हाथरस की बेटी को मिले इंसाफ दरिंदों को हो फांसी-तिवारी

 


शिवाकांत अवस्थी

रायबरेली: राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं आरटीआई जागरूकता संगठन के राष्ट्रीय प्रभारी एवं राष्ट्रीय अनुशासन मंत्री ज्ञान प्रकाश तिवारी ने हाथरस की घटना पर दुख जताया है, और उन्होंने कहा कि, आज पूरा देश इस घटना से दुखी है। हमारे देश की इस बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं आरटीआई जागरूकता संगठन सरकार से मांग करता है कि, ऐसे दरिंदों को जेल नहीं सीधे फांसी होनी चाहिए।

     आपको बता दें कि, राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं आरटीआई जागरूकता संगठन के राष्ट्रीय प्रभारी एवं राष्ट्रीय अनुशासन मंत्री ज्ञान प्रकाश तिवारी ने कहा कि, इसमें कहीं ना कहीं कानून व्यवस्था का सिस्टम भी दोषी है। हाथरस जिला प्रशासन को द्वारा इस मामले को संज्ञान में लेते हुए तत्काल सीबीआई जांच बैठा कर हाथरस की बेटी को इंसाफ दिलाया जाए। हमारे देश की कितनी ही बेटियां हैं जो अपने आपको को असुरक्षित महसूस करती हैं, जो बहुत ही दुखद है, उन्होंने संगठन के माध्यम से सरकार से मांग की है कि, हाथरस की घटना का जो भी दोषी है, उसे तत्काल फांसी की सजा हो। जिससे हमारी हाथरस की उस बेटी को इंसाफ मिल सके। 

    श्री तिवारी ने कहा कि, आज राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं आरटीआई जागरूकता संगठन पूरे उत्तर प्रदेश में ज्ञापन देने का कार्य कर रहा है, और अगर उसे इंसाफ नहीं मिला, तो उनका संगठन पूरे भारत में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगा। जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी केंद्र सरकार और राज्य सरकार की होगी।

      इस अवसर पर राष्ट्रीय प्रभारी ज्ञान प्रकाश तिवारी, जिला प्रभारी राम बहादुर यादव, जिला अध्यक्ष अवधेश कुमार तिवारी, प्रदेश संरक्षक रमेश चंद चौरसिया, लालगंज तहसील अध्यक्ष अजीत प्रताप सिंह, सदर तहसील राम अवध वर्मा, ऊंचाहार तहसील अध्यक्ष रवि प्रकाश सिंह, राही ब्लॉक अध्यक्ष बृजभान सिंह आदि मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments