पुरानी रंजिश को लेकर दलित युवती के साथ हैवानियत


उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के थाना चंदपा क्षेत्र के गांव बूलगढ़ी में 14 सितम्बर को पुरानी रंजिश के चलते एक दलित युवती को जबरजस्ती खेत में ले जाकर गला घोंटकर जान से मारने की कोशिश हुई थी। युवती के भाई ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया था, जिसमें गांव के ही संदीप समेत चार युवकों को आरोपी बनाया गया था।
बतादे कि एक दलित युवती पर गांव के ही चार युवकों द्वारा जानलेवा हमला करने के मामले में अब नया मोड़ आया है। दरअसल अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में इलाज करा रही युवती ने पुलिस के विवेचना अधिकारी को अपने साथ गैंगरेप होने की बात बताई है। मामला राजनीतिक रंग भी लेने लगा है। कांग्रेस नेता, पीड़ित परिवार के साथ गहरी हमदर्दी जता रहे हैं।
इस मामले में अब राजनीती भी होने लगी है. युवती के घर आये राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के पूर्व सदस्य और कांग्रेस नेता श्योराज जीवन ने पीड़िता को न्याय न मिलने और आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर चंदपा के इंस्पेक्टर को निलंबित करा देने की धमकी दी। उन्होंने कहा कि बाल्मीकि समाज की मां-बेटी से किसी ने भी दरिंदगी की तो वह नजर फोड़ देंगे, हाथ काट देंगे।
तो वही एएसपी प्रकाश कुमार ने कहा कि अपने बयान में पीड़िता ने अपने साथ गैंगरेप होने की बात बताई है। उसके प्रॉपर इलाज और उसकी तथा उसके घर वालों की सुरक्षा की व्यवस्था की गयी है। पीड़िता को मुआवजा और उसे त्वरित न्याय मिले इसके हेतु मामला फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में भेजने के लिए एसपी द्वारा डीजे से वार्ता की जा रही है।
बतादे कि वारदात के समय युवती अपनी मां के साथ पशुओं का चारा काटने के लिए खेत पर गई हुई थी। इस मामले में अब नया मोड़ आया है। पीड़ित युवती ने बयान लेने गए पुलिस के विवेचना अधिकारी को अपने साथ गैंग रेप होने की बात बताई है। इससे यह मामला काफी बड़ा हो गया है। एएसपी ने बताया है कि बचे दो आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।

Post a Comment

0 Comments