एडीजी द्वारा किया गया थाने का निरीक्षण, अभिलेखो के रखरखाव ठीक न होने पर जताई नाराजगी

  


शिवाकांत अवस्थी

बछरावां/रायबरेली: एडीजी    एसएन सावंत द्वारा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार स्थानीय थाने का नीरीक्षण किया गया, और अभिलेखों की जांच के साथ-साथ हलका प्रभारियों के साथ वार्ता कर भूमि विवाद सहित अपराधों की जानकारी ली। 


   आपको बता दें कि, मौके पर मौजूद लेखपालों से वार्ता कर पुलिस विभाग के सहयोग पर जानकारी लेने के साथ-साथ राजस्व विभाग एवं पुलिस प्रशासन के समन्वय पर जोर दिया गया। एडीजी का पूर्व निर्धारित कार्यक्रम होने के कारण थाने के अंदर साफ सफाई के साथ-साथ मास्क व सेनीटाइजर  आदि की पूरी व्यवस्था की गई थी। पूरा थाना चाक-चौबंद नजर आ रहा था। पुलिस के जवानों द्वारा दी गई सलामी के बाद श्री सावंत द्वारा आगंतुक रजिस्टर  एवं शिकायत रजिस्टर का अवलोकन किया गया, और रखरखाव ठीक नही पाए जाने पर  नाराजगी जताते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 


   श्री सावंत ने थाना क्षेत्र की भौगोलिक जानकारी लेने के साथ-साथ भूमि विवादों के निपटारे पर पूछताछ की, कई विवादों में थानाध्यक्ष ने बताया कि, इन मामलों में 107/16 किया गया है। जिस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए एडीजी ने कहा  की, 107/16 विवाद का निराकरण नहीं है, इसलिए विवादों के निस्तारण पर ध्यान दिया जाए। निरीक्षण के दौरान उन्होंने हल्का प्रभारियों से भी पूछताछ की और राजस्व ग्रामों की जानकारी लेने के साथ-साथ भूमि विवाद एवं नंबर 8 में दर्ज अराजक लोगों का भी ब्यवरा लिया।


    कस्बा इंचार्ज महिला थानेदार कोई भी संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाई। एडीजी द्वारा जब उनसे अभिलेखों की मांग की गई, तो वह उन्हें लाने के बहाने गायब हो गई। जिस पर श्री सावंत का ध्यान दोबारा नहीं गया। पूरे निरीक्षण के दौरान वह थानाध्यक्ष सहित सभी थानेदारों को आवश्यक निर्देश देने के साथ-साथ समुचित अभिलेखों के रखरखाव की जानकारी देते रहे।

     इस मौके पर पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार, उप जिलाधिकारी विनय कुमार मिश्रा आदि अधिकारीगण मौजूद रहे।


Post a Comment

0 Comments