किसान हितैषी भाजपा सरकार ने हरियाणा के किसानों पर करवाई लाठीचार्ज


कुरुक्षेत्र। केंद्र सरकार के तीन अध्यादेश के खिलाफ पिपली में आयोजित हो रही किसान रैली के लिए प्रदेशभर में किसानों को रोका जा रहा है। हरियाणा में जगह-जगह पुलिस उन्हें रोक रही है और किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। किसान बड़ी संख्या में एकजुट होकर विरोध कर रहे हैं। किसान पीछे हटने का नाम नहीं ले रहे हैं।
वहीं कुरुक्षेत्र के पिपली में बड़ी संख्या में पुलिस तैनात है। आंदोलन में कैथल, जींद, हिसार, सोनीपत, सिरसा, रेवाड़ी, रोहतक, महेंद्रगढ़ और पानीपत के किसानों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया है और वे लोग ट्रैक्टर पर भर भर कर निकले हैं। लेकिन पिपली अनाजमंडी में किसानों के रैली में पहुंचने से पहले किसानों को पिपली चौक पर रोक लिया गया। उन्‍हें वापस जाने को कहा, लेकिन वे नहीं मानें। आगे बढ़ने पर पुलिस ने हल्‍का लाठीचार्ज करके लोगों को खदेड़ा। इसके बाद कुछ लोगों को हिरासत में भी ले लिया।
महम विधायक बलराज कुंडू ने बयान दिया है कि मैं किसानों के लिए पिपली जा रहा हूं, कोई ताकत नहीं रोक सकती। उनके घर और कुंडू फार्म पर भारी तादाद में पुलिस बल तैनात की गई है। वहीँ उकलाना में आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान धूप सिंह बॉथम को पुलिस ने हिरासत में लिया। पुलिस स्टेशन से फोन पर बातचीत करते हुए प्रधान धूप सिंह ने बताया कि पुलिस ने उन्हें हिरासत में इसलिए लिया ताकि वह पिपली ना जा सके। पिपली में जीटी रोड पर एक-एक गाड़ी को रोककर पुलिस पूछताछ कर रही है।
भाकियू के प्रेस प्रवक्ता राकेश बैंस को गिरफ्तार किया गया। उन्‍हें शरीफगढ़ से गिरफ्तार किया गया। किसानों को बसों में पुलिस ने बैठाकर हिरासत में लिया। ई बाद में किसानों को थाना प्रभारी भीम राज शर्मा ने रोक दिया। वहीं चोर रास्तों से पिपली अनाज मंडी में 15 किसान पहुंच गए। कुरुक्षेत्र के चप्पे-चप्पे पर पुलिस टीम तैनात की गई है।
पिपली अनाजमंडी में भारतीय किसान यूनियन की तीनों अध्यादेशों के विरोध में किसान बचाओ-मंडी बचाओ रैली में किसानों के पहुंचने से पहले पुलिस बल तैनात हो गया था। वहीं पुलिस नाकों को तोड़ते हुए किसान शाहाबाद की तरफ से पिपली चौक पर पहुंचे थे। यहां पुलिस ने किसानों को रोक लिया। किसानों ने सरकार और किसानों के विरोध में जोरदार नारेबाजी की। बतारया जा रहा है कि 10-12 किसान दीवारों से कूदकर पिपली अनाज मंडी भी पहुंच गए। पुलिस किसानों को उठाने चली गई है।
भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने सुबह अपना मैसेज भेजा है। उन्होंने अपने मैसेज में कहा कि नाके तोड़ों और आगे बढ़ो। पुलिस उन पर लाठीचार्ज करती है तो विरोध करने की बजाय सड़क पर लंबे लेट जाना है। किसानों को लगने वाले एक-एक डंडे का हिसाब सरकार से लिया जाएगा। गुरनाम सिंह चढूनी इससे पहले वीरवार को भी एक वीडियो सोशल मीडिया पर डाल चुके हैं।
जीटी रोड पर दिल्ली और अंबाला से आते समय सभी कटों को बंद किया गया है। इसके साथ सर्विस रोड पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया। पिपली जाने वाले गुलजारीलाल नंद मार्ग के व्हीकलों को केडीबी रोड की तरफ डायवर्ट किया गया। 

Post a Comment

0 Comments