फैक्ट्री में मिले 360 किलो इस्तेमाल किये हुए कंडोम, सर्फ़ से धोकर दुबारा किये जा रहे थे पैक


जनसंख्या नियंत्रण के लिए कंडोम का इस्तेमाल काफी प्रचलित है। लोग कंडोम को यूज कर डस्टबिन में फेंक देते हैं। कोरोना काल में हालांकि, कई देशों में इसकी कमी की बार सामने आई लेकिन फैक्ट्रीज ने लोगों की जरुरत के हिसाब से सप्लाई जारी रखी। 


कंडोम को सिंगल यूज के लिए बनाया जाता है। लेकिन हाल ही में विएतनाम में पुलिस ने एक फैक्ट्री में छापा मार ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया जो सड़कों से इस्तेमाल किये हुए कंडोम चुन कर उसे दुबारा से धोकर और सुखाकर पैक कर डालते थे। इन्हें फिर से मार्केट में बेचा जाता था। पुलिस ने फैक्ट्री से तीन लाख 24 हजार कंडोम बरामद किये। इसके बाद लोगों के बीच सनसनी फ़ैल गई।


विएतनाम पुलिस ने एक फैक्ट्री से तीन लाख 24 हजार इस्तेमाल किये हुए कंडोम बरामद किये हैं। इन्हें दुबारा से बेचने के लिए तैयार किया जा रहा था।


फैक्ट्री में मौजूद वर्कर्स इन कंडोम को डिटर्जेंट से साफ़ कर रबर को दुबारा से शेप देकर पैक कर रहे थे। इन नकली कंडोम को रीपैक कर लोगों को बेचा जाता था। अभी तक इस फैक्ट्री से हजारों कंडोम मार्केट में भेजे जा चुके हैं।


ये ऑपरेशन चलाया गया विएतनाम के बिन्ह डुओन्ग में। यहां एक खाली पड़े बिल्डिंग में फैक्ट्री चलाई जा रही थी। पुलिस को जब इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने यहां अचानक छापा मरा। तब जाकर इस गिरोह का पर्दाफाश हुआ।


पुलिस ने इस गिरोह की मुखिया 33 साल की फम थी थान्ह नगोक को अरेस्ट कर लिया। उसने पुलिस को बताया कि कई महीनों से एक अनजान शख्स उसे इस्तेमाल किये कंडोम पहुंचा जाता है।


इसके बाद वो इन कंडोम की सफाई करती है। उन्हें अच्छे से धोया जाता था। फिर सूखने के बाद इन्हें शेप में लाने रहे हैं। के लिए लकड़ी का इस्तेमाल कर दुबारा पैक किया जाता था।


पुलिस ने फैक्ट्री से 360 किलो कंडोम बरामद किये हैं। पुलिस अब इन्हें डिस्पोज करने का तरीका सोच रही है। साथ ही इस फैक्ट्री ने मेडिकल वेस्ट के साथ छेड़छाड़ की। ऐसे में कानूनन तौर पर सजा के सख्त नियम देखे जा रहे हैं।


पुलिस को अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि फैक्ट्री से अब तक कितने कंडोम मार्केट में भेजे जा चुके हैं। कंडोम सिंगल यूज के लिए होते हैं। ऐसे में दुबारा यूज के लिए इन्हें तैयार करना इलीगल है।


Post a Comment

0 Comments