शादी के 22 महीने बाद पत्नी ने नहीं बनाए शारीरिक संबंध, तो परेशान पति ने...


महेंद्रगढ़। शादीशुदा जिंदगी को लेकर कई ऐसे किस्से सामने आते हैं जो लोगों को हैरत में डाल देते हैं। हाल ही में जो मामला सामने आया है वो भी कुछ ऐसा ही है। जहां एक पति ने सिर्फ इसलिए बड़ा कदम उठा लिया क्योंकि, उसकी पत्नी ने शारीरिक संबंध बनाने की इजाजत नहीं हुई। जी हां, ये हैरतगंज मामला महेंद्रगढ़ के सेक्टर 12 से सामने आया है।  बेटे की मौत के बाद उसकी मां ने अपनी बहू के खिलाफ केस दर्ज कराया है। 
परेशान पति का मामला शहर के सेक्टर 12 का है।  जहां सुरेंद्र सिंह की शादी 22 महीने पहले 32 साल की महिला गीता परमार के साथ हुई थी, पर शादी के बाद एक दिन भी पत्नी ने पति के साथ संबंध नहीं बनाए और इसी बात को लेकर सुरेंद्र तनाव में था।  जब बार-बार मनाने पर भी पत्नी राजी नहीं हुई तो पति ने आत्महत्या कर ली।  बेटे की मौत से दुखी मां ने बहू के खिलाफ केस दर्ज कराया है।
सास ने बहू के खिलाफ दर्ज शिकायत में बताया कि, उसने खुद देखा था दोनों अलग-अलग सोते हैं।  इस पर जब उसने अपने बेटे से इस बारे में बात की तो बेटे ने कहा कि, शादी के 22 महीने बाद भी गीता ने एक बार भी संबंध नहीं बनाए।  बेटे ने अपनी मां को बताया था कि, गीता ने पति के साथ नहीं सोने की शपथ ली है।
सास के मुताबिक, उसका बेटा रेलवे का कर्मचारी थी और दिसम्बर 2018 में दोनों की शादी हुई थी। इससे पहले सुरेंद्र की शादी हुई थी लेकिन पहली पत्नी से 2016 में तलाक ले लिया था इसके बाद गीता भी सुरेंद्र से पहले दो बार शादी कर चुकी थी और दोनों पति से तलाक हो चुका था। 
शादी के 22 महीने बीत जाने के बाद जब गीता ने अपने पति को करीब नहीं आने दिया तो आए दिन दोनों के बीच तनाव होने लगा और लड़ाई-झगड़े होने लगे।  लड़ाई से तंग आकर गीता ससुराल छोड़कर अपने मायके चली गई थी और जब परिवार के लोग 2 सितंबर को किसी के अंतिम संस्कार में गए तो उनके पीछे से घर पर अकेले सुरेंद्र ने पंखे से लटककर फांसी लगा ली।  बेटे की मौत के बाद से ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे