दाखिला रद्द होने से दुखी छात्रों ने खून से लिखा ज्ञापन

रोहतक।  एबीवीपी रोहतक इकाई द्वारा जे.आर. किसान कॉलेज के बीएचएमएस विद्यार्थियों की समस्या के समाधान के लिए एबीवीपी हरियाणा के प्रदेश मंत्री सुमित जागलान जी एवं बी.एच.एम.एस. विद्यार्थियों द्वारा खून से ज्ञापन लिखकर उपकुलपति के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री और देश के स्वास्थ्य मंत्री को भेजना चाहा परंतु उपकुलपति ने विद्यार्थियों की समस्याओं से पल्ला झाड़ते हुए ,ज्ञापन लेने से मना किया गया, तो एबीवीपी कार्यकर्ताओं द्वारा ज्ञापन को उपकुलपति के ऑफिस पर चिपका दिया गया ।
एबीवीपी के प्रदेश मंत्री सुमित जागलान जी के अनुसार जे. आर. कॉलेज के 2016-17 बैच के 49 विद्यार्थियों का बिना किसी गलती या जानकारी दिए बगैर दाखिला रद्द कर दिया गया। विद्यार्थियों ने मेहनत के पश्चात मेडिकल कॉलेज में दाखिला लिया और 3 साल की पढ़ाई के पश्चात विद्यार्थियों का दाखिला रद्द करना सभी के लिए अत्यंत दुखदाई और पीड़ादायक हैं ।
बैच के सभी विद्यार्थी पिछले 1 वर्ष से अपनी परीक्षा कराने और और अपना दाखिला पुनः बहाल कराने के लिए संघर्ष कर रहे हैं परंतु विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही । आज विद्यार्थी परिषद के प्रदेश मंत्री सुमित जागलान जी और अन्य बीएचएमएस के विद्यार्थियों ने अपने खून से ज्ञापन लिखकर जल्दी से जल्दी उचित कार्रवाई की मांग की है ।
परिषद के महानगर मंत्री डॉ लखविंदर लोहानी ने कहा की विद्यार्थियों की मांगों को जब तक नहीं माना जाता तब तक एबीवीपी सभी विद्यार्थियों के साथ मिलकर पीजीआई प्रशासन के सामने धरना प्रदर्शन करती रहेगी । ज्ञापन देने एवं  प्रदर्शन के दौरान मनीषा, तनिष्क, शुभम, पूजा, सनी नारा, आकाश, मोहित एवं साक्षी इत्यादि मौजूद रहे ।

Post a Comment

0 Comments