जब खेतों तक नहरों का पानी ही नहीं पहुंचेगा, तो कैसे होगी किसान की आय दोगुनी साहब!।। Raebareli news ।।

  


शिवाकांत अवस्थी

महराजगंज/रायबरेली: क्षेत्र के शारदा सहायक खंड 41 हलोर अल्टिका सिल्ट से पटी पड़ी है। जिसके कारण नहर में पर्याप्त मात्रा में पानी ना आने से जमुरावा गांव के किसानों को धान की फसल को सिंचाई करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यहां अधिकारियों की उदासीनता के चलते क्षेत्र के किसानों ने एकजुट होकर चंदा के रूप में इकट्ठा किए गए पैसों से माइनर की सफाई करवा रहे हैं। जिससे सरकार के प्रति किसानों में खासा रोष देखने को मिला।


   आपको बता दें कि, जमुरावा तथा आसपास क्षेत्र के गांवों में किसानों की लगभग एक हजार बीघे धान की फसल बहुत बुरी तरह प्रभावित है। गाला में धान की फसल सूखते देख, किसान काफी परेशान है। किसानो ने कई बार इसकी सिकायत ब्लाक अस्तर से लेकर जिले तक के आलाधिकारियों से की, लेकिन किसानों को निराशा ही हाथ लगी। अपनी फसलों को सूखते देख किसानों में गुस्सा है। उनका कहना है कि, एक तरफ सरकार हमारी आय दोगुनी करने की बात कर रही है, तो वहीं दूसरी तरफ सिल्ट से पटी नहरों में पानी ना आने से किसानों की हरी-भरी फसलें सूख रही है। यदि किसानों के खेतों तक पानी नहीं पहुंच पाएगा, तो क्या किसानों की आय दोगुनी करना संभव है।


   इससे परेशान क्षेत्र के किसानों ने माइनर से सिंचाई करने वाले काश्तकारों के स्वेच्छा से चंदा इकट्ठा करके जेसीबी द्वारा माइनर की सफाई करवा रहे हैं। किसानों राम सुमिरन, जग प्रसाद, अतुल तिवारी, सच्चिदानंद त्रिपाठी, रामभरोसे आदि का कहना है कि, उन्होंने माइनर की सफाई को लेकर कई बार सिंचाई विभाग के अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन परिणाम सिफर रहा। जिससे आहत होकर क्षेत्र के लगभग 3 दर्जन किसानों ने स्वेच्छा से चंदा लगाकर खण्ड 41 माइनर की सफाई जेसीबी द्वारा करवा रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments