नींद टूटने से झल्लाए पिता ने लात घूसों से पीट पीटकर बेटे को मार डाला, 13 घंटे तड़पने के बाद हुई मौत


उत्तराखंड के टनकपुर में सामने आई दिल दहला देने वाली वारदात सुनकर हर कोई स्तब्ध है। नींद टूटने से झल्लाकर नरेश ने लात-घूसों से बच्चे के पेट में प्रहार कर उसकी चार पसलियां तोड़ डालीं। मां बीच-बचाव के लिए पहुंची तब तक बच्चे के मुंह से खून निकलने लगा था। अंदरूनी चोट के कारण उसमें बेहोशी छाने लगी थी। बावजूद इसके उस दरिंदे का दिल नहीं पसीजा और वह घायल बच्चे को तड़पता छोड़कर घर से भाग निकला। साथ ही घायल बच्चे को घर से बाहर या अस्पताल ले जाने पर वह शबाना को जान से मारने की धमकी दे गया।

पुलिस के मुताबिक वारदात 29 अगस्त की सुबह करीब साढ़े चार बजे की है। सुबह होने के बाद वह तड़पते बच्चे को छोड़कर निकल गया था। शाम करीब छह बजे वह घर लौटा तो तब तक बच्चे की आंखें बंद हो चुकी थीं। पत्नी की जिद पर वह बच्चे को गोद में लेकर अस्पताल की ओर ले जा रहा था। रेलवे क्रासिंग के पास पहुंचते ही नरेश समझ चुका था कि अब मासूम सोनू जिंदा नहीं है।

इस पर वह बच्चे का शव शबाना को थमाकर मौके से भाग खड़ा हुआ। शबाना चिल्लाती रही कि 'रोको-रोको हत्यारा भाग रहा है' पर वह हत्थे नहीं चढ़ा। अस्पताल में चिकित्सकों ने सोनू की मौत की पुष्टि कर दी। शक होने पर पुलिस ने नरेश को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ शुरू की तो हत्यारोपी टूट गया और उसने राज उगल दिया।

शूल समान चुभते थे शबाना के बच्चे

हत्यारोपी पिता को पत्नी के पहले पति की संतानें शूल के समान चुभाती थीं। पहले पिता से रिश्ता टूटने के बाद दो मासूम बच्चों को फिर कभी भी पिता का प्यार नसीब नहीं हो पाया। पिता के समान ही बच्चों की परवरिश के वायदे कर मां के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रहा वह शख्स जल्लाद निकला। वह बच्चों को अपने रास्ते से हटाने की फिराक में रहता था।

कुछ दिन पूर्व भी हुआ था विवाद

जांच में सामने आया है कि शारदा खनन क्षेत्र में छानने का काम करने वाला नरेश आए दिन शराब के नशे में धुत रहता था। कुछ दिन पूर्व ही उसने शराब पीकर घर में उत्पात मचाया था। साथ ही, मारपीट भी की थी। इसके चलते मकान मालिक ने नरेश से घर खाली करवा दिया था। तब से वह उसी वार्ड के किसी दूसरे घर में रहता था।

महिला का पहला पति जेल में बंद

शबाना मूल रूप से यूपी के गाजीपुर की निवासी है। टनकपुर सीओ वीसी पंत के मुताबिक करीब दो साल पूर्व युवती से छेड़छाड़ के आरोप में यूपी पुलिस ने उसके पहले पति राजू मियां के खिलाफ 376 के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया था। तब से राजू मिया जेल में ही बंद है। उसके कुछ समय बाद शबाना पांच वर्षीय पुत्र शाहिल और दो साल के सोनू उर्फ बबुआ को लेकर टनकपुर आ गई।
उसकी मुलाकात यहां पीलीभीत निवासी नरेश से हुई थी। नरेश ने दोनों बच्चों को अपनाने और शबाना को शादी का आश्वासन दिया था। लेकिन बाद में नरेश उसके बच्चों पर जुल्म ढाने लगा था। इसकी जानकारी मिलने पर कुछ समय पूर्व ही राजू मियां का भाई आजाद टनकपुर पहुंचकर शबाना के बड़े बेटे शाहिल को अपने साथ ले गया था। तब से नरेश और शबाना लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे।

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे