धार्मिक नगरी डलमऊ के विकास में सरेनी विधायक का रहा महत्वपूर्ण योगदान।। Raebareli news ।।

  



शिवाकांत अवस्थी

डलमऊ/रायबरेली: डलमऊ आदर्श नगर पंचायत में सरेनी विधायक धीरेंद्र बहादुर सिंह ने जी तोड़ मेहनत कर विकास की योजनाएं लाने में कामयाब रहे।

     आपको बता दें कि, बीते 3 वर्षों में विधायक द्वारा नगर पंचायत डलमऊ में इंटरलाकिंग, सड़क, नाली व नाले का निर्माण कार्य, डामरीकरण सड़क सहित करोड़ों रुपए की योजनाओं को धरातल पर उतारने के साथ-साथ गुणवत्ता के अनुसार निर्माण कार्य भी कराया है। यहां तक की सैकड़ों वर्ष पुरानी डलमऊ नगर पंचायत को आदर्श नगर पंचायत घोषित कराया। इसके साथ ही डलमऊ में लगने वाले ऐतिहासिक कार्तिक पूर्णिमा मेले को प्रांतीय मेला घोषित कराने में भी कामयाब रहे हैं। सरेनी विधान सभा क्षेत्र के अंतर्गत दो नगर पंचायत आती है। जिनमें से सर्वप्रथम लालगंज नगर पंचायत, तथा दूसरी नगर पंचायत डलमऊ है। चुनाव के दौरान जनता से किए गए वादों को सरेनी विधायक पूरा करने में कामयाब रहे है। भाजपा सरकार में डलमऊ का सर्वाधिक विकास हुआ है।

     विदित हो कि, देखते ही देखते ऐतिहासिक धार्मिक नगरी का गौरव सरेनी विधायक द्वारा बढ़ाने में कामयाब रहे। अभी 2 माह पहले ही सरेनी विधायक के अथक प्रयास से डलमऊ का ऐतिहासिक कार्तिक पूर्णिमा मेला प्रांतीय मेला घोषित हुआ है। टेलिफोनिक संक्षिप्त वार्ता के दौरान इस संवाददाता से सरेनी विधायक धीरेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि, करीब 70 वर्षों से डलमऊ तहसील और नगर पंचायत विकास कार्यों में बहुत ही पिछड़ा माना जाता था। केंद्र और राज्य में भाजपा सरकार आने के बाद ऐतिहासिक धार्मिक नगरी में सबसे अधिक विकास हुआ है। डलमऊ प्राचीन काल से ही ऐतिहासिक धार्मिक नगरी है। जिससे पर्यटन स्थल घोषित कराना है। इसके लिए तैयारी की जा रही है। इस संबंध में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से आग्रह भी किया गया है। जल्द इस समस्या को निजात मिलेगी। उन्होंने आगे बताया कि, ऐतिहासिक धार्मिक नगरी को पर्यटन स्थल घोषित होने के बाद यहां पर रोजगार की रफ्तार दोगुनी हो जाएगी।   नवयुवकों एवं व्यापारियों के साथ-साथ विभिन्न वर्गों के लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

Post a Comment

0 Comments