शिवगढ़ में भूमि आवंटन मामले को लेकर हुई बैठक में प्रशासन के सामने सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाई गई धज्जियां।। Raebareli news ।।

  


एक तो करेला दूजे नीम चढ़ा की कहावत हुई चरितार्थ

वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण काल में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते हुए ग्राम पंचायत आवंटन की खुली बैठक संपन्न, लोगों में खासा आक्रोश रहा

शिवाकांत अवस्थी

महराजगंज/रायबरेली: तहसील क्षेत्र के भवानीगढ़ में भूमि आवंटन को लेकर अव्यवस्थाओं के साथ हुई खुली बैठक में शासन प्रशासन के लोगों ने वैश्विक महामारी कोरोना का भी ख्याल नहीं रखा। जिसको लेकर लोगों में इस बात का आक्रोश भी रहा।सूचना पर पहुंची पुलिस ने आक्रोशित लोगों को शान्त कराया। 



     आपको बता दें कि, वर्तमान समय में वैश्विक महामारी कोरोना का संक्रमण चल रहा है, लगातार संक्रमितो की संख्या बढ़ रही है।इसके बावजूद भी जानबूझकर  शासन प्रशासन ने भूमि आवंटन की खुली बैठक ग्राम पंचायत भवानीगढ़ में लगा कर सोशल डिस्टेंसिंग की खूब धज्जियां उड़वाई। एक के ऊपर एक लोग चढ़कर के अपना अपना आवेदन जमा कर रहे थे।। खुली बैठक में फार्म जमा करने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिसके चलते प्रशासन की नाक के नीचे जमकर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ी।



     विकासखंड क्षेत्र शिवगढ़ में गुरुवार को भूमि आवंटन को लेकर भवानीगढ़ पंचायत भवन में खुली बैठक का आयोजन किया गया। जैसे ही बैठक शुरू हुुुई, गांव के लोगों का आरोप था कि, खुली बैठक हेतु ग्राम प्रधान द्वारा सूचना एक दिन पहले बुधवार को दी गई थी, लेकिन कोई व्यवस्था नहीं की गई। केवल फार्म ही जमा किए जा रहे हैं। सूचना पर पहुंचे थानाध्यक्ष धीरेंद्र कुमार यादव ने शिकायत कर रहे लोगों को शांत कराया, और कहा कि, नियमों के हिसाब से फार्म जमा होंगे और पात्र व्यक्ति का ही पट्टा होगा। तब जाकर लोग शांत हुए। हांलाकि पुलिस अधिक होने के कारण लोग खुलकर नही बोल पाए।



   खुली बैठक में मौजूद लेखपाल हर्षवर्धन सिंह, रामेन्द्र मोहन बाजपेई, गम्भीर सिंह, मेवा लाल गुप्ता ने बताया कि, आवासीय, कृषि, वृक्षारोपण के लिए भूमि आवंटन हेतु 568 फार्म जमा किए गए हैं। जांच कर पात्र व्यक्तियों का पट्टा किया जाएगा।



     इस मौके पर पूर्व प्रधान गीता सिंह के पति लल्लन सिंह, बाबादीन बारी, सर्वजीत वर्मा, अनिल विश्वकर्मा, बबलू, मन्नू सिंह सहित भारी संख्या में गांव के लोग मौजूद रहे। वहीं थाना अध्यक्ष धीरेंद्र यादव ने बताया कि, देर शाम तक चली बैठक में शुरुआती दौर में ही सूचना प्राप्त हुई थी कि, वहां विवाद की आशंका है, इसलिए भारी संख्या में पुलिस बल लगाया गया था, बैठक संपन्न हो गई है।     तहसीलदार महराजगंज विनोद सिंह नेे बताया कि, उपजिला अधिकारी महराजगंज ने 4 लेखपालों की समिति बनाकर आवंटन के लिए लगाया है। उनकेे समक्ष आवेदन जमा होना है, उसके बाद जांच कराई जाएगी।

Post a Comment

0 Comments