कानपुर में 2 महीने में लव जिहाद के 11 केस हुए दर्ज, ये इत्तिफाक या कोई साजिश?


उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में बीते दो महीने में पांच थाना क्षेत्रों में लव जिहाद के 11 मामले सामने आए हैं। पीड़ित परिजन आरोपियों पर बरगलाकर धर्म परिवर्तन कराकर शादी करने का आरोप लगा रहे हैं। ऐसे में कुछ सामाजिक संस्थाओं ने इसे साजिश करार दिया है। इस प्रकरण की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया है। 8 सदस्यीय एसआईटी का प्रभारी एसपी साउथ दीपक भूकर को बनाया है। उन्हें जल्द से जल्द जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करनी है।

सभी मामलों में एक बात कॉमन- धर्म परिवर्तन कराया गया


कानपुर में लव जिहाद का पहला मामला दो जुलाई को बर्रा थाने में दर्ज हुआ था। यहां एक लड़की अपने प्रेमी संग फरार हो गई थी। उसके बाद उसने धर्म परिवर्तन कर अपना नाम बदलते हुए निकाह भी कर लिया था। परिवार ने मामला दर्ज कराया तो पुलिस ने तफ्तीश बढ़ाई। इसी बीच गिरफ्तारी से बचाने के लिए लड़की ने वीडियो जारी कर दिया। कहा कि, वह फिजा फातिमा बन चुकी है। जिसके बाद घर वालों ने आरोपी युवक के ऊपर जादू टोना, तंत्र-मंत्र और बरगलाने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया था।

इसके बाद इसी प्रवृत्ति के 10 मामले थाना चकेरी, पनकी और कानपुर दक्षिण और थाना महाराजपुर में पंजीकृत हुआ है। सभी मामलों में धर्म परिवर्तन करके शादी करने की बात सामने आई है। जिसको लेकर जहां पीड़ित परिजन लगातार बरगलाकर लड़कियों के धर्म परिवर्तन का आरोप लगा रहे हैं तो वहीं कुछ सामाजिक संस्थाएं इसे साजिश करार दे रही हैं। यह भी आरोप है कि इस काम में बाहरी संगठन इन युवकों की मदद कर रहे हैं। मामले को बढ़ता देख अब पुलिस ने भी अपने तेवर सख्त कर लिए हैं।

कहीं साजिश तो नहीं?


आईजी मोहित अग्रवाल के द्वारा गठित की गई एसआईटी की जांच तेजी के साथ आगे बढ़ रही है। इस बात की भी जानकारी कि जा रही है कि ऐसे प्रकरणों के पीछे अगर कोई साजिश है तो इस साजिश को रचने वाले कौन-कौन लोग हैं और इन लोगों को फंडिंग कहां से हो रही है। साथ ही साथ इस बात की पड़ताल भी की जाएगी कि ऐसी घटनाओं के पीछे किसी अन्य संगठन का हाथ तो नहीं है जिसके लिए आरोपियों के बैंक खातों पर भी नजर रखी जा रही है।

एसआईटी की जिम्मेदारी एसपी साउथ दीपक भूकर को सौंपी गई है। उनके साथ सीओ गोविंद नगर विकास पांडे, थाना प्रभारी नौबस्ता, जूही, किदवई नगर, गोविंद नगर के साथ पिंक चौकी महिला प्रभारी व दो सिपाहियों को भी रखा गया है। जो अभी तक आए सभी लव जिहाद के मामलों की जांच करेंगे।

क्या बोले आईजी कानपुर?


आईजी कानपुर मोहित अग्रवाल ने बताया कि अभी तक जितने भी मामले लव जिहाद के सामने आए हैं सभी को देखते हुए एसआईटी का गठन किया गया है और एसआईटी को लव जिहाद पीछे के सभी बिंदुओं पर जांच करके अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करनी है।

कहीं न कहीं से हो रही फंडिंग


भाजपा के वरिष्ठ नेता अशोक सिंह दद्दा ने बताया कि कानपुर आईजी ने यदि एसआईटी गठित की है तो अच्छा है। सभी मामलों का सच सामने आना चाहिए। लड़कियों को बरगलाकर जिस तरह उनके जीवन से खेला गया है, उसका भी सच सामने आएगा। इस बात में पूर्ण सत्यता है कि जो भी युवक इन सभी घटनाक्रम में संलिप्त हैं उन्हें सभी को कहीं ना कहीं से फंडिंग जरूर हो रही है और उनका सिर्फ और सिर्फ लड़कियों को बरगला कर उनका धर्म परिवर्तन करना एक मात्र एक उद्देश्य है। ऐसे व्यक्तियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे