रायबरेली के नवोदय विद्यालय में फूटा कोरोना बम एक महिला सहित तीन लोग निकले पॉजिटिव।। Raebareli news ।।

शिवाकांत अवस्थी
महराजगंज/रायबरेली: सरकार की लाख कोशिशों के बाद भी कोरोना महामारी थमने का नाम नहीं ले रही है। इसी क्रम में क्षेत्र के बावन बुजुर्ग बल्ला स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में कोरोना का बम फूटा। जबकि यहां काम करने वाले कनिष्ठ लिपिक के परिवार में कनिष्ठ लिपिक व उनकी पत्नी तथा 22 वर्षीय बेटे को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इस बात की जानकारी जैसे ही विद्यालय स्टाफ को लगी, हड़कंप मच गया है। परिवार में केवल एक ही सदस्य बचा है, जो संक्रमित नहीं है। मामले की खबर लगते ही अफरा तफरी मच गई है। वहीं कोतवाल अरुण कुमार सिंह ने बताया कि, विद्यालय को कंटेंटमेंट जोन घोषित किया जाएगा। विद्यालय के प्राचार्य डॉ एएन राय ने बताया कि, प्रभावित आवासीय परिसर और उसके आसपास के भवनों को सेनीटाइज कराया जाएगा। जबकि कनिष्ठ लिपिक और उसके संक्रमित पाई गई पत्नी व बेटे को कोरनटाइन कर दिया गया है।
    आपको बता दें कि, हाई सिक्योरिटी जोंन समझे जाने वाले जवाहर नवोदय बावन बुजुर्ग बल्ला स्थित विद्यालय में बाहरी लोगों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया था, बावजूद इसके कोरोना की महामारी यहां कैसे पहुंची यह बात सोचने वाली है।
    प्राचार्य ए एन राय के मुताबिक विद्यालय परिसर में कुल 42 स्टाफ के परिवार रहते हैं। जिसकी संख्या लगभग 127 है। यह जानकारी मिली है कि, कनिष्ठ लिपिक और उसका परिवार बाजार में जरूरी सामानों की खरीदारी के लिए अक्सर आते जाते रहे हैं। विगत चार-पांच दिन पहले कनिष्ठ लिपिक ने बुखार और जुखाम की शिकायत की थी। उन्हें स्वास्थ्य परीक्षण करवाने की सलामी दी गई थी। किंतु बताते हैं की कनिष्ठ लिपिक का जुखाम बुखार ठीक हो गया था और वह आम दिनों की तरह पूरे स्टाफ के साथ बैठकर कामकाज निपटाते रहे।
    रविवार की सुबह कनिष्ठ लिपिक के बेटे ने कमजोरी होने की बात कही, तो पिता पुत्र अपना चेकअप कराने जिला चिकित्सालय पहुंच गए, जहां परीक्षण के दौरान दोनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसके बाद उनके परिवार में बची उनकी पत्नी और छोटे बेटे को भी जिला चिकित्सालय बुलाया गया। जहां पत्नी भी संक्रमित निकली, जबकि छोटे बेटे की रिपोर्ट नेगेटिव आई। 
     यह जानकारी मिलते ही पूरे विद्यालय में हड़कंप मच गया। कोरोना पॉजिटिव पाए गए तीनों सदस्य वापस बावन बुजुर्ग बल्ला स्थित नवोदय विद्यालय परिसर आ गए हैं। जिन्हें एक अलग भवन में कोरनटाइन कर दिया गया है। मामले की जानकारी प्रशासन को दे दी गई है।
    प्राचार्य डॉ ए एन राय ने बताया कि, जिस आवास में यह परिवार रहता था उस आवास समेत आसपास के आवासों को सैनिटाइज करने का काम कराया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments