कमला नेहरू ट्रस्ट की जमीन पर काबिज पटरी दुकानदारों के पक्ष में उतरी कांग्रेस विधायिका व भाजपा के दिग्गज।। Raebareli news ।।

 

शिवाकांता अवस्थी

महराजगंज/रायबरेली: शहर कोतवाली क्षेत्र के सिविल लाइन स्थित कमला नेहरू ट्रस्ट की जमीन पर काबिज पटरी दुकानदारों के पक्ष में निवर्तमान जिलाध्यक्ष व सदस्य प्रदेश परिषद दिलीप यादव की अध्यक्षता में रायबरेली कैंपस कार्यालय में पूर्व एमएलसी राजा राकेश प्रताप सिंह राष्ट्रीय परिषद सदस्य की उपस्थिति में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता उपस्थित हुए, और जो प्रशासन द्वारा कमला नेहरू ट्रस्ट सिविल लाइन स्थित विवादित भूमि को खाली कराने का खड़यंत्र किया जा रहा था, उसको सदर विधायिका आदिति सिंह सहित भाजपा के नेताओं ने विफल कर दिया।

    आपको बता दें कि, आदिति सिंह सहित भाजपा के दिग्गजो ने न सिर्फ गरीबों का दुख दर्द बांटा बल्कि जिला प्रशासन को भी चेतावनी दी है कि, किसी भी गरीब पटरी दुकानदार के साथ लॉकडाउन में अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जो अत्यंत प्रशंसनीय रहा। सदर विधायक आदित्य सिंह सहित भाजपा के दिग्गजों ने कहा कि, वे सब कोर्ट का सम्मान करते हैं, लेकिन गरीब दुकानदारों के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं करेंगे।

    विदित हो कि, रायबरेली के सिविल लाइन चौराहे पर कमला नेहरू ट्रस्ट की जमीन पर कई दशकों से काबिज गरीब पटरी दुकानदारों को माननीय न्यायालय के आदेश पर यहां से हटने के लिए जिला प्रशासन द्वारा नोटिस दिए जाने के बाद उन दुकानदारों के पक्ष में निवर्तमान जिला अध्यक्ष रामदेव पाल, सदस्य प्रदेश परिषद दिलीप यादव, पूर्व एमएलसी राजा राकेश प्रताप सिंह राष्ट्रीय परिषद सदस्य की उपस्थित में भारतीय जनता पार्टी के कई अन्य नेता भी उतर आए।

    यही नहीं इसी दौरान बीजेपी के झंडा बैनर तले भाजपा के गजाधर सिंह पूर्व विधायक, राजाराम त्यागी पूर्व विधायक, निवर्तमान बछरावां विधायक राम नरेश रावत, दल बहादुर कोरी विधायक सलोन, धीरेंद्र बहादुर सिंह विधायक सरेनी, भगवत किशोर सिंह पूर्व जिला मंत्री, कौशल किशोर श्रीवास्तव सदस्य प्रांतीय परिषद, राघवेंद्र सिंह सरेनी, सुखबीर सिंह मोनू ब्लाक प्रमुख, जिला पंचायत सदस्य प्रभात साहू, नागेंद्र सिंह पूर्व मंडल अध्यक्ष, वासुदेव सिंह पूर्व मंडल अध्यक्ष समेत समर्थकों व व्यापारियों ने उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ के गगनभेदी नारे लगाए।

    कांग्रेस विधायिका आदित्य सिंह ने कहा कि, यह मामला उनके राजनीतिक गुरु योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है। मामले की जांच कराने का भरोसा दिया है। सदर विधायक आदित्य सिंह ने कमला नेहरू ट्रस्ट की जमीन के माध्यम से निशाना साधते हुए कहा कि, जब इस जमीन पर कई दशक से गरीब दुकानदार काबिज है, तो ट्रस्ट के पक्ष में यह जमीन कैसे फ्री होल्ड हो गई। उन्होंने आगे कहा कि, कुछ भू माफियाओं की इस जमीन पर नजर है, उन्होंने उन भू माफियाओं को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि, वह उनके क्षेत्र से भाग जाएं। न्यायालय द्वारा दिए गए फैसले का स्वागत करना हम सब का फर्ज है। लेकिन दुकानदारों को गलत तरीके से हटाना गलत है।

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे