गरीबों का निवाला डकार रहे कोटेदार के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा मामला पहुंचा जिलाधिकारी की चौखट।। Raebareli news ।।

  

शिवाकांत अवस्थी

सलोन/रायबरेली: उत्तर प्रदेश सरकार के लाख प्रयासों के बावजूद भी कोटेदार अपनी मनमानी करने से बाज नहीं आ रहे हैं और गरीबों का निवाला डकार रहे हैं। एक ऐसा ही मामला सलोन तहसील क्षेत्र का प्रकाश में आया है। जहां के ग्रामीणों ने कोटेदार पर घटतौली करने और यूनिट से कम राशन देने का आरोप लगाया है। 


     आपको बता दें कि, ग्रामीण रवि सिंह पुत्र हरदेव सिंह निवासी पुरे झाऊ मजरे बिषइया ने जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव को दिए गए शिकायती पत्र में कहा है कि, उनके गांव का रामसहाय कोटेदार सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकान चलाता है। जोकि कार्ड धारकों के साथ घटतौली और यूनिट के मुताबिक राशन देता है। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। शिकायती पत्र में आगे कहा गया है कि, ग्राम सभा के व्यक्तियों द्वारा निर्धारित यूनिट पर कम राशन तौलने पर जब आपत्ति की जाती है, तो कोटेदार मारपीट व अमादा फौजदारी हो जाता है। दिए गए शिकायती पत्र में कहा गया है कि, कोटेदार एक दबंग किस्म का व्यक्ति है। जिसके ऊपर पहले से ही अपराधिक मुकदमा दर्ज है ऐसी स्थिति में इसे सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकान चलाने की अनुमति कहां से प्राप्त हुई है।रवि सिंह ने कोटेदार पर आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी को दिए गए शिकायती पत्र में कहा है कि, कोटेदार पात्र व्यक्तियों को पूरा राशन नहीं देता है। लॉकडाउन में सरकार द्वारा गरीबों को फ्री राशन दिया गया, परंतु उनके यहां के कोटेदार ने कार्ड धारकों को यूनिट से कम राशन दिया है।



   रवि सिंह की अगुवाई में सैकड़ों की संख्या में मौजूद ग्रामीणों ने जिला अधिकारी से आग्रह किया है कि, ग्राम सभा की सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकान का किसी अन्य विभाग के सक्षम अधिकारी द्वारा जांच कराई जाए ताकि दूध का दूध और पानी का पानी उच्चाधिकारियों के सामने आ सके और गरीबों को सरकार द्वारा दिया जा रहा हक, उन्हें पूरा मिल सके।

Comments

Popular posts from this blog

Bollywood Celebrities Phone Numbers | Actors, Actresses, Directors Personal Mobile Numbers & Whatsapp Numbers

जौनपुर: मुंगराबादशाहपुर के BJP चेयरमैन ने युवती के साथ कई महीने तक किया बलात्कार, देखें वायरल वीडियो

किन्नर बोले- अगर BJP से सरकार नहीं चल रही है तो हमें दे दे कुर्सी, हम सरकार चलाकर दिखा देंगे