टोयोटा ने भारत में अपने कारोबार को और आगे बढ़ाने से इंकार कर दिया, जानिए क्यों?



गिरीश मालवीय 

दुनिया की सबसे बड़ी कार कंपनियों में से एक टोयोटा ने भारत में अपने कारोबार को और आगे बढ़ाने से इंकार कर दिया !........टोयोटा के लोकल यूनिट टोयोटा किर्लोस्कर मोटर के वाइस चेयरमैन शेखर विश्वनाथन ने कहा "यहां आने के बाद हमें जो मेसेज मिला वो ये है कि हम आपको नहीं चाहते।" 

उन्होंने आगे कहा कि कोई टैक्स रिफॉर्म्स ना होने की वजह से हम भारतीय बाजार से पूरी तरह नहीं निकलेंगे लेकिन आगे अपना कारोबार नहीं बढ़ाने वाले हैं। सरकार कार और बाइक पर ज्यादा टैक्स वसूलती है लिहाजा कंपनियों के लिए अपना कारोबार बढ़ाना काफी मुश्किल है। उन्होंने कहा, ज्यादा टैक्स की वजह से कई कंज्यूमर गाड़ियां खरीद भी नहीं पाते हैं।

वैसे ये दबाव बनाने वाला बयान है सरकार बहुत दिनों से ऑटो इंडस्ट्री को टेक्स छूट टालती आ रही है लेकिन यह बयान दिखाता है कि ईज ऑफ़ डूइंग बिजनेस का दम भरने वाली सरकार की असलियत क्या है। 

पिछले दिनों अमेरिकी बाइक निर्माता कंपनी हार्ले डेविडसन भारत में कारोबार से बाहर निकल गयी ,फोर्ड मोटर ने भी पिछले साल अपने ज्यादातर एसेट्स भारत से बाहर ले जाने का फैसला किया जनरल मोटर्स तो 2017 में भारतीय बाजार से निकल गई थी। लगता है मोदी अब सिर्फ चीनी कार कंपनियों को ही भारत की जमीन पर देखना पसंद करते है


Post a Comment

0 Comments