इसे मूर्खता पूर्ण कृत के अलावा और क्या कहा जाएगा।। Raebareli news ।।

  


अन्जाने में प्रतिपक्षी समझ कर दी पिटाई, पुलिस ने युवक को किया गिरफ्तार

शिवाकांत अवस्थी

बछरावां/रायबरेली: बगैर किसी जान पहचान व बगैर किसी दुश्मनी के अगर किसी व्यक्ति को मारपीट कर लहूलुहान कर दिया जाए, तो यह मूर्खता पूर्ण कृत के अलावा और क्या कहा जाएगा। सुनने में यह कृत्य हास्यास्पद लगता है, परंतु बछरावां थाने के ठीक गेट पर ऐसा ही एक नजारा देखने को मिला।

    आपको बता दें कि, घटनाक्रम के अनुसार अखिलेश सिंह का पुरवा थाना हरचंदपुर निवासी मोहन पुत्र राम बहादुर अपनी बहन के साथ किसी काम से  बछरावां थाने आया था। अपना काम करके जैसे ही वह थाना गेट पर पहुंचा, तभी शिवकरण पुत्र रामेश्वर यादव निवासी गोझवा मना खेड़ा मजरे समोदा थाना बछरावां अपने किसी अन्य कार्य के लिए थाने आया था, और मोहन को अपना प्रतिपक्षी समझ बैठा, बगैर सोचे समझे उसने मोहन पर कातिलाना हमला कर दिया। भौचक्का मोहन मारपीट करने का कारण पूछता रहा, परंतु पगलाऐ शिवकरण द्वारा उसकी एक नहीं सुनी गई। मारपीट होता देख थाने के सिपाही दौड़ कर आऐ तब कहीं जाकर मोहन को छुड़ाया जा सका। इस संदर्भ में जब शिवकरण से पूछताछ की गई, तो उसने मोहन का कुछ और ही परिचय बताते हुए अपना विपक्षी बताया, परंतु जब असलियत सामने आई, तो शिवकरण के हाथ से बाजी निकल चुकी थी।

     फिलहाल रायबरेली के बछंरावा थाना पुलिस द्वारा मोहन की तहरीर पर शिवकरण के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। बगैर जान पहचान की गई, यह मारपीट मूर्खता ही कही जा सकती है। फिलहाल शिवकरण पुलिस की गिरफ्त में है, और उसे अपने कृत्य की सजा जेल जाकर ही चुकानी पड़ेगी।

Post a Comment

0 Comments