पूर्व कैबिनेट मंत्री कमाल अख्तर बिना अनुमति के करा रहे थे दौड़ प्रतियोगिता, पुलिस ने प्रतिभागियों को दौड़ाया


मोहम्मद आसिफ 

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जनपद के हसनपुर कस्बे के श्रीमती सुखदेवी इंटर कालेज के मैदान में बिना अनुमति के कराए जा रही दौड़ को पुलिस ने रुकवा दिया। पूर्व केबिनेट मंत्री कमाल अख्तर ने लगाया पक्षपात का आरोप

बता दें की सपा नेता जितेंद्र विधूड़ी एवं मगन सिंह द्वारा शनिवार को श्रीमती सुखदेवी इंटर कालेज मैदान में खटाना दौड़ का आयोजन कराया जा रहा था। जिसका मुख्य अतिथि पूर्व केबिनेट मंत्री वर्तमान सपा के राष्ट्रिय सचिव कमाल अख्तर थे , दौड़ प्रतियोगता की कोई अनुमति नहीं ली गई थी। 

सूचना मिलने पर हसनपुर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक नीरज कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। कोरोना संक्रमण को लेकर शारीरिक दूरी के नियम का उल्लंघन होने का हवाला देते हुए आयोजन को रुकवा दिया। प्रभारी निरीक्षक नीरज कुमार ने बताया कि बिना अनुमति के भीड़ एकत्र करके दौड़ कराई जा रही थी। इसे रुकवा दिया गया है।

पूर्व कैबिनेट मंत्री कमाल अख्तर ने पुलिस प्रशासन द्वारा खटाना दौड़ प्रतियोगिता रुकवाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस दौड़ प्रतियोगिता का उदघाटन करने के लिए वह मुख्य अतिथि थे पुलिस ने इसलिए दौड़ रुकवा दी है। 

उन्होंने आरोप लगाया कि इसी महीने बिना किसी अनुमति के तरौली, सकतपुर तथा गारवपुर गांव में दौड़ प्रतियोगिताएं हुई थीं जिनमें मुख्य अतिथि भाजपा के नेता थे उन्हें पुलिस ने नहीं रुकवाया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के युवा पुलिस, पीएसी तथा सेना में भर्ती की तैयारी करने हेतु दौड़ लगाते हैं, दौड़ प्रतियोगिताएं कर युवा अपनी मेहनत का आकलन कर लेते हैं। दौड़ प्रतियोगिताओं को रोकना अनुचित है 




Post a Comment

0 Comments