 2020-21 में यूनीफार्म वितरण किए जाने का आदेश विभाग द्वारा जारी कर दिया गया है।

   वरिष्ठ उपाध्यक्ष  खलील मुहम्मद व सुभाष कुमार सिंह ने कहा कि, शिक्षक/शिक्षिकाओं को अपने स्वयं के मोबाइल व व्यय से विभागीय कार्य एवं प्रशिक्षण करने को मजबूर होना पड़ रहा है। बैठक में सदस्यों द्वारा ब्लाक अध्यक्ष मधुकर सिंह के सज्ञांन में  विभाग द्वारा ग्रीन बोर्ड का मांगपत्र प्राप्त करने के उपरान्त भी अभी तक ग्रीन बोर्ड की सप्लाई नहीं की गयी है, तथा संकुलकेन्द्र के प्राथमिक विद्यालयों में छात्रों के  बैठने हेतु उपलब्ध करायी गई सामग्री की गुणवत्ता अच्छी नहीं है। तथा  ब्लाक संसाधन केन्द्र पर  कोविड-19 से बचाव हेतु न तो सेनेटाइजर की व्यवस्था है, और न ही प्रशिक्षण हाल सेनेटाइज होता है, तथा किसी भी प्रकार के विभागीय कार्य में सोशल डिस्टेन्सिंग का अनुपालन भी नहीं होता है। जिससे शिक्षक/शिक्षिकाओं में कोरोना का भय सदैव बना रहता है।

      बैठक में कार्यालय प्रमुख शंकर बक्श सिंह, कोषाध्यक्ष राकेश गौतम, धीरेन्द्र सिंह, मंत्री गीता, संयुक्त महामन्त्री शोभित श्रीवास्तव, आशुतोष सिंह आदि ने संगठनात्मक विषयों पर चर्चा करते हुए संगठन को और अधिक मजबूत किये जाने हेतु उपायों पर कार्य करने का आहवान किया।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post
loading...