सफेद हाथी बन कर रह गई बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा थुलेंडी।। Raebareli news ।।

  


शिवाकांत अवस्थी

बछरावां/रायबरेली: पूर्व की कांग्रेस सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर सुविधा देने के लिए जगह जगह बैंकों की शाखाएं खोली गई थी, उसी श्रंखला में बैंक ऑफ बड़ौदा की एक शाखा थुलेंडी ग्राम में भी संचालित की गई थी। निश्चित ही इस शाखा के खुलने से मालपुर, पहनासा, रामपुर, मोहद्दीनपुर के हजारों खाता धारकों तथा क्षेत्र के विद्यालयों को भारी सुविधा प्राप्त होती थी। परंतु लगभग 1 माह से नेटवर्क की खराबी के कारण ग्राहकों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।   उपभोक्ताओं ने बताया कि, लगभग 15 दिन तो पूरी तरह से नेटवर्क गायब रहा। ग्राहक आते रहे और लौटते रहे। बैंक कर्मी भी लाचार बने रहे। विगत 2 दिन यदा-कदा नेटवर्क आया, जो काम निपटाने में नाकाफी साबित हुआ। 

     ग्राहकों ने यह भी बताया कि, इस बैंक का एटीएम पिछले 2 महीने से खराब पड़ा हुआ है। किसी भी जिम्मेदार अधिकारी को ग्राहकों की सुविधा से कोई लेना-देना नहीं है। अब सवाल यह उठता है कि, आखिर नेटवर्क ना होने का विकल्प क्या है।   आक्रोशित ग्रामीणों का यह भी कहना है कि, मौजूदा सरकार को जनता की सुविधाओं से कोई लेना देना नहीं है। यही कारण है कि, वह ग्रामीण क्षेत्रों में फैली शाखाओं के प्रति कोई ध्यान नहीं दे रही है, ग्रामीणों ने तत्काल प्रभाव से एटीएम सही कराने व सरवर व्यवस्था ठीक कराने की मांग की है।

Post a Comment

0 Comments